उत्तर प्रदेश में भाजपा लोकसभा और विधानसभा से ज्यादा ताकत पंचायत चुनाव में झोंकेगी, यह है पार्टी की रणनीति

उत्तर प्रदेश में भाजपा लोकसभा और विधानसभा से ज्यादा ताकत पंचायत चुनाव में झोंकेगी, यह है पार्टी की रणनीति

Google Image | प्रतीकात्मक फोटो

भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में आसन्न पंचायत चुनाव पूरे दमखम के साथ लड़ने की योजना तैयार कर ली है। पार्टी का मानना है कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव से भी कहीं ज्यादा ताकत के साथ राज्य में पंचायत चुनाव लड़ना है। भारतीय जनता पार्टी ने रणनीति तैयार की है कि ग्राम पंचायत सदस्य से लेकर ग्राम प्रधान, ब्लाक प्रमुख और जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में अपने उम्मीदवार खड़े करने हैं। पार्टी उम्मीदवारों को जिताने के लिए यूपी के मुख्यमंत्री से लेकर मंत्रियों, विधायकों और सांसदों का पूरा सहयोग लेगी। दरअसल, पार्टी के थिंकटैंक का मानना है कि अगर पंचायत चुनाव में ग्राम स्तर तक जनप्रतिनिधि खड़े हो गए तो ठीक एक साल बाद यूपी के विधानसभा चुनाव को जीतना बेहद आसान हो जाएगा।

लिहाजा, इस आने वाले पंचायत चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) तैयारी में जुट गई है। पार्टी के राज्य मुख्यालय पर सोमवार को एक उच्चस्तरीय बैठक आयोजित की गई है। जिसमें प्रदेश के शीर्ष नेताओं ने रणनीति तैयार की। भाजपा के प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने बताया कि आगामी 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक जिला स्तर पर पंचायत चुनाव के निमित्त बैठकें होंगी। भाजपा द्वारा सोमवार को जारी बयान के मुताबिक पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह व प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने पंचायत चुनाव के मद्देनज़र पिछले कार्यों की समीक्षा की और सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया कि राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा तैयार की जा रही मतदाता सूची में सहयोग करें।

सबसे पहले भाजपा वोटर लिस्ट बनाने में प्रशासन की मदद करेगी

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने पंचायत चुनाव बैठक में कहा, ''सभी को मतदाता सूची के काम में जुटना है। मतदाता सूची सर्वस्पर्शी हो इसकी चिंता हम सभी को करनी है ताकि कोई भी व्यक्ति मताधिकार से वंचित न रहे। पार्टी सतत प्रवास व संवाद के द्वारा गांव, चौपाल, मजरों तक पहुंचेगी। उन्होंने कहा,'' आगामी दिनों में ब्लाक स्तर तक पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठकों में पंचायत चुनाव की रणनीति को धरातल पर उतारने का काम होगा। 

भाजपा का कार्यकर्ता जब पंचायत में होगा तो जमीन तक बात जाएगी

भाजपा के प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने कहा, ''भाजपा का कार्यकर्ता जब पंचायत चुनाव में निर्वाचित होगा तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की केन्द्र सरकार व योगी आदित्‍यनाथ के नेतृत्व की प्रदेश भाजपा सरकार के निर्णयों, नीतियों तथा जन कल्याणकारी योजनाओं से गांव का विकास और भी अधिक हो सकेगा। पार्टी पंचायत चुनाव लडे़गी, इसके लिए ज़मीनी कार्य प्रारंभ करना है। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं की शक्ति व सहभागिता से संगठन योजना के अनुसार चुनाव में निश्चित सफलता प्राप्त करेगा। प्रदेश उपाध्यक्ष व पंचायत चुनाव के प्रदेश संयोजक विजय बहादुर पाठक ने विगत दिनों प्रदेश की 18 कमिश्नरी मुख्यालयों पर पंचायत चुनाव को लेकर हुई बैठकों का लेखाजोखा प्रस्तुत किया। 

25 अक्टूबर से पहले सभी ब्लॉक मुख्यालय पर योजना बनेगी 

उन्होंने बताया कि 25 अक्टूबर से पूर्व सभी ब्लॉक मुख्यालय पर बैठकें आयोजित कर आगामी कार्ययोजना पर चर्चा होगी। बैठक में प्रदेश सरकार के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, ब्रजेश पाठक, भूपेन्द्र चौधरी, रमा शंकर सिंह पटेल तथा,भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष दया शंकर सिंह, प्रकाश पाल, प्रदेश मंत्री संजय राय, सुभाष यदुवंश सहित पंचायत चुनाव के क्षेत्रीय संयोजक भी उपस्थित रहे।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.