ग्रेटर नोएडा वेस्ट की तीन हाऊसिंग सोसाइटीज में निवासियों ने किया प्रदर्शन, बिल्डरों से परेशान हैं लोग, मामला पुलिस तक पहुंचा

Updated Sep 20, 2020 19:58:56 IST | Mayank Tawer

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की तीन अलग-अलग हाऊसिंग सोसाइटीज में रविवार को वहां के निवासियों ने प्रदर्शन किया है। इस दौरान सोसायटी...

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की तीन हाऊसिंग सोसाइटीज में निवासियों ने किया प्रदर्शन, बिल्डरों से परेशान हैं लोग, मामला पुलिस तक पहुंचा
Photo Credit:  Tricity Today
ग्रेटर नोएडा वेस्ट की तीन हाऊसिंग सोसाइटीज में निवासियों ने किया प्रदर्शन

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की तीन अलग-अलग हाऊसिंग सोसाइटीज में रविवार को वहां के निवासियों ने प्रदर्शन किया है। इस दौरान सोसायटी के लोगों ने बिल्डर के खिलाफ नारेबाजी की। लोग बिल्डरों से परेशान हैं। सोसायटीज का मेंटेनेंस सही ढंग से नहीं हो रहा है। लोग खुद को असुरक्षित महसूस करते हैं। सूचना मिलने के बाद पुलिस भी पहुंची। लोगों से बातचीत की।

सुपरटेक इकोविलेज-1 सोसायटी के निवासियों ने रजिस्ट्री की मांग के लिए प्रदर्शन किया

रविवार की सुबह सबसे पहले ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित सुपरटेक इकोविलेज-1 सोसायटी के निवासियों ने प्रदर्शन किया। फ्लैट्स की रजिस्ट्री नहीं होने और रखरखाव न होने के विरोध में काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन किया। आरोप है कि 2 साल बीत जाने के बाद भी 13 टावर्स की रजिस्ट्री नहीं हुई हैं। साथ ही समस्याओ का अंबार है। कोई सुनवाई नहीं होती है। लोगों का कहना है कि सोसायटी में काफी संख्या में परिवार रह रहे हैं। लेकिन सुविधाएं नहीं हैं। 13 टॉवर ऐसे हैं, जिनका कब्जा और पूर्णता प्रमाण पत्र प्राधिकरण ने दे दिया है, लेकिन 2 साल से अधिक समय बीत जाने के बाद भी रजिस्ट्री नहीं हुई है। 

लोगों का आरोप है कि क्लब, पार्किंग, फायर सिस्टम की स्थिति भी बेहद खराब है। पोडियम बेसमेंट में जो मलबा डाला जा रहा है, वहां जल भराव हो जाता है। इस दौरान प्रदर्शन करने वालों में जीबी सिंह, शैलेश झा, आशीष झा, राकेश झा, संजय सिंह, नगेंदर सिंह, मनीष कुमार शामिल रहे।

गौर सिटी वन में निवासियों ने मेंटेनेंस चार्ज बढ़ाने के विरोध में प्रदर्शन किया

गौर सिटी-1 सोसायटी के छठे एवेंयू में भी रविवार को निवासियों ने मेंटिनेस चार्ज बढ़ाने के विरोध में पैदल मार्च निकला। लोगों का आरोप है कि सुविधा और सुरक्षा व्यवस्था ठीक नहीं है। चार्ज बढ़ाने के लिए नोटिस चस्पा किए जा रहे हैं। प्रदर्शन के बाद बिल्डर प्रबंधन से सुरक्षा गार्ड को सभी टावर और गेट से हटा दिया गया है। जिसके बाद लोगों ने बिसरख कोतावली में तहरीर भी दी है। जीसी-6 के निवासियों ने बताया कि एवेंयू में बिल्डर प्रबंधन पहले 1.25 पैसे प्रति वर्ग फुट की दर से मेंटिनेंस चार्ज लेता था। अब चार्ज बढ़ाकर 2 रुपये प्रति वर्ग फुट कर दिया है। 

लोगों ने बताया कि मेंटिनेस चार्ज वसूल करने के लिए बिल्डर डिमांड कर रहे हैं। इसको लेकर एक नोटिस जारी किया है। 1 अक्टूबर से नई दर लागू करने के लिए बोला गया है। जिसके विरोध मे निवासियों ने बिल्डर को कई ईमेल किए हैं। जिसका कोई जवाब बिल्डर से नहीं मिल रहा है। कोरोना काल में जहां रेसिडेंट्स का वेतन कट रहा है, वहीँ मैंटेनेंस मे 60 प्रतिशत की वृद्धि कर दी है। प्रदर्शन के बाद लॉबी गॉर्डस को हटा दिया गया है। सभी मेंटेनेंस सर्विसेस बिना सूचना के तत्काल प्रभाव से बंद कर दी हैं। प्रदर्शन करने वालों में आरडी शर्मा, कमल जैन, अनीता प्रजापति, अर्चित जैन, अमित शर्मा, संदीप श्रीवास्तव, मिलेश झा, अमरजीत राठौर, मनोज जौहरी, रमन आदि मौजूद रहे।

गौड़ प्रबंधन का कहना है कि चार्ज बढ़ाए बिना सुविधाएं देना सम्भव नहीं होगा

दूसरी ओर गौड़ प्रबंधन का कहना है कि यूपी अपार्टमेंट अधिनियम के अनुसार सोसायटी में एओए का गठन अनिवार्य है। 2 सालों से जीसी-6 में एओए का गठन और हैंडओवर करने के लिए प्रयासरत हैं। अभी तक ऐसा संभव नहीं हो पाया है। लोगों के साथ बातचीत कर मेंटिनेस सौंपने के लिए कई बार कहा है, लेकिन कोई तैयारी नहीं है। यहां के लोगों से बातचीत करने की कोशिश की और मेंटिनेस शुल्क बढ़ाने की गुजारिश की। हमनें नोटिस जारी करके अक्टूबर माह से मेंटेनेंस शुल्क 1.25 रुपए से बढाकर 2 रुपए किये जाने की जानकारी दी है। ताकि यहां काम करने वाले सुरक्षा गार्डों, सफाई कर्मियों इत्यादि को समय पर तनख्वाह मिले और उसका जीवन भी सुचारु रूप से चले।

दूसरी ओर, निराल ग्रीन शायर सोसायटी के लोगों ने रविवार दूसरे दिन भी सुविधाओं की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। सोसायटी के लोग सुबह 10:30 बजे से शाम 6 बजे गेट पर अपनी मांगो को लेकर प्रदर्शन करते रहे। सोसायटी के निवासी ऋतु राज, अंकुर पुंडीर और अंकित ने बताया कि हर महीने मेंटिनेस चार्ज बिल्डर प्रबंधन को दे रहे हैं। लेकिन सुविधाओं का अभाव है। अधूरी सुविधाओं के बीच चार्ज बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। आरोप है कि सोसायटी में स्वीमिंग पूल, क्लब और जिम के लिए पिछले डेढ़ साल से लगातार मांग कर रहे हैं। पिछले डेढ़ साल से बिल्डर से मीटिंग को लेकर मांग कर रहे हैं। लेकिन कोई मीटिंग नही हो रही है। 

निवासियों का कहना है कि कई बार तारीख तय होने के बाद भी बिल्डर मीटिंग में शामिल नहीं होते हैं। इस दौरान चंदन पांडेय, एसपी सिंह, अंकित, अनिल कुमार, ललित, रोहित राठौर, अभिषेक पांडेय, ऋषिपाल आदि लोग मौजूद रहे। उधर, निराला ग्रुप का कहना है कि हमारे यहाँ मेंटिनेस चार्ज अन्य सोसायटी के मुकाबले कम ही है। समस्याओं  को लेकर हम निवासियों से बात कर रहे हैँ।

Greater Noida West, Noida Extension, Gaur City, Gaursons, Eco Village 1, Nirala Green Shire Society

Trending

नोएडा
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
उत्तर प्रदेश
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
ग्रेटर नोएडा
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
ग्रेटर नोएडा
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
यमुना सिटी
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका