गौर सिटी में मेंटेनेंस चार्ज बढ़ाने का निवासियों ने किया विरोध, बिल्डर पर धमकी देने का भी आरोप

गौर सिटी में मेंटेनेंस चार्ज बढ़ाने का निवासियों ने किया विरोध, बिल्डर पर धमकी देने का भी आरोप

Tricity Today | Residents protesting in Gaur City

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौर सिटी-2 के 16वें एवेन्यू के निवासियों ने मेंटेनेंस चार्ज बढ़ाने के विरोध में रविवार को प्रदर्शन किया। इस पर बिल्डर ने सोसायटी के निवासियों को धमकी दी। लोग रखरखाव शुल्क में अनुचित वृद्धि का विरोध कर रहे थे। निवासी पिछले 3 वर्षों में जमा किए गए सभी रखरखाव फंडों का एक ऑडिट करवाने की मांग कर रहे हैं।

गौर सिटी प्रबंधन ने अपने निवासियों को एक नोटिस जारी किया था। जिसमें कहा गया था कि रखरखाव शुल्क अब 1.25 रूपये से बढ़ाकर 2.00 रूपये प्रति वर्ग फीट किया जाएगा। बिल्डर का तर्क है कि सोसायटी के रखरखाव में वह नुकसान उठा रहा है। एओए का चुनाव निर्धारित है। उससे एक सप्ताह पहले इस तरह के मनमाने फैसले के पीछे तर्क जानने के लिए निवासी रखरखाव कार्यालय में इकट्ठा हुए। रखरखाव विभाग के प्रभारी वैभव ने निवासियों को धमकी दी कि यदि निवासियों ने अपना विरोध जारी रखा तो सभी प्लंबिंग और इलेक्ट्रिकल स्टाफ को वापस ले लिया जाएगा।

विरोध प्रदर्शन में मौजूद गौर सिटी-2 के निवासी अमित पांडे ने कहा, "रखरखाव सेवाएं खराब हो गई हैं, आवारा कुत्ते सोसायटी में घूमते रहते हैं और बच्चों को काटते हैं। रखरखाव शुल्क में यह बढ़ोतरी अनुचित और मनमानी है। सोसायटी के लोग पहले से ही परेशान हैं। बिल्डर ने प्रत्येक ब्लॉक से एक सुरक्षा गार्ड को हटाकर लागत को कम किया है।"

निवासियों ने कहा, वह लोग बिगड़ती सेवाओं के बारे में बिल्डर से प्रतिक्रिया लेने गए थे। बाहरी एजेंसी के जरिए ऑडिट करवाना चाहते हैं। बिल्डर के प्रतिनिधि ने निवासियों के साथ दुर्व्यवहार किया और कहा कि शुल्क बढ़ाने के आदेश प्रधान कार्यालय से आए हैं। चल रहे विरोध के मद्देनजर बिल्डर ने 45 दिनों के लिए शुल्क यथावत रखने पर सहमति जताई है, लेकिन इस बात का जवाब नहीं दिया है कि क्या बाहरी एजेंसी से ऑडिट होगा। दूसरी ओर इस बारे में बिल्डर से बात करने की कोशिश की गई है। गौर बिल्डर के प्रवक्ता और दूसरे अफसरों ने फोन नहीं उठाया।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.