बाइक बोट घोटाला : संजय भाटी समेत 15 डायरेक्टरों पर दो और एफआईआर दर्ज

बाइक बोट घोटाला : संजय भाटी समेत 15 डायरेक्टरों पर दो और एफआईआर दर्ज

Tricity Today | बाइक बोट घोटाला

बाइक बोट फर्जीवाड़े में केस दर्ज नहीं करने पर एक के बाद एक पीड़ित कोर्ट का दरवाजा खटखटा रहे हैं। अब सोमवार को दो और पीड़ितों ने बाइक बोट कंपनी के पदाधि‌कारियों पर मुक़दमा दर्ज करने के लिए याचिका दायर की है। पीड़ितों ने 2.48 लाख रुपये ठगी का आरोप लगाया है। कोर्ट  ने दादरी  कोतवाली पुलिस को  रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए हैं। पिछले एक सप्ताह में बाइक बोट कम्पनी के निदेशकों के खिलाफ पांच एफआईआर दर्ज की गई हैं।

ज़िला न्यायालय के अधिवक्ता आशुतोष शर्मा ने बताया कि मेरठ के ‌ड्रीम सिटी निवासी विश्वास सिरोही और हापुड़ के मुकेश कुमार ने कोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिकाकर्ताओं ने न्यायालय को बताया कि उन्होंने अलग-अलग 1.24 लाख कुल 2.48 लाख रुपये बाइक बोट कंपनी में लगाए थे। आरोपियों ने झाँसा दिया था कि उन्हें क़िस्तों में दो गुना रक़म वापस दी जाएगी। लेकिन कम्पनी ने उनका पैसा हड़प लिया। न्यायालय ने याचिका पर सुनवाई करते हुए दादरी कोतवाली पुलिस को केस दर्ज करने के आदेश दिए हैं। पुलिस का कहना है आदेश की कापी मिलने पर मुक़दमा दर्ज कर जाँच शुरू की जाएगी।

इससे पहले दादरी कोतवाली पुलिस ने बताया कि मुख्य आरोपित संजय भाटी, उनकी पत्नी दीप्ति बहल के अलावा पवन भाटी, करनपाल, विजयपाल कसाना, सचिन, रीता चौधरी, तरुण शर्मा, आदेश भाटी, राजेश, अरुण त्रिगुनायत, वरुण त्रिगुनायत, सुनील प्रजापति, नैनपाल सिंह, डॉ.भूपेंद्र सिंह पर मुदकमा दर्ज किया गया है। ये सरे लोग घोटाला करने वाली कंपनी में निदेशक और दूसरे उच्च पदों पर काम कर रहे थे। पुलिस का कहना है कि दोनों एफआईआर अदालत के आदेश पर दर्ज कर ली गई हैं। जांच की जा रही है।

आपको बता दें कि बाइक बोट फर्जीवाड़े में शुक्रवार को भी जिला न्यायालय के आदेश पर दादरी कोतवाली में राजस्थान से कांग्रेस के विधायक जोगिंदर अवाना और नोबल कोऑपरेटिव बैंक के सीईओ समेत 58 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था। बाइक बोट फर्जीवाड़े के शिकार 632 पीड़ितों की याचिका पर सुनवाई करके अदालत ने मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए थे। इनमें कई नए आरोपी हैं, जो अब तक फर्जीवाड़े में नामजद नहीं हुए थे। फर्जीवाड़े का मुख्यारोपी संजय भाटी भी बसपा का गौतमबुद्ध नगर लोकसभा क्षेत्र का प्रभारी रह चुका है। विधायक जोगिन्दर अवाना को संजय भाटी के रिश्तेदार बताये जा रहे हैं। निवेशकों ने आरोपियों पर रक्तदान शिविर लगाकार खून बेचने का भी आरोप लगाया है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.