गौतमबुद्ध नगर में स्नातक के लिए केवल 35.27 फीसदी वोट पड़े, शिक्षकों का वोटिंग परसेंट रहा 50.11%, दादरी, बिसरख और कासना में भिड़े पोलिंग एजेंट

गौतमबुद्ध नगर में स्नातक के लिए केवल 35.27 फीसदी वोट पड़े, शिक्षकों का वोटिंग परसेंट रहा 50.11%, दादरी, बिसरख और कासना में भिड़े पोलिंग एजेंट

Tricity Today | Polling Booth

मेरठ-सहारनपुर शिक्षक और स्नातक विधान परिषद सीट के लिए मतदान संपन्न हो गया है। गौतमबुद्ध नगर में पोलिंग परसेंटेज बेहद कम रहा है। स्नातक के लिए तो केवल 35.27% मतदाताओं ने पोलिंग सेंटर का रुख किया है। शिक्षकों के वोट भी बमुश्किल आधे पड़ सके हैं। शिक्षक सीट के लिए मतदान का प्रतिशत 50.11% रहा है। ट्राईसिटी टुडे ने पहले ही दावा कर दिया था कि जिले में मत प्रतिशत कम रहेगा। दरअसल, राजनीतिक दल स्नातकों तक पहुंची नहीं पाए। दूसरी ओर शिक्षकों पर ही जोर आजमाइश होती रही। एक तरह से यह चुनाव ओम प्रकाश शर्मा का विरोध बनकर रह गया। जिसकी हायतौबा में स्नातक सीट पर ध्यान ही नहीं दिया गया।

 

दादरी, बिसरख और कासना के पोलिंग सेंटरों पर मतदान में धांधली का आरोप लगाते हुए नोकझोंक हुई हैं। समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी के नेताओं पर फर्जी मतदान कराने की कोशिश का आरोप लगाया है। गौतमबुद्ध नगर के 7 मतदान केंद्रों पर मंगलवार की सुबह 8:00 बजे वोटिंग शुरू हुई। सुबह से ही मतदान बेहद धीमा था। दोपहर 2:00 बजे तक मत प्रतिशत में कोई खास रुझान दर्ज नहीं किया गया। पूरे प्रदेश में मेरठ-सहारनपुर की शिक्षक और स्नातक सीट पर वोटिंग परसेंटेज सबसे कम दर्ज किया गया था। इस सीट के 9 जिलों में गौतमबुद्ध नगर सबसे पीछे चल रहा था। शाम 5:00 बजे मतदान समाप्त हो गया। गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी कार्यालय से जारी रिपोर्ट के मुताबिक स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 35.27% और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 50.11% वोट पड़े हैं। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश विधान परिषद की स्‍नातक और शिक्षक क्षेत्र से 11 सीटों के लिए मंगलवार को मतदान हुआ है। चुनाव का परिणाम तीन दिसंबर को घोषित किया जाएगा। शासन-प्रशासन ने चुनाव सकुशल संपन्‍न करवा लिया। 

दादरी में नगर पालिका का सभासद सपा के एजेंट ने पकड़ा, नगर पालिका अध्यक्ष से भी हुई तू तू मैं मैं

गौतमबुद्ध नगर जिले में दादरी कासना और बिसरख के मतदान केंद्रों पर पोलिंग एजेंट के बीच नोकझोंक हुई है। यहां भारतीय जनता पार्टी के नेताओं पर फर्जी वोटिंग कराने की कोशिश का आरोप समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी ने लगाया है। दादरी पोलिंग सेंटर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी के साथ वायरल हो रहा है। जिसमें दादरी नगर पालिका में नामित सभासद फर्जी वोटिंग करने की कोशिश करते हुए पकड़ा गया है। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता श्याम सिंह भाटी ने बताया कि दादरी नगर पालिका में नामित भारतीय जनता पार्टी का सभासद स्नातक वोट फर्जी ढंग से डालने की कोशिश करते हुए पकड़ा है। उसे पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को सौंपा गया है। 

श्याम सिंह भाटी का आरोप है कि बिसरख और कासना में भी भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फर्जी वोटिंग करने की कोशिश की है। बिसरख में मतदान केंद्र पर भाजपा कार्यकर्ताओं पर फर्जी वोटिंग करने की कोशिश का आरोप लगा है। समाजवादी पार्टी के हैप्पी शर्मा ने बताया कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने फर्जी वोट डालने की कोशिश की। उसे मौके पर ही पकड़ लिया गया। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने अभद्रता करने की कोशिश की है। कासना में अमीचंद इंटर कॉलेज के पोलिंग सेंटर पर भी इसी तरह का आरोप भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगा है। यहां दलित कार्यकर्ता सुनील गौतम ने कहा कि उसे जबरन कुछ भाजपा नेता पकड़ कर लाए और फर्जी वोट डालने के लिए कहने लगे। सुनील गौतम ने यह शिकायत पोलिंग सेंटर पर तैनात सुरक्षाकर्मियों और प्रशासनिक अधिकारियों से की। इसके बाद वहां हंगामा हो गया। समाजवादी पार्टी के नेताओं का कहना है कि भाजपा नेताओं ने फर्जी वोटिंग कराने की कोशिश की है।

गौतमबुद्ध नगर जिले में स्नातक सीट के लिए 17,497 वोटर हैं। इनमें 11,380 पुरुष और महिला वोटर 6,117 हैं। शिक्षक सीट के लिए 4,219 वोटर हैं। इनमें 2,283 पुरुष शिक्षक और 1,956 महिला शिक्षक वोटर हैं। इन मतदाताओं के लिए दादरी के जनता इंटर कॉलेज में मतदान केंद्र बनाया गया है। यहां स्नातक वोटरों के लिए चार बूथ और शिक्षकों के लिए एक बूथ बनाए गए हैं। एनटीपीसी विद्युत नगर में एक मतदान केंद्र है। यहां स्नातक वोटरों के लिए केवल एक बूथ रखा गया है। जिले का सबसे बड़ा मतदान केंद्र नोएडा सेक्टर-21 में स्टेडियम को बनाया गया है। इस मतदान केंद्र में स्नातक वोटरों के लिए 6 बूथ और शिक्षक वोटरों के लिए दो बूथ बनाए गए हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.