नोएडा में गंदगी और प्रदूषण फैलाने वालों की खैर नहीं, प्राधिकरण ने बड़े कदम उठाए, जानिए

नोएडा में गंदगी और प्रदूषण फैलाने वालों की खैर नहीं, प्राधिकरण ने बड़े कदम उठाए, जानिए

Tricity Today | Ritu Maheshwari IAS

नोएडा शहर में गंदगी और प्रदूषण फैलाने वालों की अब खैर नहीं है। नोएडा विकास प्राधिकरण (Noida Authority) की मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु महेश्वरी ने तमाम अफसरों को शहर में प्रदूषण और गंदगी रोकने के लिए आदेश दिए हैं। इसी सिलसिले में प्रदूषण फैलाने वालों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के तहत गुरुवार को प्राधिकरण ने विभिन्न मामलों में 12.85 लाख रुपये का जुर्माना किया। सबसे अधिक दस लाख रुपये का जुर्माना वर्क सर्किल नौ में किया गया है।

विकास प्राधिकरण से मिली जानकारी के मुताबिक वर्क सर्किल-9 में चल रहे निर्माण कार्य में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (Narional Green Tribunal) के नियमों का उल्लंघन किया जा रहा था। इसके अलावा वर्क सर्किल एक में 10 हजार रुपये, वर्क सर्किल तीन में 90 हजार रुपये, वर्क सर्किल 4 में 5 हजार रुपये, वर्क सर्किल पांच में 10 हजार रुपये, वर्क सर्किल छह में 50 हजार रुपये, वर्क सर्किल आठ में 50 हजार रुपये, वर्क सर्किल दस में 60 हजार रुपये का अर्थ दंड निर्माण कार्य में लापरवाही बरत रहे लोगों पर लगाया गया है। दूसरी ओर जनस्वास्थ्य विभाग ने सेक्टर-50 में गंदगी बाहर फेंकने पर एक दुकानदार पर 2 हजार रुपये और प्रतिबंधित पॉलिथिन का प्रयोग करने पर नौ दुकानदारों पर आठ हजार रुपये का अर्थ दंड लगाया है। 

शहर की 113 किलोमीटर सड़कों पर किया गया पानी का छिड़काव

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेश पर शहर में प्रदूषण कम करने के लिए विकास प्राधिकरण व्यापक अभियान चला रहा है। इसके तहत 65 टैंकरों के माध्यम से 112.73 किमी लंबाई में सड़कों पर पानी का छिड़काव किया गया है। 390 टन सीएंडडी मलबे का उठान किया गया है। उसे निस्तारण के लिए सेक्टर-80 में स्थित सीएंडडी प्रोसेसिंग प्लांट पर पहुंचाया गया है। 67 मार्गों पर 243 किमी लंबाई में मैकेनिकल स्वीपिंग मशीनों से सफाई की गई है। 55 किमी लंबी सड़कों और फुटपाथो की धुलाई की गई है।

नोएडा की मुख्य कार्यपालक अधिकारी (Chief Executive Officer) ऋतु माहेश्वरी ने बताया कि हम दो रे मोर्चे पर काम कर रहे हैं। एक और शहर में प्रदूषण फैलाने वालों पर लगाम लगाई जा रही है। दूसरी ओर गंदगी से निपटने के तमाम उपाय किए जा रहे हैं। चालू वर्ष में हमें स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहर को और बेहतर रैंकिंग दिलानी है। जिसके लिए व्यापक स्तर पर जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं। लोगों को कूड़ा निस्तारण करने की विधियां सिखाई और समझाई जा रही हैं। शहर में कूड़ा निस्तारण से जुड़े संयंत्र दिन-रात काम कर रहे हैं। प्राधिकरण के सभी विभाग गंदगी और प्रदूषण से निपटने के लिए बड़ी मुहिम छेड़े हुए हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.