संगठन और नेताओं के बहकावे में आकर स्कूल के खिलाफ अभिभावक दे रहे प्रदर्शन: युवा क्रान्ति सेना

Updated Jul 31, 2020 14:11:19 IST | Anika Gupta

युवा क्रान्ति सेना के सदस्यों द्वारा अतुल यादव के नेतृत्व में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी धीरेन्द्र कुमार को ज्ञापन के माध्यम से 60 प्रतिशत फ़ीस माफ़ी का सुझाव दिया और उसपर...

संगठन और नेताओं के बहकावे में आकर स्कूल के खिलाफ अभिभावक दे रहे प्रदर्शन: युवा क्रान्ति सेना
Photo Credit:  Google Image
प्रतीकात्मक फोटो

युवा क्रान्ति सेना के सदस्यों द्वारा अतुल यादव के नेतृत्व में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी धीरेन्द्र कुमार को ज्ञापन के माध्यम से 60 प्रतिशत फ़ीस माफ़ी का सुझाव दिया और उसपर चर्चा की। पिछले कुछ दिनों से कई स्कूल प्रशासन व अभिभावक आमने सामने दिखाई दे रहे हैं। अभिभावक अन्य सामाजिक संगठन व कई नेताओं के बहकावे में आकर स्कूल प्रशासन के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। जिससे जिले में माहौल खराब होने की संभावनाएं बढ़ती जा रही है।

संगठन के संस्थापक अविनाश सिंह ने बताया कि कोरोनाा संक्रमण को ध्यान में रखते हुए सभी विद्यालयों की लॉकडाउन की अवधि तक की स्कूल फ़ीस का 60 प्रतिशत फ़ीस माफ हो और केवल 40 प्रतिशत फ़ीस अभिभावकों से लें। जिससे स्कूल और अभिभावक दोनों पर ही बोझ ना रहे। 

स्कूल भी अपने खर्चे निकाल सके और कोई भी बच्चा इस महामारी के कारण शिक्षा से वंचित ना रहे। संगठन के अतुल यादव ने कहा कि कोरोना महामारी से हुए लॉकडॉउन में कहीं ना कहीं स्कूल प्रशाशन व अभिभावक दोनों के आय का श्रोत खत्म हो गए थे। ऐसे में दोनों पक्षों के हित में एक निर्णय निकालने की सख्त आवश्यकता है। इस महामारी में एकजुटता की आवश्यकता है।

Greater Noida Schools, Noida Schools, Parents Aganist Schools, Schools Fees