सावधान! कहीं आपको भी वेहिकल चालान का फर्जी एसएमएस तो नहीं मिला, नोएडा के युवक ने 20 हजार लोगों से करोड़ों ठगे

सावधान! कहीं आपको भी वेहिकल चालान का फर्जी एसएमएस तो नहीं मिला, नोएडा के युवक ने 20 हजार लोगों से करोड़ों ठगे

सावधान! कहीं आपको भी वेहिकल चालान का फर्जी एसएमएस तो नहीं मिला, नोएडा के युवक ने 20 हजार लोगों से करोड़ों ठगे

Tricity Today | प्रतीकात्मक फोटो

सावधान! कहीं आपको भी वेहिकल चालान का फर्जी एसएमएस तो नहीं मिला, नोएडा के युवक ने 20 हजार लोगों से करोड़ों ठगे
नोएडा के सेक्टर-40 में रहने वाले युवक ने परिवहन विभाग की जाली वेबसाइट तैयार की gangaपहले इंश्योरेंस कंपनी में काम करता था, वहां से डाटा चोरी कर एसएमएस भेजेgangaएसएमएस में लोगों को जाली वेबसाइट का यूआरएल भेजकर भुगतान करने को कहा gangaकरीब 20 हजार लोगों ने अपने वेहिकल का चालान समझकर पैसा जमा कर दियाgangaसाइबर सेल ने युवक के बैंक खाते से 80 लाख रुपए जब्त किए हैं, अकाउंट फ्रीज किया गया

गौतमबुद्ध नगर की साइबर सेल ने एक ऐसे युवक को गिरफ्तार किया है, जो उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग की फर्जी वेबसाइट चलाकर लोगों से चालान के नाम पर ठगी कर रहा था। फर्जी चालान वेबसाइट के जरिए अब तक करीब 20 हजार लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी कर चुका है। युवक पहले इंश्योरेंस कंपनी में नौकरी करता था। वहीं से डाटा चोरी करके एकसाथ लोगों को फर्जी चलाना के एसएमएस भेजे थे।

साइबर क्राइम सेल से मिली जानकारी के मुताबिक युवक एक इंश्योरेंस कंपनी में काम करता था। वहां से उसने लोगों का लाखों लोगों का डाटा चोरी किया। उन्हें एक साथ मोबाइल नंबरों पर एसएमएस भेजे। लोगों को एसएमएस भेजकर बताया कि उनके वाहन का चालान किया गया है। वह चालान की राशि ऑनलाइन जमा कर सकते हैं। बल्क एसएमएस में चालान राशि जमा करने के लिए परिवहन विभाग की फर्जी वेबसाइट का यूआरएल भी होता था।

लोग एसएमएस को असली समझकर चालान राशि फर्जी वेबसाइट पर जमा कर रहे थे। पुलिस जांच में आरोपित के खाते में 80 लाख रुपये मिले हैं। उसने यह पैसा ठगी करके कमाया है। पुलिस ने आरोपित के खाते में मिली रकम फ्रीज कर दी है। पुलिस का कहना है कि इस ठग ने उत्तर प्रदेश समेत आसपास के राज्यों में भी लोगों को शिकार बनाया है। अब तक कितने लोगों से फर्जी चालान के जरिए धनराशि ठगी है, इसका डाटा तैयार किया जा रहा है।
 
ग्रेटर नोएडा के डीसीपी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि चालान वेबसाइट बनाकर लोगों से ठगी करने की शिकायत के आधार पर युवक को गिरफ्तार किया गया है। युवक की पहचान रजत कुच्छल के रूप में हुई है। वह नोएडा के सेक्टर 40 का निवासी है। नॉलेज पार्क पुलिस स्टेशन और साइबर सेल के इंस्पेक्टर बलजीत सिंह की टीम ने मामले की जांच की तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। 

इस वेबसाइट से आए एसएमएस से सावधान रहें

डीसीपी ने बताया कि आरोपित ने गो डैडी से echallanparivahan.in के नाम से डोमेन रजिस्टर्ड किया। इस डोमेन पर फर्जी वेबसाइट को असली सरकारी वेबसाइट की तरह बनाया गया है। वेबसाइट तैयार करके इंश्योरेंस कंपनी से चुराए डाटा में मिले लोगों के नंबर पर फर्जी चालान का एसएमएस भेज दिया। अचानक मोबाइल पर संदेश देखकर लोग हैरान हो गए और उनको लगा कि यदि चालान राशि जमा नहीं की तो आगे और कार्रवाई होगी। लोगों ने आनन-फानन में चालान राशि असली समझकर फर्जी वेबसाइट पर जमा कर दी। पुलिस को शिकायत मिली तो कार्रवाई की गई है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.