गाजियाबाद : भाजपा विधायक के मामा हत्याकांड का सनसनीखेज खुलासा, हिन्दु युवा वाहिनी का पूर्व जिलाध्यक्ष गिरफ्तार

Updated Nov 18, 2020 21:26:42 IST | Mayank Tawer

गाजियाबाद के सिहानीगेट थाना क्षेत्र के लोहिया नगर में मॉर्निंग वॉक पर निकले भाजपा विधायक अजीत पाल त्यागी के सगे मामा नरेश त्यागी की 9 अक्टूबर को दिन निकलते ही अज्ञात स्कूटी...

गाजियाबाद : भाजपा विधायक के मामा हत्याकांड का सनसनीखेज खुलासा, हिन्दु युवा वाहिनी का पूर्व जिलाध्यक्ष गिरफ्तार
Photo Credit:  Tricity Today
हिन्दु युवा वाहिनी का पूर्व जिलाध्यक्ष जितेंद्र गिरफ्तार

गाजियाबाद के सिहानीगेट थाना क्षेत्र के लोहिया नगर में मॉर्निंग वॉक पर निकले भाजपा विधायक अजीत पाल त्यागी के सगे मामा नरेश त्यागी की 9 अक्टूबर को दिन निकलते ही अज्ञात स्कूटी सवार बदमाशों द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जिसमें पुलिस ने दो अज्ञात बदमाशों के खिलाफ हत्या और हत्या की प्लानिंग के तहत मुकदमा पंजीकृत कर पूरे मामले के खुलासे के प्रयास में जुटी थी। इसी बीच पुलिस ने इस हत्याकांड को खोलने के लिए जनपद की मजबूत टीमों को गठित कर सुरागकसी के लिए लगाया हुआ था। 

सिहानीगेट थाने में हत्याकांड का खुलासा करते हुए एसपी सिटी अभिषेक वर्मा ने बताया कि हत्या को बड़े ही शातिरआना अंदाज में अंजाम दिया गया था। मृतक नरेश त्यागी भाजपा विधायक अजीतपाल त्यागी के सगे मामा थे। इसी के चलते इस हत्याकांड को खोलने का सफल प्रयास किया जा रहा था। कोई निर्दोष भी जेल नहीं जाए और हत्याकांड के खुलासे के लिए तेजतर्रार पुलिस कर्मचारियों की टीम बनाकर लगाया हुआ था। 

हालांकि इसी बीच सुरागकसी में जितेंद्र नामक एक व्यक्ति का नाम प्रकाश में आया जब उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने अपना गुनाह कबूल करते हुए बताया कि उसने और मृतक के सगे बड़े भांजे गिरीश त्यागी ने इस हत्याकांड को अंजाम देने के लिए शूटर को तैयार कर पूरी प्लानिंग के तहत इस घटना को अंजाम दिया था। इसी बीच पूछताछ में साजिशकर्ता हिन्दु युवा वाहिनी के पूर्व जिलाध्यक्ष जितेंद्र त्यागी पुत्र रामनिवास त्यागी निवासी नूरनगर सद्दीक नगर सिहानी द्वारा बताया गया कि मेरा और गिरीश त्यागी मृतक के बड़े भांजे से कई वर्षों से उठना बैठना व मिलना जुलना है। 

नरेश त्यागी की हत्या होने से करीब दो महीने पहले ही मैंने और गिरीश ने नरेश की हत्या की योजना बना ली थी। जिसके तहत हम दोनों ने घटना से 2 दिन पहले 7 अक्टूबर को हम लखनऊ चले गए और तय किया कि घटना के हो जाने के बाद ही हम गाजियाबाद लौटकर आएंगे। जिससे हम पर किसी को शक ना हो। लेकिन घटना की खबर लगते ही गिरीश त्यागी घबरा गया एवं मेरा और अपना मोबाइल फोन बंद करवा दिया। हम दोनों घबराहट के कारण फरार हो गए और घटना में संलिप्त होने की वजह से गिरीश अपने सगे मामा के अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं हुआ था। हम अभी तक टैक्सी आदि के माध्यम से विभिन्न शहरों में छिपकर रह रहे थे। घटना में मृतक के बड़े भांजे गिरीश त्यागी सहित तीन आरोपी अभी फरार है। जिन्हें जल्द ही अन्य को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।  

भाजपा विधायक अजीत पाल त्यागी ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए प्रेसवार्ता में बताया कि पुलिस ने सही खुलासा नहीं किया है। किसी निर्दोष को जेल भेजने का कार्य किया गया है। अगर पुलिस इस घटनाक्रम को सही तरीके से खोलती तो कुछ और बात होती, वही मृतक के पुत्र द्वारा भी पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि जिन्हें पुलिस ने हिरासत में लेकर इस घटना का साजिशकर्ता बता रही है। वह निर्दोष है। पुलिस को इस हत्याकांड का खुलासा साफ और स्वच्छ तरीके से करना चाहिए ना कि पुलिस अपनी मनमर्जी करते हुए किसी निर्दोष को इस हत्याकांड में फंसा कर जेल भेजने का कार्य किया है। 

जब उन्होंने पुलिसिया थ्योरी पर सवालिया निशान उठाये तो उस समय पुलिस ने उस अपराधी को हिरासत में लेने के बाद छोड़ दिया, लेकिन एक बार फिर से पुलिस ने बिना किसी ठोस साक्ष्य के एक और व्यक्ति को हिरासत में लेकर उन्हें बताया कि उनके मामा की हत्या उसने शार्प शूटरों का सहारा लेकर करवाई है, लेकिन कई दिन हिरासत में रहने के बाद भी एक हिन्दूवादी संगठन के पूर्व जिलाध्यक्ष से पुलिस यह पता नहीं लगा पाई कि उनके मामा की हत्या क्यों और किसने करवाई। 

 त्यागी ने बताया कि वारदात के सवा महीने बाद पुलिस उनके मामा की हत्या का खुलासा करने में पूरी तरह से असफल दिखाई दे रही है। उन्होंने बताया कि अपनी इस इस असफलता को छुपाने के लिये पुलिस पुलिसिया हथकंड़े अपना रही है। उन्होंने बताया कि पुलिस की इस सोच का विरोध व गाजियाबाद पुलिस प्रशासन के अधिकारियों से विरोध जताने के अलावा लखनऊ स्तर पर भी विरोध करेंगे। प्रेसवार्ता में नरेश त्यागी के बेटे अभिषेक त्यागी ने भी पुलिस से सुबूत की मांग की। पुलिस के पास न तो षड्यंत्र को लेकर कोई सुराग है और न ही शूटर्स के बारे में कोई जानकारी है। पुलिस निराधार तरीके से जितेंद्र त्यागी पर केस खोलना चाह रही रहै। पुलिस सुबूत दिखाए, तभी वह सही खुलासा मानेंगे।

इस हत्याकांड के बाद दिलचस्प यह रहा कि पूर्व कैबिनेट मंत्री भाजपा विधायक के पिता राजपाल त्यागी ने भी विगत समय में एक वीडियो जारी कर अपने ही विधायक पुत्र पर गंभीर आरोप लगाए थे कहा था कि विधायक होने के नाते सत्ता के लालच में पुलिस के साथ सेटिंग कर अपने ही बड़े भाई गिरीश त्यागी को फसाने का कार्य विधायक पुत्र कर रहा है। यही नहीं गंभीर आरोप लगाते हुए राजपाल त्यागी ने कहा था कि जिला पंचायत का चुनाव लडऩे की बात पर ही अजीत पाल त्यागी गिरीश त्यागी से नाराज चल रहा था। इस नाराजगी के चलते ही उसे इस हत्याकांड में फंसाने की चाल में वह कामयाब हो गया। लिहाजा पुलिस ने चर्चित हत्याकांड का खुलासा तो कर दिया मगर कहीं ना कहीं परिवारिक रंजिश के चलते नरेश त्यागी को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

Hindu Yuva Vahini, Ghaziabad News, Ghaziabad Police

Trending

नोएडा
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
उत्तर प्रदेश
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
ग्रेटर नोएडा
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
ग्रेटर नोएडा
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
यमुना सिटी
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका

Most Viewed

ग्रेटर नोएडा वेस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों के लिए बड़ी खबर, 65 करोड़ रुपये का तोहफा मिलेगा, पूरी जानकारी
ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों के लिए बड़ी खबर, 65 करोड़ रुपये का तोहफा मिलेगा, पूरी जानकारी
ग्रेटर नोएडा वेस्ट
BIG NEWS : सुपरटेक और अजनारा समेत आठ बिल्डरों के 30 बैंक खाते कुर्क, 70 बिल्डरों से 150 करोड़ और वसूलेगा गौतमबुद्ध नगर प्रशासन
BIG NEWS : सुपरटेक और अजनारा समेत आठ बिल्डरों के 30 बैंक खाते कुर्क, 70 बिल्डरों से 150 करोड़ और वसूलेगा गौतमबुद्ध नगर प्रशासन
यमुना सिटी
फिल्म सिटी का खाका खींचने के लिए 18 नवंबर को होगा मंथन, देश-दुनिया के विशेषज्ञ जुटेंगे
फिल्म सिटी का खाका खींचने के लिए 18 नवंबर को होगा मंथन, देश-दुनिया के विशेषज्ञ जुटेंगे
यमुना सिटी
BIG BREAKING : यमुना प्राधिकरण के 96 गांवों के लिए खुशखबरी, जमीन का मुआवजा बढ़ाने का ऐलान, एक लाख किसानों को मिलेगा लाभ, गावों की पूरी लिस्ट
BIG BREAKING : यमुना प्राधिकरण के 96 गांवों के लिए खुशखबरी, जमीन का मुआवजा बढ़ाने का ऐलान, एक लाख किसानों को मिलेगा लाभ, गावों की पूरी लिस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा, ऊपर से मेट्रो और नीचे से गुजरेंगी
ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा, ऊपर से मेट्रो और नीचे से गुजरेंगी