नोएडा में 7 नए सेक्टर बसा रहा प्राधिकरण, रहने के लिए मिलेंगे घर और बढ़ेगा रोजगार, जानिए क्या खासियत होंगी

नोएडा में 7 नए सेक्टर बसा रहा प्राधिकरण, रहने के लिए मिलेंगे घर और बढ़ेगा रोजगार, जानिए क्या खासियत होंगी

Google Image | Ritu Maheshwari IAS

नोएडा विकास प्राधिकरण शहर में 7 नए सेक्टर बसा रहा है। इनमें आवासीय, औद्योगिक और मिश्रित उपयोग वाले सेक्टर हैं। शुक्रवार को प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु माहेश्वरी ने शुक्रवार को काम की समीक्षा की। सीईओ ने कहा कि सभी जल और भूलेख विभाग से समन्वय करते हुए जल्द काम पूरा किया जाए। इन नए सेक्टरों में लोगों को रहने के लिए घर मिलेंगे और रोजगार के अवसर मिलेंगे।

प्राधिकरण शहर में सात नए सेक्टर 145, 151, 155, 156, 157, 163 और 166 बसा रहा है। जिनके काम की समीक्षा खुद सीईओ ऋतु माहेश्वरी कर रही हैं। समीक्षा के दौरान सीईओ को अफसरों ने जानकरी दी कि सेक्टर 145 में किसानों को पांच फीसद आबादी भूखंड दिए गए हैं। इस सेक्टर सड़क का कार्य शुरू कर दिया गया है। सीईओ ने सेक्टर 151 का दिसंबर तक विकास करने के निर्देश दिए। इस सेक्टर में अभी सड़कें व अन्य काम नाममात्र को हुए हैं। जिन सेक्टरों में भूमि अधिग्रहण में बाधाएं आ रही हैं, उनको जिला प्रशासन से समन्वय कर जल्द पूरा किया जाए। 

सेक्टर-94 हेबिटेट सेंटर के निर्माण के लिए जारी टेंडर में भाग लेने वाली कंपनियों के दस्तावेजों की जांच हो गई है। यह जानकारी सीईओ को समीक्षा बैठक में दी गई है। साथ ही बताया कि बिजली से संबधित कार्य का भी टेंडर जल्द प्रकाशित किया जाएगा। गोल्फ कोर्स के टेंडर में प्रतिभागी सात निविदाकारों की जल्द प्राइस बिड खोली जाएगी। मंगलवार तक बिजली कार्यों के टेंडर भी प्रकाशित किए जाएंगे। इन दोनों परियोजनाओं का काम इस माह के अंत तक शुरू करने के निर्देश दिए।

पर्थला चौक पर बनने वाले फ्लाईओवर के टेंडर में प्राप्त न्यूनतम निविदाकार की दरें अधिक होने के कारण टेंडर को निरस्त कर दोबारा टेंडर जारी करने का निर्णय लिया गया है। फेज-2 में प्रस्तावित स्टार्टअप हब के बिजली कार्यों के टेंडर 25 अक्टूबर तक प्रकाशित करने निर्देश दिए। बैठक में शहर में चल रहे दो एलिवेटेड रोड व सभी अंडरपास के काम की समीक्षा कर तय समय में पूरा करने के निर्देश दिए गए।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.