Jewar Airport से टूरिज्म और व्यापार बढ़ेगा, यूपी के युवाओं को अपने प्रदेश में रोजगार मिलेंगे

Updated Oct 08, 2020 08:21:12 IST | Rakesh Tyagi

Noida International Airport : जेवर में एयरपोर्ट बनने से टूरिज्म और व्यापार (उद्योग) बढ़ेगा। इन दोनों के लिए यह क्षेत्र भी मुफीद भी है...

Jewar Airport से टूरिज्म और व्यापार बढ़ेगा, यूपी के युवाओं को अपने प्रदेश में रोजगार मिलेंगे
Photo Credit:  Google Image
Demo Picture

Noida International Airport : जेवर में एयरपोर्ट बनने से टूरिज्म और व्यापार (उद्योग) बढ़ेगा। इन दोनों के लिए यह क्षेत्र भी मुफीद भी है। नागरिक उड‘डयन सेक्टर का यूपी-बिहार का कुशल मानव संसाधन दूसरे राज्यों में जाता था। अब उसको अपने प्रदेश में ही रोजगार मिलेगा। यह कहना एविएशन एक्सपर्ट का कहना है।

एविएशन एक्सपर्ट सत्येंद्र पाण्डेय ने कहा कि एनसीआर में एक और अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की जरूरत थी। वह पूरी हो गई है। प्रधानमंत्री ने कहा था कि टूरिज्म, ट्रेड, टेक्नोलॉजी, टैलेंट और ट्रेडीशन में फोकस होना चाहिए। जेवर में एयरपोर्ट के आने से टूरिज्म व ट्रेड तो जरूर आएगा। यहां से आगरा, मथुरा, वृंदावन जैसे शहर नजदीक हैं। इसके लिए सबसे जरूरी है कि कनेक्टिविटी को बढ़ाया जाए। साथ ही यमुना प्राधिकरण औद्योगिक प्राधिकरण है। इसलिए यहां इंडस्ट्री भी आएंगी। इसके अलावा यहां पर होटल इंडस्ट्री की जरूरत होगी। इसका विकास करना होगा। अगर लोग आएंगे-जाएंगे तो उनके ठहरने का इंतजाम करना होगा।

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट फोरम के वाइस चेयरमैन डॉ. हरिवंश चतुर्वेदी ने कहा कि अब भी यूपी बिहार का नागरिक उड्डयन सेक्टर का टैलेंट दूसरे राज्यों में जाता था। लेकिन अब उसे अपने यहां मौका मिलेगा। अगर यहां पर एमआरओ सेक्टर विकसित होता है तो टेक्नोलॉजी पर फोकस बढ़ेगा। अगर विमानों की मरम्मत होने लगेगी तो यहां पर उसके कल-पुर्जे भी बनाने होंगे। जेवर एयरपोर्ट यूपी के लिए बहुत ही अच्छा है। इससे विकास के दरवाजे खुलेंगे।

डॉ. हरिवंश चतुर्वेदी ने कहा, यह बहुत बड़ी परियोजना है। उत्तर प्रदेश सरकार की बड़ी उपलब्धि यह है कि इस प्रोजेक्ट में स्थानीय निवासियों किसानों और नौजवानों को हिस्सेदार बनाया गया है सरकार को परियोजना से आम आदमी को जोड़ने के लिए स्किल डेवलपमेंट पर जोर देना होगा। इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के नेशनल वाइस चेयरमैन जितेंद्र पारीक ने कहा, "पुराने दौर में उद्योग और व्यापार को बढ़ावा देने के लिए ट्रेन और जल मार्गों का विकास किया जाता था। अब वक्त हवाई यातायात के जरिए एक देश से दूसरे देश तक उत्पाद पहुंचाने का है। इस परियोजना की बदौलत हमारे इलाके में देश और दुनिया की तमाम कंपनियां आएंगी।"

जेवर क्षेत्र के किसान और ऐरपोर्ट के भूमि अधिग्रहण की निगरानी करने वाली समिति के सदस्य मोअज्जम खान ने कहा, "जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट उत्तर प्रदेश की इकोनॉमी का ग्रोथ इंजन बनेगा। इससे यहां के किसानों और नौजवानों को बड़ा फायदा मिलेगा। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम लोगों ने अपनी जमीन परियोजना के लिए दी है। आज का दिन ऐतिहासिक है।" परियोजना के लिए जमीन देने के लिए किसानों को यहां के विधायक ठाकुर धीरेन्द्र सिंह ने तैयार किया था। उनका कहना है, "यह प्रोजेक्ट केवल गौतमबुद्ध नगर के लिए नहीं बल्कि पूरे उत्तर भारत का विकास करने के लिए है। यहां के किसानों की कई पीढ़ियों को लाभ मिलेगा। राज्य सरकार और यमुना प्राधिकरण ने किसानों को इस योजना में साझीदार बनाकर बड़ा कदम उठाया है।"

Noida International Airport, Jewar Airport, Zurich Airport, Jewar International Airport, Noida News, Uttar Pradesh News