GOOD NEWS : जेवर एयरपोर्ट आधुनिक तकनीक से बनेगा, लोगों के लिए होगी सस्ती यात्रा

Updated Oct 09, 2020 07:58:31 IST | Anika Gupta

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर से यात्रा करने वाले लोग सस्ते सफर का लुत्फ ले सकेंगे। आधुनिक तकनीक से बनने के कारण इसमें लागत...

GOOD NEWS : जेवर एयरपोर्ट आधुनिक तकनीक से बनेगा, लोगों के लिए होगी सस्ती यात्रा
Photo Credit:  Google Image
जेवर एयरपोर्ट आधुनिक तकनीक से बनेगा, लोगों के लिए होगी सस्ती यात्रा

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर से यात्रा करने वाले लोग सस्ते सफर का लुत्फ ले सकेंगे। आधुनिक तकनीक से बनने के कारण इसमें लागत कम आएगी। इससे उपभोक्ता विकास शुल्क (यूजर डेवलपमेंट फी) कम लिया जाएगा। इसका सीधा फायदा यात्रियों को मिलेगा।

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (नियाल) के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि जेवर एयरपोर्ट आधुनिक तकनीक से बनेगा। नई तकनीक से बनने से इसकी लागत कम आएगी। साथ ही इस एयरपोर्ट से सफर को और आरामदायक बनाने की तैयारी है। यात्रा करने वालों से एयरपोर्ट प्रबंधन उपभोक्ता विकास शुल्क लेता है। यह शुल्क एयरपोर्ट लागत के हिसाब से प्रति यात्री तय किया जाता है। एयरपोर्ट दरें प्रस्तावित करके एयरपोर्ट इकोनॉमिक रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया से पास कराता है। इसे बाद टिकट के साथ यह शुल्क लिया जाता है। हर एयरपोर्ट में यह शुल्क अलग-अलग होता है।

टीईएफआर में 400 रुपये है इस शुल्क का अनुमान
नियाल के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि औसतन एयरपोर्ट घरेलू के लिए 300 से 500 और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए 800 से 1500 रुपये तक उपभोक्ता विकास शुल्क लेते हैं। सीईओ ने बताया कि जेवर एयरपोर्ट के टेक्निकल इकोनॉमिक फिजिबिलिटी रिपोर्ट (टीईएफआर) में प्रति यात्री शुल्क करीब 400 रुपये उपभोक्ता विकास शुल्क लेने की बात कही गई है। हालांकि इस दर में उतार चढ़ाव हो सकता है। यह अन्य एयरपोर्ट से सस्ता होगा।

देश के एयरपोर्ट में इस तरह लेते हैं शुल्क
वर्ष 2016 में मुंबई एयरपोर्ट पर अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर यह शुल्क 548 रुपये प्रति यात्री था। जबकि घरेलू पर 274 रुपये लिए गए थे। हैदराबाद एयरपोर्ट में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर 1700 रुपये व घरेलू पर 430 रुपये, बेंगलुरु में अंतरराष्ट्ररीय उड़ानों पर 1226 रुपये व घरेलू उड़ानों पर 306 रुपये, चेन्नई में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में 667 और घरेलू उड़ानों में 166 और लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर उपभोक्ता विकास शुल्क 1224 रुपये और घरेलू पर 392 रुपये लिए जाते थे।

लीज रेंट से भी भरेगा कोष
नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर सरकार व जनपद के तीनों प्राधिकरणों को मालामाल करेगा। प्रति यात्री शुल्क तो मिलेगा ही लीज रेंट भी हर साल मिलेगी। नियाल के सीईओ डॉ. अरुणीवीर सिंह के मुताबिक, हर साल करीब 200 करोड़ रुपये से अधिक लीज रेंट मिलेगा।

Jewar Airport, Noida International Airport, Yamuna City, Yamuna Authority