SPECIAL REPORT : यूपी में इस वक्त कुल संक्रमित लोगों में से 25 फीसदी एनसीआर के इन आठ जिलों में हैं, नोएडा और गाजियाबाद टॉप पर

Updated Nov 22, 2020 10:09:40 IST | Mayank Tawer

इस वक्त उत्तर प्रदेश में जितने लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, उनमें से एक चौथाई उत्तर प्रदेश के आठ जिलों में हैं, जो राष्ट्रीय...

SPECIAL REPORT : यूपी में इस वक्त कुल संक्रमित लोगों में से 25 फीसदी एनसीआर के इन आठ जिलों में हैं, नोएडा और गाजियाबाद टॉप पर
Photo Credit:  Google Image
प्रतीकात्मक फोटो

इस वक्त उत्तर प्रदेश में जितने लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, उनमें से एक चौथाई उत्तर प्रदेश के आठ जिलों में हैं, जो राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) का हिस्सा हैं। इनमें गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद भी शामिल हैं। पूरे राज्य में हुई मौतों में से लगभग 11 प्रतिशत मौतें इन्हीं जिलों में हुई हैं। बीमारी से जुड़ा यह आधिकारिक आंकड़ा है।

यूपी के गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, हापुड़, बुलंदशहर, मेरठ, मुजफ्फरनगर, बागपत और शामली जिले एनसीआर का हिस्सा हैं। यह राष्ट्रीय राजधानी से सटा एक व्यापक क्षेत्र है, जिसमें हरियाणा, राजस्थान और पूरी दिल्ली के जिले भी शामिल हैं। शुक्रवार तक कोविड-19 से जुड़े और अपडेट किए गए यूपी के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार राज्य में कुल 5,21,988 सीओवीआईडी​​-19 मामले थे। जबकि सक्रिय मामलों की संख्या 23,357 थी। जिनमें से 5,863 (25.10 प्रतिशत) एनसीआर के इन्हीं जिलों में थे।

इन आठ जिलों में सबसे अधिक मेरठ में 2,102 सक्रिय मामले हैं। उसके बाद गौतमबुद्ध नगर में 1,401, गाजियाबाद में 1,195, मुजफ्फरनगर में 431, बुलंदशहर में 304, शामली में 168, हापुड़ में 167 और बागपत जिले में 149 मरीज हैं। राज्य ने अब तक COVID-19 से जुड़ी 7,500 मौतें दर्ज की गई हैं, जिनमें से 819 (10.92 प्रतिशत) एनसीआर के इन 8 जिलों में दर्ज की गई हैं।

अब अगर कोरोना की वजह से हुई मौतों के बारे में बात करें तो सबसे अधिक संख्या मेरठ में है। मेरठ में अब तक 375 मौत दर्ज की गई हैं। इसके बाद गाजियाबाद में 89, मुजफ्फरनगर में 85, बुलंदशहर में 80, गौतमबुद्ध नगर में 74, हापुड़ में 62, शामली में 28 और बागपत में 26 मरीजों की मौत हो चुकी हैं।

देश में सबसे अधिक आबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश है। यूपी में 75 जिले हैं। जिनमें आबादी और क्षेत्रफल के हिसाब से लखनऊ, कानपुर, इलाहाबाद, वाराणसी, आगरा, गोरखपुर और बरेली जैसे प्रमुख जिले हैं। एनसीआर प्लानिंग बोर्ड के अनुसार, एनसीआर पूरी तरह से तीन राज्यों हरियाणा, यूपी और राजस्थान के 23 जिलों और दिल्ली के सभी जिलों को मिलाकर 55,083 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में फैला हुआ है। 

हर 24 घंटे में अपडेट किए जाने वाले आंकड़ों से यह भी पता चला है कि अब तक उत्तर प्रदेश में 4,91,131 COVID-19 मरीज इस बीमारी से उबर चुके हैं। इनमें से 73,046 (14.87 प्रतिशत) मरीज एनसीआर के इन आठ जिलों में ठीक हुए हैं। शुक्रवार तक, गाजियाबाद जिले में सबसे ज्यादा 20,026 मरीज रिकवर हुए हैं। जिसके बाद गौतमबुद्ध नगर में 19,691, मेरठ में 14,408, मुजफ्फरनगर में 6,140, बुलंदशहर में 4,786, हापुड़ में 3,445, शामली में 3,445 मरीज स्वस्थ किए जा चुके हैं। बागपत में 1,652 मरीज ठीक हो गए हैं।

रोजाना राज्य सरकार को ओर से जारी होने वाले इस आधिकारिक डेटा में नमूनों के परीक्षण से जुडी कोई संख्या साझा नहीं की जाती है। केंद्र सरकार के आंकड़ों के मुताबिक देश में सीओवीआईडी​​-19 के 4,39,747 सक्रिय मामले हैं। जबकि 84,78,124 मरीजों की छुट्टी की जा चुकी है और कुल मिलाकर 1,32,726 मौतें हुई हैं। देश में कोरोना वायरस के मामलों की कुल संख्या 90,50,597 है, जो शनिवार को सुबह 8 बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार है।

Ghaziabad News, Ghaziabad COVID-19 Update

Trending

नोएडा
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
उत्तर प्रदेश
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
ग्रेटर नोएडा
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
ग्रेटर नोएडा
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
यमुना सिटी
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका