सोमवार से नोएडा-ग्रेनो मेट्रो की करनी है सवारी तो इन 5 नियमों का पालन जरूरी

सोमवार से नोएडा-ग्रेनो मेट्रो की करनी है सवारी तो इन 5 नियमों का पालन जरूरी

Google Image | प्रतीकात्मक फोटो

सात सितंबर (सोमवार) से नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो चलाने के लिए शनिवार यानि आज और कल (रविवार) नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (NMRC) पूरी तैयारियों में जुटा रहेगा। आज दिनभर तैयारियों में पूरे रूट की गहनता से जांच होगी। चीफ ऑपरेटिंग ऑफीसर समेत अन्य टेक्निकल अफसर ट्रॉली पर बैठकर पूरे रूट का जायजा लेंगे। पांच स्टेशन पर उतकर व्यवस्था भी देखेंगे। इसके बाद रविवार को पूरे दिन ट्रायल होगा। लेकिन अगर आप सोमवार से नोएडा और ग्रेटर नोएडा के बीच मेट्रो की सवारी करना चाहते हैं तो 5 नियमों का पालन करना लाजिमी होगा।

एनएमआरसी के अधिकारियों ने बताया कि पहले शनिवार को चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर आरके सक्सेना और अन्य अधिकारी ट्राली में बैठकर पूरे रूट का निरीक्षण करेंगे। निरीक्षण का काम सुबह साढ़े नौ बजे ग्रेटर नोएडा डिपो स्टेशन से शुरू होगा, जो दोपहर तक चलेगा। इस दौरान मॉक ड्रिल भी होगी। निरीक्षण के दौरान लाइन, सिग्नलिंग और ट्रेन मूवमेंट समेत हर चीज की गहनता से जांच होगी। दोपहर बाद कुछ ट्रायल होगा, लेकिन रविवार को पूरे दिन सुबह-शाम मेट्रो चलाकर देखी जाएगी। अभी स्टेशनों तक पहुंचने के लिए एनएमआरसी की ओर से बस या ई-रिक्शा की सुविधा नहीं दी जाएगी।

यात्रियों को इन नियमों का पालन करना पड़ेगा

  1. आरोग्य सेतु एप नहीं तब भी मिलेगा प्रवेश : मेट्रो में सवारी करने के लिए सभी यात्रियों को अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु एप रखना होगा। लेकिन अगर किसी के फोन में आरोग्य सेतु मोबाइल एप नहीं है तब भी उसको प्रवेश दिया जाएगा। ऐसे यात्री की थर्मल स्क्रीनिंग में तामपान सही मिलना चाहिए। मास्क लगा हुआ हो और स्वस्थ नजर आया तो यात्रा करने दी जाएगी। लेकिन कोरोना संदिग्ध को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। 
  2. मास्क घर भूले तो स्टेशन पर खरीदना होगा : एकबारगी आरोग्य सेतु ऐप मोबाइल फोन में नहीं होने पर मेट्रो की सवारी करने की इजाजत मिल जाएगी, लेकिन अगर मास्क लगाकर नहीं पहुंचे तो किसी भी सूरत में मेट्रो की सवारी करने की इजाजत नहीं मिलेगी। हालांकि, इसके लिए नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने भुलक्कड़ यात्रियों को सुविधा दे दी है। ऐसे लोगों को 10 रुपये में मेट्रो स्टेशन पर माल खरीद कर यात्रा करनी होगी।
  3. जरूरी होने पर लिफ्ट में सिर्फ तीन लोग सवार होंगे : वैसे तो एक्वा लाइन के सभी स्टेशनों पर लिफ्ट बंद रहेंगी। बुजुर्ग और दिव्यांग जनों को अनुमति दी जा सकती है, लेकिन लिफ्ट में एक बार में सिर्फ तीन लोगों को जाने की इजाजत होगी। 
  4. खाली सीट के सामने केवल तय स्थान पर खड़े हो सकते हैं : मेट्रो कोच में खाली सीट के सामने लोग खड़े हो सकते हैं। इसके लिए कोच के अंदर निशान बना दिए गए हैं। सभी जगह स्टिकर चिपका दिए गए हैं। दरअसल, दो यात्रियों के बीच में एक खाली सीट रखी जाएगी। इस खाली सीट के सामने लोगों को खड़े होकर यात्रा करने की इजाजत मिलेगी।
  5. अभी पार्किंग सुविधा नहीं मिलेगी, निजी वाहन लेकर नहीं जाएं : सोमवार से स्टेशनों पर पार्किंग की सुविधा नहीं मिलेगी, लेकिन बाद में अधिक राइडरशिप वाले सात स्टेशनों पर धीरे-धीरे पार्किंग की सुविधा मुहैया कराई जाएगी। इनमें सेक्टर-51, 76, 137, 142, अल्फा वन, डेल्टा वन और नॉलेज पार्क-2 का स्टेशन शामिल हैं।

30 सेकेंड से अधिक समय रूक सकती है मेट्रो

हर स्टेशन पर 30 सेकेंड तक मेट्रो रूकेगी। जरूरत पड़ने पर इससे अधिक समय भी तक मेट्रो रोकी जा सकती है। कोरोना से पहले 20 सेकेंड तक रूकती थी।

नियमों का पालन करवाने के लिए टीम तैयार

सभी नियमों का पालन कराने के लिए एनएमआरसी की ओर से कर्मचारियों की पूरी टीम तैयार कर ली गई है। जो सवारी के स्टेशन में प्रवेश से लेकर उसकी निकासी तक की व्यवस्था पर पूरी नजर रखेंगे।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.