आज शाम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे विपक्षी दल, किसान बिल पर दर्ज कराएंगे अपना विरोध

आज शाम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे विपक्षी दल, किसान बिल पर दर्ज कराएंगे अपना विरोध

Google Image | राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

संसद भवन में भाजपा सरकार द्वारा लाए गए किसानों के तीनों बिल पास हो गए हैं। लेकिन विपक्ष अभी भी इस तीनों बिल के खिलाफ जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं। देश के अलग-अलग कोनों में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता समेत अन्य पार्टी के लोग भी इस किसान बिल को लेकर जमकर हंगामा काट रहे हैं। इन सब को लेकर बुधवार की शाम 5:00 बजे भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भाजपा विपक्षी दलों से मुलाकात करेंगे।

संसद में किसानों के लिए लाए गए तीनों विधेयक पास होने के बाद पूरे देश में भाजपा को किसान विरोधी सरकार बताते हुए विपक्ष प्रदर्शन और हंगामा कर रहे हैं। किसान बिल को लेकर विपक्ष ने भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने के लिए समय मांगा था। राष्ट्रपति ने बुधवार की शाम को मिलने का समय दे दिया है।

कांग्रेस का कहना है कि सरकार की मंशा ठीक है, तो कानून में एमएसपी देने का उल्लेख किया जाना चाहिए। लोकसभा में पार्टी के नेता अधीर रंजन और पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि सरकार संघीय ढांचे पर हमला कर रही है। 

पार्टी नेताओं का कहना है कि सरकार कह रही है कि इन कानूनों से एमएसपी पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। एमएसपी की व्यवस्था बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि यदि उसकी नियत सही है, तो उसे किसानों को इसकी गारंटी देनी चाहिए। इसका कानून में भी यह उल्लेख किया जाना चाहिए कि किसानों को एमएसपी दिया जाएगा।

कृषि विधेयकों को संसद की मंजूरी के बाद कांग्रेस ने अब इन विधेयकों के खिलाफ सड़को पर उतरने का ऐलान किया है। पार्टी इन विधेयकों के विरोध में पूरे देश में आंदोलन करेगी। इसके साथ पार्टी कृषि विधेयकों के खिलाफ पूरे देश से दो करोड़ किसानों के हस्ताक्षर जुटाएगी। इसकी शुरुआत 24 सितंबर से शुरु होगी।
 

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.