BIG NEWS : गौतमबुद्ध नगर में बुलेट ट्रेन के दो स्टेशन होंगे, दिल्ली से वाराणसी के बीच ऐसा अकेला जिला होगा, यहां बनेंगे स्टेशन

Updated Oct 18, 2020 20:11:05 IST | Mayank Tawer

दिल्ली से वाराणसी के बीच बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर केंद्र सरकार तेजी के साथ काम कर रही है। दिल्ली से चलने के बाद यह ट्रेन Gautam Buddh Nagar जिले...

BIG NEWS : गौतमबुद्ध नगर में बुलेट ट्रेन के दो स्टेशन होंगे, दिल्ली से वाराणसी के बीच ऐसा अकेला जिला होगा, यहां बनेंगे स्टेशन
Photo Credit:  Google Image
प्रतीकात्मक फोटो

Delhi-Varanasi Bullet Train : दिल्ली से वाराणसी के बीच बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर केंद्र सरकार तेजी के साथ काम कर रही है। दिल्ली से चलने के बाद यह ट्रेन Gautam Buddh Nagar जिले में दो स्थानों पर रुकेगी। दिल्ली और वाराणसी के बीच गौतमबुद्ध नगर ऐसा अकेला जिला होगा, जहां यह ट्रेन 2 स्थानों पर रुकेगी। बुलेट ट्रेन का पहला स्टापेज नोएडा के सेक्टर-148 में होगा। दूसरा स्टेशन Jewar International Airport में टर्मिनल-1 के पास बनाया जाएगा। इससे दिल्ली से Noida International Airport जुड़ जाएगा। 300 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली यह ट्रेन ढाई से तीन घंटे में दिल्ली से बनारस पहुंचा देगी।

Noida International Airport Limited (NIAL) जेवर एयरपोर्ट तक दिल्ली से आसान पहुंच बनाने के लिए विकल्पों पर काम कर रहा है। ताकि दिल्ली से आसानी और कम समय में जेवर एयरपोर्ट पहुंचा जा सके। रेल मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश में बुलेट ट्रेन के दो कॉरिडोर बनाने के लिए तैयारी की है। दिल्ली-वाराणसी और वाराणसी-हावड़ा के बीच बुलेट ट्रेन चलाने की योजना है। केंद्र सरकार ने दिल्ली-वाराणसी के बीच बुलेट ट्रेन चलाने की योजना बनाई है। यह रूट दिल्ली से नोएडा और यमुना एक्सप्रेस से होकर लखनऊ जाएगी। नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड ने दिल्ली-वाराणसी रूट पर डाटा कलेक्शन का काम शुरू कर दिया है। इसकी विस्तृत प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार कराने के लिए टेंडर निकाल दिया गया है। डीपीआर में स्टेशन समेत तमाम जानकारी स्पष्ट हो सकेंगी।

उत्तर प्रदेश के कई शहरों को मिलेगा बड़ा फायदा

प्रारंभिक रिपोर्ट बताती है कि दिल्ली व वाराणसी के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन से प्रदेश के कई शहरों को लाभ मिलेगा। दिल्ली के सराय काले खां से शुरू होने वाली इस ट्रेन का पहला स्टेशन गौतम बुद्ध नगर जिले में होगा। नोएडा के सेक्टर-148 में पहला स्टेशन बनाया जाएगा। जबकि दूसरा स्टेशन जेवर में बनाया जाएगा। यह स्टेशन जेवर एयरपोर्ट के टर्मिनल-1 के पास ही बनाया जाएगा ताकि एयरपोर्ट को पूरा फायदा मिल सके। इसके लिए नियाल से नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड ने जानकारी मांगी है ताकि इसको अंतिम रूप दिया जा सके।

डीपीआर बनने के बाद आएगी परियोजना में तेजी

डीपीआर बनने के बाद दिल्ली व वाराणसी के बीच 865 किमी लंबे रूट पर काम में तेजी आएगी। अभी इस रूट के लिए डाटा एकत्र किया जा रहा है। जेवर के पास स्टेशन बनने से गौतम बुद्ध नगर के अलावा गाजियाबाद, अलीगढ़, बुलंदशहर, हाथरस, मथुरा आदि जिले के लोगों को मिल सकेगा। बुलेट ट्रेन में यहां के लोग दिल्ली के बजाय गौतमबुद्ध नगर के स्टेशन से बैठेंगे।

इन जगहों पर बनाए जा सकते हैं स्टेशन

  1. सराय काले खां 
  2. नोएडा सेक्टर-148 
  3. जेवर एयरपोर्ट 
  4. आगरा 
  5. इटावा 
  6. कन्नौज 
  7. लखनऊ 
  8. प्रयागराज 
  9. वाराणसी

परियोजना की कुछ खासियत

Delhi to Varanasi Bullet Train का रूट 865 किमी लंबा होगा। यह दिल्ली-वाराणसी कॉरीडोर कहलाएगा। यह 320 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ेगी। इस परियोजना पर 1.21 लाख करोड़ रुपये की लागत आएगी।

bullet train in Gautam Buddh Nagar, bullet train