ग्रेटर नोएडा वेस्ट की स्प्रिंग मिडोज सोसायटी के निवासियों ने गरीबों की ओर हाथ बढ़ाया

Updated Mar 26, 2020 10:18:14 IST | Mayank Tawer

कोरोना वायरस से निपटने के लिए देशभर में लागू किए गए लॉक डाउन का असर गरीब और दैनिक मजदूरों पर दिखने लगा है। बुधवार को तिलपता कंटेनर यार्ड में पुलिस ने 85 मजदूरों और उनके बच्चों के लिए खाने का इंतजाम...

Photo Credit:  Tricity Today
Residents of Spring Meadows Society of Greater Noida West raise their hands towards the poor

कोरोना वायरस से निपटने के लिए देशभर में लागू किए गए लॉक डाउन का असर गरीब और दैनिक मजदूरों पर दिखने लगा है। बुधवार को तिलपता कंटेनर यार्ड में पुलिस ने 85 मजदूरों और उनके बच्चों के लिए खाने का इंतजाम किया। वहीं, ग्रेटर नोएडा वेस्ट की हाउसिंग सोसायटीज के लोग भी इन गरीबों की तरफ हाथ बढ़ा रहे हैं।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की स्प्रिंग मीडोज हाउसिंग सोसाइटी के निवासियों ने मिलकर एक समूह बनाया है। जिसका नाम फीड द नीडी रखा है। बुधवार को इस ग्रुप के सदस्यों ने सोसाइटी के आसपास झुग्गी झोपड़ियों में रह रहे गरीब परिवारों को चावल, दाल, आटा और आलू जैसी खाद्य सामग्रियां बांटी हैं।

यह ग्रुप अंकित सिन्हा और मुस्सदिर की बहुत ही अच्छी पहल पर सोसायटी के निवासियों ने बनाया है। सोसायटी के निवासी विकास कटियार ने बताया कि “feed the needy” में सभी स्प्रिंग मिडोज निवासियों की मदद खाद्य सामग्री खरीदी गई। जो मज़दूर परिवार Lockdown की वजह से अपने काम पर नहीं जा पा रहे हैं और उनके पास राशन नहीं है, उन सभी को प्रति परिवार 2 किलोग्राम चावल, 1 किलोग्राम दाल और 1 किलोग्राम आलू उपलब्ध कराए गए हैं। 

विकास कटियार ने बताया, जिससे यह मजदूर खुद और उनका परिवार भूखा ना सोए, इसके लिए हमने यह पहल की है। इस खरीदारी और अन्य कार्यों में रचित, सुहैल, सागर, शीतल और विकास आदि का विशेष सहयोग रहा है।

इन लोगों का कहना है कि आगे भी यह ग्रूप आसपास के गरीब परिवारों के लिए इसी तरह की मदद करता रहेगा। इसको सफल बनाने में सबसे ज्यादा योगदान स्प्रिंग मिडोज परिवार का रहा है, जो हर समय हमारे साथ खड़े रहते हैं