ग्रेटर नोएडा: फीस माफी को लेकर अभिभावकों ने किया प्रदर्शन

Updated Aug 24, 2020 20:25:59 IST | Rakesh Tyagi

अल्फा-1 सेक्टर स्थित सेंट जोसेफ स्कूल में सोमवार को अभिभावकों ने फ़ीस माफ़ी को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान अप्रैल, मई व जून की फ़ीस मांग करने...

ग्रेटर नोएडा: फीस माफी को लेकर अभिभावकों ने किया प्रदर्शन
Photo Credit:  Tricity Today
फीस माफी को लेकर अभिभावकों ने किया प्रदर्शन

अल्फा-1 सेक्टर स्थित सेंट जोसेफ स्कूल में सोमवार को अभिभावकों ने फ़ीस माफ़ी को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान अप्रैल, मई व जून की फ़ीस मांग करने को लेकर मांग की। अभिभावकों ने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से कई अभिभावकों की नौकरी चले गई है। कई के वेतन कट के मिल रहा हैं। ऐसे में स्कूल प्रबंधन की तरफ से अप्रैल, मई व जून की फ़ीस कहां का न्याय है। प्रदेश सरकार से निवेदन है कि अप्रैल, मई और जून की फ़ीस माफ होनी ही चाहिए। जब तक ऑनलाइन कक्षाएं चल रही हैं, तब तक सिर्फ ट्यूशन फ़ीस ली जाए।

सेंट जोसेफ स्कूल के प्रबंधन का कहना है कि सरकार की तरफ से इस बाबत कोई आदेश जारी नहीं किये गए हैं। इस दौरान कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद रहे। कांग्रेस नेता मनोज चौधरी ने कहा कि फ़ीस को लेकर अभिभावकों की लड़ाई में साथ हैं। वहीं, माध्यमिक स्कूलों में पढऩे वाले कई विद्यार्थी गरीब परिवारों से भी आते हैं। घर पर स्मार्ट फोन तक नहीं होते। वीडियो न देख पाने के कारण पढ़ाई करने में मुश्किल होती है। इनके लिए शिक्षा विभाग की तरफ से पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है। इसके लिए वीडियो पर आधारित विशेष तरह के नोट्स तैयार किए गए हैं, जिनको विद्यार्थियों को दिया जाएगा। 

जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ नीरज पांडेय ने बताया कि दूरदर्शन पर पाठ्यक्रम से जुड़े वीडियो प्रसारित हो रहे हैं। विभिन्न कारणों से कई विद्यार्थी वीडियो देख नहीं पाते। ऐसे में यूट्यूब पर ये वीडियो अपलोड किये गए हैं। फोन न होने के कारण कई विद्यार्थी देख नहीं पाते। ऐसे में शासन की तरफ से वीडियो पर आधारित नोट्स तैयार कर हर जिलों में भेजे गए हैं। ये गौतमबुद्धनगर में पहुंच चुके हैं। जल्द विद्यार्थियों को वितरित किए जाएंगे। वीडियो देखकर या नोट्स के जरिए विद्यार्थी शिक्षित हो रहे हैं या नहीं, इसके लिए हर महीने ऑनलाइन की टेस्ट का आयोजन किया जाएगा। 

विद्यार्थियों को फोन पर प्रश्न दिए जाएंगे। वहीं, जिनके पास फोन की सुविधा नहीं होगी। इनको शिक्षक घर पर जाकर प्रश्नपत्र देंगे। विद्यार्थियों को उत्तरपुस्तिका स्कूल में आकर ही जमा करानी होगी। इसके लिए हर स्कूल में बॉक्स लगाए जाएंगे।

St Joseph's School, Schools Fees, Greater Noida Schools, No Schools No Fees

Trending

नोएडा
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
उत्तर प्रदेश
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
ग्रेटर नोएडा
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
ग्रेटर नोएडा
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
यमुना सिटी
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका