नोएडा और ग्रेटर नोएडा की इन 7 कंपनियों के मालिक देश के टॉप-100 अमीरों में शामिल, जानिए कौन हैं ये दिग्गज

नोएडा और ग्रेटर नोएडा की इन 7 कंपनियों के मालिक देश के टॉप-100 अमीरों में शामिल, जानिए कौन हैं ये दिग्गज

नोएडा और ग्रेटर नोएडा की इन 7 कंपनियों के मालिक देश के टॉप-100 अमीरों में शामिल, जानिए कौन हैं ये दिग्गज

Google Image | Noida Gate

नोएडा और ग्रेटर नोएडा की इन 7 कंपनियों के मालिक देश के टॉप-100 अमीरों में शामिल, जानिए कौन हैं ये दिग्गज

दुनिया की जानी-मानी मैगजीन फोर्ब्स ने गुरुवार को भारत के शीर्ष 100 अमीरों की सूची जारी की है। इसमें जहां पहले नंबर पर रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी हैं तो दूसरा नम्बर पर अदानी ग्रुप के मुखिया गौतम अदानी हैं। वहीं, तीसरे नंबर पर नोएडा की कंपनी एचसीएल के मालिक शिव नादर आंखे गए हैं। इनके अलावा नोएडा और ग्रेटर नोएडा की पांच और ऐसी कंपनियां हैं, जिनके मालिकान टॉप 100 में शामिल हुए हैं।

फोर्ब्स की सूची के मुताबिक ग्रेटर नोएडा की कम्पनी इंटरग्लोब के मालिक कपिल और राहुल भाटिया हैं। लिस्ट में ये दोनों 30वें स्थान पर हैं। जिनके पास 4.43 बिलियन डॉलर की संपत्ति है। देश की सबसे बड़ी एविएशन कम्पनी इंडिगो के भी मालिक हैं। देश की सबसे बड़ी रियल एस्टेट कम्पनी डीएलएफ के मालिक कुशलपाल सिंह 33वें स्थान पर हैं। वह ग्रेटर नोएडा के गांव खण्डेडा के रहने वाले हैं। उनके पास 4.26 बिलियन डॉलर की सम्पत्तियां हैं। नोएडा में इलेक्ट्रॉनिक्स गुड्स बनाने वाली कम्पनी हैवेल्स के चेयरमैन विनोद और अनिल राय गुप्ता लिस्ट में 40वें नम्बर पर हैं। इन दोनों के पास 3.55 बिलियन डॉलर की संपत्ति हैं।

नोएडा में माइक्रोफाइनेंस कम्पनी पेटीएम के सीएमडी विजय शेखर शर्मा 62वें स्थान पर हैं। वह 2.2 बिलियन डॉलर के मालिक हैं। पतंजलि के निदेशक आचार्य बालकृष्ण को 66वां स्थान मिला है। बालकृष्ण के पास 2.2 बिलियन डॉलर की प्रॉपर्टी हैं। पतंजलि ग्रुप का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट ग्रेटर नोएडा में हैं।

लगातार 13वें साल पहले स्थान पर अंबानी

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के चेयरमैन मुकेश अंबानी लगातार 13वें साल भारत के सबसे अमीर व्यक्ति बने हुए हैं। मुकेश अंबानी 88.7 अरब डॉलर की संपत्ति के मालिक हैं। हाल ही में रिलायंस समूह की जियो प्लेटफॉर्म्स और रिलायंस रिटेल में कई वैश्विक कंपनियों ने निवेश किया था। जिससे उनकी संपत्ति में इजाफा हुआ है। 

अंबानी के बाद ये हैं सबसे अमीर भारतीय

सूची में दूसरे स्थान पर अदाणी समूह के संस्थापक और अध्यक्ष गौतम अडाणी हैं। जिनकी संपत्ति 25.2 अरब डॉलर है। तीसरा स्थान एचसीएल टेक्नोलॉजी के संस्थापक शिव नाडार को मिला है। नाडर की संपत्ति 20.4 अरब डॉलर है। शिव नादर ग्रुप की कंपनी एचसीएल का मुख्यालय नोएडा में है। नोएडा शहर को विकसित करने में इस उद्योग समूह का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। वहीं, चौथे नंबर पर डी-मार्ट के मालिक राधाकिशन दमानी हैं, जो 15.4 अरब डॉलर की संपत्ति के मालिक हैं। 

पांचवें पायदान पर हिंदुजा ब्रदर्स का नाम शामिल है। हिंदुजा ब्रदर्स की संपत्ति 12.8 अरब डॉलर है। 
छठे नंबर पर 11.5 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के मालिक साइरस पूनावाला हैं। कोविड-19 का उपचार करने के लिए तैयार की जा रही वैक्सीन भी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में ही बनाई जा रही है। पालोनजी मिस्त्री को सातवां स्थान मिला है। उनकी नेट वर्थ 11.4 अरब डॉलर है। कोटक महिंद्रा बैंक के प्रबंध निदेशक और अरबपति भारतीय बैंकर उदय कोटक आठवें स्थान पर हैं, वे 11.3 अरब डॉलर की संपत्ति के मालिक हैं। 

उस सूची में नौवां स्थान गोदरेज फैमिली को मिला है। जिनकी संपत्ति 11 अरब डॉलर है।  
10वें नंबर में स्टील उत्पादक कंपनी आर्सेलर मित्तल के सीईओ और चेयरमैन लक्ष्मी मित्तल हैं। इनकी संपत्ति 10.3 अरब डॉलर है।  

शीर्ष 100 अमीरों में सिर्फ तीन महिलाएं शामिल

फोर्ब्स की इंडिया रिच लिस्ट-2020 के शीर्ष 100 अमीरों में केवल तीन महिलाएं शामिल हैं। ओपी जिंदल समूह की सावित्री जिंदल 19वें स्थान पर हैं, जिनकी संपत्ति 6.6 अरब डॉलर है। बायोकॉन की किरन मजूमदार शॉ हैं। इनकी नेट वेल्थ 4.6 अरब डॉलर है और वह 27वें स्थान पर हैं। वहीं, तीन अरब डॉलर की कुल संपत्ति के साथ यूएसवी की लीना तिवारी 47वें स्थान पर हैं। 

सूची में पहली बार शामिल हुए ये कारोबारी

कोरोना काल में एक ओर जहां लोगों को नुकसान हुआ है, वहीं कई अरबपति ऐसे भी हैं, जिनकी संपत्ति बढ़ी है और फोर्ब्स की सूची में पहली बार उनका नाम शामिल किया गया है। नौकरी डॉट कॉम की पेरेंट कंपनी इंफो ऐज इंडिया लिमिटेड के संस्थापक संजीव भीकचंदानी समेत देश के कुल नौ कारोबारी पहली बार इस सूची में शामिल हुए हैं। संजीव 68वें स्थान पर हैं और उनकी संपत्ति 2.1 अरब डॉलर आंकी गई है। संजीव की कंपनी नोएडा बेस्ड है। इसलिए उन्हें भी नोएडा के खाते का अरबपति माना जा सकता है।

इनके अलावा रिलैक्सो फुटवेयर के रमेश कुमार और मुकुंद लाल दुआ, जेरोधा ब्रोकिंग के नितिन और निखिल कामथ, जीआरटी ज्वेलर्स के जी राजेंद्र, विनाती ऑर्गेनिक्स के विनोद सर्राफ, आरती इंडस्ट्रीज के चंद्रकांत एंड राजेंद्र गोगोई, आईपीसीए लैबोरेट्रीज के प्रेमचंद्र गोधा, एसआरएफ के अरुण भारत राम और हटसन एग्रो प्रोडक्ट्स के आरजी चंद्रर्मोगन भी फोर्ब्स की लिस्ट में पहली बार शामिल हुए हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.