BREAKING: नोएडा और ग्रेटर नोएडा में रिकॉर्ड तोड़ हुई कंटेनमेंट जोन की संख्या, देखिए पूरी लिस्ट

Updated Jul 16, 2020 07:38:05 IST | Anika Gupta

गौतमबुद्ध नगर में जून और जुलाई महीनों के दौरान रोजाना बड़ी संख्या में संक्रमण का शिकार होकर नए मरीज सामने...

BREAKING: नोएडा और ग्रेटर नोएडा में रिकॉर्ड तोड़ हुई कंटेनमेंट जोन की संख्या, देखिए पूरी लिस्ट
Photo Credit:  Tricity Today
प्रतीकात्मक फोटो
Key Highlights
गौतम बुध नगर में श्रेणी एक के कंटेनमेंट जोन की संख्या अब 305 है
श्रेणी दो के कंटेनमेंट जोन की संख्या 34 है, यहां एक से अधिक मरीज हैं
करीब 10 दिन बाद स्वास्थ्य विभाग ने कंटेनमेंट जोन की नई लिस्ट जारी की
तेजी से मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़ी

गौतमबुद्ध नगर में जून और जुलाई महीनों के दौरान रोजाना बड़ी संख्या में संक्रमण का शिकार होकर नए मरीज सामने आ रहे हैं। जिसके परिणाम स्वरूप नोएडा और ग्रेटर नोएडा के शहरी क्षेत्रों के साथ-साथ कस्बों और गांवों में भी मरीज बढ़े हैं। जिले में रैपिड टेस्ट कैंप लगने के बाद रोजाना बड़ी संख्या में मरीजों की पहचान की जा रही है। ऐसे में कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़कर अब तक की सबसे ज्यादा हो गई है।

बुधवार की देर रात स्वास्थ्य विभाग की ओर से कंटेनमेंट जोन की नई लिस्ट जारी की गई है। करीब 10 दिन बाद नई लिस्ट स्वास्थ्य विभाग ने जारी की है। लिस्ट में 339 कंटेनमेंट जोन शामिल किए गए हैं। इनमें से 305 कंटेनमेंट जोन श्रेणी एक में हैं। मतलब इन आवासीय परिक्षेत्रों में संक्रमित मरीजों की संख्या केवल एक है। दूसरी श्रेणी में कंटेनमेंट जोन की संख्या 34 है। इन आवासीय क्षेत्रों में एक से अधिक मरीजों के निवास स्थान हैं।

कंटेनमेंट जोन के नए मानकों के मुताबिक अब किसी हाउसिंग सोसाइटी में एक मरीज मिलने पर सोसायटी के उस टावर को सील कर दिया जाता है, जिसमें संक्रमित मरीज का फ्लैट है। अगर सोसाइटी के एक से अधिक टावर में संक्रमित मरीज मिलते हैं तो उन सभी टावरों को सील करने के साथ-साथ सामुदायिक उपयोग के क्षेत्रों को भी सील किया जा रहा है। दूसरी ओर सेक्टरों, कस्बों और गांवों में किसी आवासीय परिक्षेत्र में एक मरीज मिलने पर ढाई सौ मीटर के दायरे में सीलिंग की जा रही है। एक से अधिक मरीज मिलने पर कंटेनमेंट जोन का दायरा 500 मीटर होता है।

आपको बता दें कि बुधवार को एक बार फिर कोरोना वायरस ने गौतमबुद्ध नगर में पलटवार किया है। बुधवार को जिले में 112 नए लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसके बाद जिले में अब तक इस महामारी की चपेट में आने वाले लोगों की संख्या 3719 हो चुकी है। वहीं, अब तक नोएडा, ग्रेटर नोएडा, दादरी, जेवर और दनकौर में 35 लोग संक्रमण के कारण मर चुके हैं।

उत्तर प्रदेश के स्टेट सर्विलांस ऑफिसर ने बुधवार की शाम कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़े ताजा आंकड़े जारी की हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि गौतमबुद्ध नगर में पिछले 24 घंटों के दौरान 112 लोग और संक्रमण की चपेट में आए हैं। दूसरी ओर बुधवार को जिले में 83 लोग स्वस्थ होने के बाद कोविड-19 अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिए गए हैं। अब जिले के 6 कोविड-19 अस्पतालों में 873 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। अब तक 2811 मरीज इस महामारी से निजात पा चुके हैं।

अब तक कुल मरीजों की संख्या के मामले में गौतम बुद्ध नगर उत्तर प्रदेश में पहले स्थान पर बना है। दूसरा नंबर गाजियाबाद का है। गौतम बुद्ध नगर में 3719 मरीज होने के बावजूद मृत्यु दर बाकी जिलों के मुकाबले कम है। रिकवरी रेट अच्छा है। यही वजह है कि इतनी बड़ी संख्या में मरीज होने के बावजूद जिले के हालात सामान्य बने हुए हैं।

अगर पूरे राज्य की बात करें तो बुधवार को उत्तर प्रदेश में 1685 मरीज रिपोर्ट किए गए हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान यूपी के 763 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है। अभी उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में 14628 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। पिछले 24 घंटे के दौरान पूरे उत्तर प्रदेश में 29 लोगों की मौत हुई है। अब तक राज्य में 1012 लोग महामारी की चपेट में आने के कारण मरे हैं। अब तक 25743 मरीज यूपी के तमाम जिलों में स्वस्थ हो चुके हैं।

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में कंटेनमेंट जोन की लिस्ट (साइज बड़ा होने के कारण पूरी लिस्ट खोलने में थोड़ा समय लग सकता है। कृपया कुछ सेकंड इंतजार करें)

 

Containment zones in Noida, Containment zones list in Greater Noida, Full list of containment zones in Noida, Noida, Noida News, Greater Noida, Greater Noida News, DM Noida, Coronavirus in Noida, Coronavirus in India, Coronavirus in UP, Coronavirus India, COVID-19 Update

Trending

नोएडा
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
उत्तर प्रदेश
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
ग्रेटर नोएडा
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
ग्रेटर नोएडा
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
यमुना सिटी
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका

Most Viewed

ग्रेटर नोएडा वेस्ट
BIG NEWS : सुपरटेक और अजनारा समेत आठ बिल्डरों के 30 बैंक खाते कुर्क, 70 बिल्डरों से 150 करोड़ और वसूलेगा गौतमबुद्ध नगर प्रशासन
BIG NEWS : सुपरटेक और अजनारा समेत आठ बिल्डरों के 30 बैंक खाते कुर्क, 70 बिल्डरों से 150 करोड़ और वसूलेगा गौतमबुद्ध नगर प्रशासन
ग्रेटर नोएडा वेस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों के लिए बड़ी खबर, 65 करोड़ रुपये का तोहफा मिलेगा, पूरी जानकारी
ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों के लिए बड़ी खबर, 65 करोड़ रुपये का तोहफा मिलेगा, पूरी जानकारी
यमुना सिटी
फिल्म सिटी का खाका खींचने के लिए 18 नवंबर को होगा मंथन, देश-दुनिया के विशेषज्ञ जुटेंगे
फिल्म सिटी का खाका खींचने के लिए 18 नवंबर को होगा मंथन, देश-दुनिया के विशेषज्ञ जुटेंगे
यमुना सिटी
BIG BREAKING : यमुना प्राधिकरण के 96 गांवों के लिए खुशखबरी, जमीन का मुआवजा बढ़ाने का ऐलान, एक लाख किसानों को मिलेगा लाभ, गावों की पूरी लिस्ट
BIG BREAKING : यमुना प्राधिकरण के 96 गांवों के लिए खुशखबरी, जमीन का मुआवजा बढ़ाने का ऐलान, एक लाख किसानों को मिलेगा लाभ, गावों की पूरी लिस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा, ऊपर से मेट्रो और नीचे से गुजरेंगी
ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा, ऊपर से मेट्रो और नीचे से गुजरेंगी