BREAKING: सचिन पायलट को कांग्रेस से बर्खास्त करने की तैयारी शुरू

BREAKING: सचिन पायलट को कांग्रेस से बर्खास्त करने की तैयारी शुरू

Google Image | Sachin Pilot and Ashok Gehlot


राजस्थान के डिप्टी चीफ मिनिस्टर और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट को पार्टी से बर्खास्त करने की तैयारी शुरू हो चुकी है। दरअसल वह दिल्ली में कैंप किए हुए हैं। उनका मकसद सोनिया गांधी से मुलाकात करना है। दूसरी और यह लगभग साफ हो चुका है कि सोनिया गांधी उनसे मिलना नहीं चाहती हैं। उन्हें संदेश भिजवा दिया गया है कि वह सीधे जयपुर जाएं और अशोक गहलोत की ओर से सोमवार की सुबह बुलाई गई विधायक दल की बैठक में शामिल हों। अब अगर सचिन पायलट सोमवार की सुबह विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं होते हैं तो उन्हें बागी घोषित करते हुए पार्टी से बर्खास्त कर दिया जाएगा। इसके लिए कांग्रेस ने पूरी रणनीति तय कर ली है।

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के आवास पर रविवार की रात हुई बैठक में लगभग 75 विधायक और मंत्री मौजूद थे। दूसरी ओर कांग्रेस ने रणदीप सुरजेवाला, अजय माकन और और अविनाश पांडे को जयपुर भेज दिया है। यह तीनों नेता मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ बैठक कर रहे हैं। बैठक में सोमवार की सुबह होने वाली विधायक दल (सीएलपी) की मीटिंग को लेकर रणनीति बनाई जा रही है। यह संभावना है कि सीएलपी की बैठक के बाद पार्टी की ओर से एक व्हिप जारी किया जाएगा और अनुपस्थित लोगों को परिणाम भुगतना होगा। लेकिन अभी तक किसी भी चीज को अंतिम रूप नहीं दिया गया है। अजय माकन, रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडे और गहलोत की इस बैठक के बाद अंतिम निर्णय लिया जाएगा

कांग्रेसी और राजस्थान सरकार में विश्वसनीय सूत्रों से जानकारी मिल रही है की यह बात तय की जा चुकी है कि कल विधायक दल की बैठक में अगर सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायक शामिल नहीं होते हैं तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए ही पार्टी के हाईकमान ने तीनों प्रभारी नेताओं को जयपुर भेजा है। यह तीनों नेता कल की बैठक के बाद अपनी रिपोर्ट दिल्ली भेजेंगे। इस रिपोर्ट के आधार पर सोनिया गांधी एक्शन लेंगी। कुल मिलाकर अब कांग्रेस के दोनों खेमे आमने-सामने आ चुके हैं। कांग्रेस की ओर से सचिन पायलट को स्पष्ट कर दिया गया है कि उन्हें जयपुर वापस लौट नहीं होगा। दूसरी ओर सचिन पायलट ही साफ कर चुके हैं कि वह जयपुर जाकर अशोक गहलोत के सरपरस्ती में काम नहीं करेंगे।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की कांग्रेस पार्टी के विधायकों के साथ बैठक रविवार शाम को संपन्न हो गई है। राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडे ने यहां संवाददाताओं से कहा, "कांग्रेस की सरकार मजबूत है और आप लोग हैं, हम मुकाबला करेंगे। कांग्रेस सरकार मजबूत है और हम उनके खिलाफ लड़ेंगे, जो राज्य सरकार को अस्थिर करने का प्रयास करते हैं।" बैठक के बाद कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुड्डा ने दावा किया कि गहलोत सरकार के पास बहुमत है।

गुड्डा ने कहा, "गहलोत जी के पास बहुमत है। हम भी प्रयास कर रहे हैं और भाजपा के कुछ विधायक हमारे संपर्क में हैं। हम भाजपा से और अधिक विधायकों को लाएंगे।" कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की एक बैठक सोमवार सुबह 10:30 बजे गहलोत के आवास पर होगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.