Greater Noida: डांस और अंताक्षरी करके कोरोना को मात दी, जानिए पूरी कहानी

Updated May 17, 2020 23:06:31 IST | Tricity Reporter

कोरोना वायरस का अगर डर खत्म हो जाए तो आधी से अधिक लड़ाई मरीज ऐसे ही जीत जाता है। शारदा अस्पताल से रविवार को डिस्चार्ज हुईं अर्चना और अंजलि के आइसोलेशन वार्ड...

Photo Credit:  Tricity Today
प्रतीकात्मक फोटो

कोरोना वायरस का अगर डर खत्म हो जाए तो आधी से अधिक लड़ाई मरीज ऐसे ही जीत जाता है। शारदा अस्पताल से रविवार को डिस्चार्ज हुईं अर्चना और अंजलि के आइसोलेशन वार्ड के अनुभव कुछ यही कह रहे हैं। दोनों ने वार्ड में अन्त्याक्षरी खेलकर और डांस करके कोरोना को मात दे दी। साथ ही वह दूसरों का भी डर दूर करने में सफल रहीं। उन्होंने कहा कि यह एक वायरस है और हंस-खेलकर इसको मात दी जा सकती है।

शारदा अस्पताल से रविवार को 11 मरीज डिस्चार्ज किए गए। डिस्चार्ज मरीजों में शामिल सेक्टर-150 की रहने वाली अर्चना सिंह ने अपने अनुभव साझा किए। उन्होंने कहा कि यह एक केवल वायरस है और कुछ नहीं। वार्ड में मरीज की तरह नहीं बल्कि घर की तरह रहिये। कोरोना को लेकर डर नहीं पालिए। अर्चना ने कहा कि वे लोग वार्ड में प्रतिदिन डांस और अन्त्याक्षरी खेलकर एक दूसरे की हौसला अफजाई करते थे। हमें किसी तरह का कोई दिक्कत नहीं हुई है। आप अगर कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं तो घर से अपना सामान लेकर आइए और 14 दिन वार्ड में गुजार कर आराम से अपने घर जाइये। अर्चना ने वार्ड में भर्ती नीलम सिंह का भी ख्याल रखा। उन्हें हमेशा खुश रखने की कोशिश की।

वार्ड में सभी से घुल मिल गए, बहुत याद आएंगे
रविवार को डिस्चार्ज हुईं सेक्टर-137 की रहने वाली अंजलि ने कहा कि वार्ड में हम लोग एक दूसरे से इतना घुल मिल गए कि अब बाहर निकल कर हमें याद आते रहेंगे। कोरोना से डरिये नहीं। बल्कि यह अन्य वायरस की तरह है। इसको सावधानी के साथ मात दी जा सकती है। डॉक्टरों के अनुसार चलिए और सामान्य दिनचर्या की तरह अपना इलाज कराइये। सब कुछ ठीक हो जाएगा।

ये लोग किए गए डिस्चार्ज
शारदा अस्पताल से रविवार को शारिक, मोहम्मद अल्ताफ, मोहम्मद शोराब, बाला देवी, गायत्री, सुरेंद्र कुमार, विजेंद्र सिंह, अंजलि, अर्चना सिंह, कृष्ण भोला साहू समेत 11 लोगों को डिस्चार्ज किया गया। सभी को 14 दिनों तक घर में एकांतवास में रहने का आग्रह किया गया है। सभी के मोबाइल में आरोग्य सेतु तथा उत्तर प्रदेश आयुष कवच मोबाइल एप डाउनलोड भी कराया गया है। डॉ, अभिषेक त्रिपाठी ने सभी को डिस्चार्ज पत्र सौंपा। अस्पताल के प्रवक्ता डॉ. अजित कुमार ने बताया कि शारदा हॉस्पिटल से अब तक 84 मरीज कोरोना को हराकर स्वस्थ हो चुके हैं। अभी भी 31 मरीजों का इलाज चल रहा है।

सीएमओ ने अस्पताल का निरीक्षण किया
गौतमबुद्ध नगर के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. दीपक ओहरी ने रविवार को डीजीएमई के नोडल अधिकारी डॉ. ज्ञानेंद्र कुमार के साथ शारदा हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया। सभी मरीजों से हाल चाल लिया। उन्होंने वार्ड में उपलब्ध सभी सुविधाओं पर संतोष जाहिर किया। सुविधाओं को और बेहतर बनाने के लिए दिशा निर्देश दिए। साथ ही रविवार को डिस्चार्ज हुए सभी मरीजों की फाइल का भी निरीक्षण किया।

Dance and Antakshari in Sharda hospital, Sharda hospital, COVID-19 Hospital, Greater Noida, Greater Noida Hospital, GIMS, GIMS Greater Noida, Fight with coronavirus