BIG NEWS: यमुना सिटी में दो थाने और बनेंगे, यमुना एक्सप्रेस वे के लिए अलग पुलिस टीम तैनात होगी

Updated Sep 24, 2020 21:14:39 IST | Anika Gupta

यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में आने वाले उद्योगों, फिल्म सिटी, एयरपोर्ट आदि को देखते हुए यहां की सुरक्षा व्यवस्था को और दुरुस्त किया जाएगा। यहां पर नये थानों की स्थापना..

BIG NEWS: यमुना सिटी में दो थाने और बनेंगे, यमुना एक्सप्रेस वे के लिए अलग पुलिस टीम तैनात होगी
Photo Credit:  Google Image
Yamuna Expressway

यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में आने वाले उद्योगों, फिल्म सिटी, एयरपोर्ट आदि को देखते हुए यहां की सुरक्षा व्यवस्था को और दुरुस्त किया जाएगा। यहां पर नये थानों की स्थापना और एक्सप्रेस वे पर सभी जिलों की पुलिस के बीच बेहतर तालमेल की कवायद शुरू हुई है। साथ ही एक्सप्रेस वे के लिए अलग से पुलिस टीम बनाने का भी प्रस्ताव है। यमुना प्राधिकरण अब नये सिरे से यह प्रस्ताव शासन को भेजने की तैयारी में है ताकि इस पर काम शुरू किया जा सके।

यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में निवेश तेजी से बढ़ा है। एयरपोर्ट के बाद फिल्म सिटी की घोषणा ने इस इलाके के विकास की नई इबारत की कहानी को बढ़ा दिया है। प्राधिकरण क्षेत्रों सैकड़ों देसी-विदेशी कंपनियों ने जमीन आवंटित कराई है। अब इन पर काम भी शुरू होगा। इसके अलावा यमुना प्राधिकरण आवासीय सेक्टरों में आवंटियों को कब्जा दे रहा है। अकेले सेक्टर-18 व 20 में 20 हजार से अधिक आवंटी हैं। इसके अलावा सेक्टर-22 डी, सेक्टर-17 समेत कई सेक्टरों में आवंटियों को कब्जा दिया जाना है। इन सबके बीच इस इलाके की सुरक्षा व्यवस्था पर भी काम शुरू करने की तैयारी है ताकि यहां आने वाले लोगों को किसी तरह की दिक्कत ना हो।

पहले भी दो थानों का भेजा जा चुका प्रस्ताव

यमुना प्राधिकरण ने पूर्व में शासन को एक प्रस्ताव भेजा था। इसमें यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में दो नये पुलिस थानों की स्थापना का अनुरोध किया गया था। प्राधिकरण ने इसके लिए निशुल्क जमीन देने का भी प्रस्ताव दिया था। इसके अलावा यमुना एक्सप्रेस वे का क्षेत्र छह जिलों गौतमबुद्ध नगर, बुलंदशहर, अलीगढ़, हाथरस, मथुरा व आगरा का आता है। इन जिलों की पुलिस के बीच आपसी सामंजस्य बढ़ाने पर कार्ययोजना बनानी थी। यमुना प्राधिकरण अब इस प्रस्ताव को फिर भेजेगा ताकि यहां पर नये थानों की स्थापना की जा सके।

एक्सप्रेस वे के लिए अलग पुलिस टीम की योजना

यमुना प्राधिकरण इसमें एक और प्रस्ताव शामिल करेगा। योजना है कि यमुना एक्सप्रेस वे के लिए अलग से पुलिस टीम गठित की जाए। ताकि एक्सप्रेस वे पर होने वाले अपराध पर अंकुश लग सके। साथ ही पीड़ित को इधर-उधर भटकना नहीं पड़े। अभी तक एक्सप्रेस वे पर पड़ने वाले छह जिलों की पुलिस अपने-अपने इलाके में अपराधों पर नियंत्रण करती है। प्राधिकरण के अधिकारी इन प्रस्तावों को जल्द ही भेजेंगे।

यमुना सिटी की सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए पहले एक प्रस्ताव भेजा गया था। दो थाने बनाने का प्रस्ताव था। फिर से यह प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा।
-डॉ. अरुणवीर सिंह, सीईओ यमुना प्राधिकरण

Yamuna City, Yamuna Authority, Film City