सुपरटेक और अंसल बिल्डर के खिलाफ यूपी रेरा ने दिया बड़ा आदेश, 7 हाऊसिंग प्रोजेक्ट का फॉरेंसिक ऑडिट होगा

Updated Sep 03, 2020 01:16:40 IST | Rakesh Tyagi

Uttar Pradesh Real Estate Regulatory Authority (UP RERA) ने बुधवार को राज्य के दो बोल्डरों के खिलाफ बड़ा आदेश दिया है। नोएडा में सुपरटेक और लखनऊ...

सुपरटेक और अंसल बिल्डर के खिलाफ यूपी रेरा ने दिया बड़ा आदेश, 7 हाऊसिंग प्रोजेक्ट का फॉरेंसिक ऑडिट होगा
Photo Credit:  Tricity Today
सुपरटेक और अंसल बिल्डर के खिलाफ यूपी रेरा ने फॉरेंसिक ऑडिट का आदेश दिया है।

Uttar Pradesh Real Estate Regulatory Authority (UP RERA) ने बुधवार को राज्य के दो बोल्डरों के खिलाफ बड़ा आदेश दिया है। नोएडा में Supertech और लखनऊ में Ansal API बिल्डर के खिलाफ घर खरीदारों की शिकायत पर यह फैसला सुनाया गया है। इन दोनों बिल्डरों की 7 आवासीय परियोजनाओं का फॉरेंसिक ऑडिट किया जाएगा। घर खरीदारों ने इनके खिलाफ उनसे लिए गए वैसे का दुरूपयोग करने की शिकायत रेरा में की थी।

यूपी रेरा से मिली जानकारी के मुताबिक, सुपरटेक बिल्डर के चार और अंसल बिल्डर के तीन प्रोजेक्ट इस फैसले के दायरे में शामिल हैं। इतना ही नहीं, न्यायिक अधिकरण ने पिछले आदेशों का पालन नहीं करने पर दोनों बिल्डर को नोटिस जारी किया है। अंसल एपीआई को 15 दिन और सुपरटेक को 30 दिनों में इन नोटिस का जवाब देना होगा। अगर बिल्डरों ने इस बार जवाब नहीं दिया तो इनके प्रोजेक्ट का रजिस्ट्रेशन रेरा से ख़ारिज कर दिया जाएगा।

यूपी रेरा के सचिव अबरार अहमद ने कहा, "लखनऊ के अंसल एपीआई बिल्डर के खिलाफ घर खरीदारों की शिकायतों पर सुनवाई के बाद 9 जुलाई 2019 को अंतरिम आदेश दिया गया था। लेकिन बिल्डर ने आदेश का पालन नहीं किया। घर खरीदारों का आरोप है कि बिल्डर ने प्रोजेक्ट का पैसा दूसरी जगह निवेश किया है। बिल्डर को 9 शर्तों को पूरा करने के लिए 4 महीने का वक्त दिया था। अब 28 अगस्त को रेरा की बैठक के बाद बिल्डर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। अगर अबकी बार बिल्डर ने 15 दिनों में जवाब नहीं दिया तो प्रोजेक्ट का रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया जाएगा।"

रेरा के सचिव अबरार अहमद ने आगे ने कहा, बिल्डर को 15 दिनों के अंदर जवाब देना होगा। अगर बिल्डर ने जवाब नहीं दिया तो प्रोजेक्ट का पंजीकरण रद्द कर दिया जाएगा। इनमें अंसल एपीआई के ब्लिस डिलाइट ब्लॉक वन, टू, थ्री और फोर, अंसल एपीआई पॉकेट फोर, सेक्टर ओ, सेक्टर पी, सेक्टर जे, सेक्टर ए और सेक्टर के शामिल हैं। अंसल बिल्डर के तीन प्रोजेक्ट का फॉरेसिंक ऑडिट किया जाएगा।

नोएडा में सुपरनोवा का भी फोरेंसिक ऑडिट होगा

यूपी रेरा में सुपरटेक के सुपरनोवा फेज चार प्रोजेक्ट का पंजीकरण कुछ शर्तों के साथ किया गया था। सुपरटेक के चेयरमैन आरके अरोड़ा ने यूपी रेरा को आश्वासन दिया था कि वह छह माह के अंदर परियोजना का पुनः सत्यापित नक्शा जमा करेंगे। उसका आवेदन प्राधिकरण के पास लंबित है। जल्द ही मामला निस्तारित हो जाएगा। इस साल एक बार फिर फरवरी में नोटिस जारी किया गया और नक्शा जमा करने को कहा गया था। उन्हें पंजीकरण रद्द करने की चेतावनी दी गई थी। लेकिन सुपरटेक की ओर से कोई जवाब नहीं दिया गया है। जिस पर यूपी रेरा ने बिल्डर को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। अब एक कार फिर 30 दिन के अंदर जवाब देना होगा। जवाब नहीं देने पर पंजीकरण रद्द कर दिया जाएगा।

सुपरटेक बिल्डर के इन 4 प्रोजेक्ट का ऑडिट किया जाएगा 

  1. सुपरनोवा फेस एक
  2. सुपरनोवा फेस दो
  3. सुपरनोवा फेस तीन
  4. सुपरनोवा फेस चार

अंसल एपीआई के इन 3 प्रोजेक्ट का ऑडिट किया जाएगा

  1. गोल्फ रेजीडेंसिया सेक्टर एच सुशांत गोल्फ सिटी
  2. सुशांत गोल्फ सिटी सेक्टर जी कॉमर्शियल लेआउट
  3. अंसल बिजनेस पार्क-2
Supertech Builder, Ansal API Builder, UP RERA, Real Estate Regulatory Authority, Greater Noida Authority, Noida Authority

Trending

नोएडा
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
नोएडा पुलिस ने दो बिल्डर जेल भेजे, निवेशकों के करोड़ों हड़पे और फिर गैंगस्टर सुंदर भाटी और अनिल दुजाना से मरवाने की धमकी दी
उत्तर प्रदेश
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
यूपी में बच्चों के लिए योगी आदित्यनाथ की बड़ी घोषणा, कुपोषित बच्चों के परिवार को मिलेगी गाय, 900 रुपये महीना भी मिलेंगे
ग्रेटर नोएडा
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
शारदा यूनिवर्सिटी की सेमिनार में बोले जस्टिस दीपक मिश्रा- लोकतंत्र की रक्षा में न्याय पालिका ने कई मौकों पर अपनी भूमिका निभाई
ग्रेटर नोएडा
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
साठा चौरासी का आरोप- दादरी के 18 गांवों का अस्तित्व समाप्त करना बड़ी साजिश
यमुना सिटी
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका
खुशखबरी : जनवरी में आएगी छोटे आवासीय भूखंडों की योजना, जेवर एयरपोर्ट के पास बसने का एक और सुनहरा मौका

Most Viewed

ग्रेटर नोएडा वेस्ट
BIG NEWS : सुपरटेक और अजनारा समेत आठ बिल्डरों के 30 बैंक खाते कुर्क, 70 बिल्डरों से 150 करोड़ और वसूलेगा गौतमबुद्ध नगर प्रशासन
BIG NEWS : सुपरटेक और अजनारा समेत आठ बिल्डरों के 30 बैंक खाते कुर्क, 70 बिल्डरों से 150 करोड़ और वसूलेगा गौतमबुद्ध नगर प्रशासन
ग्रेटर नोएडा वेस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों के लिए बड़ी खबर, 65 करोड़ रुपये का तोहफा मिलेगा, पूरी जानकारी
ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों के लिए बड़ी खबर, 65 करोड़ रुपये का तोहफा मिलेगा, पूरी जानकारी
यमुना सिटी
फिल्म सिटी का खाका खींचने के लिए 18 नवंबर को होगा मंथन, देश-दुनिया के विशेषज्ञ जुटेंगे
फिल्म सिटी का खाका खींचने के लिए 18 नवंबर को होगा मंथन, देश-दुनिया के विशेषज्ञ जुटेंगे
यमुना सिटी
BIG BREAKING : यमुना प्राधिकरण के 96 गांवों के लिए खुशखबरी, जमीन का मुआवजा बढ़ाने का ऐलान, एक लाख किसानों को मिलेगा लाभ, गावों की पूरी लिस्ट
BIG BREAKING : यमुना प्राधिकरण के 96 गांवों के लिए खुशखबरी, जमीन का मुआवजा बढ़ाने का ऐलान, एक लाख किसानों को मिलेगा लाभ, गावों की पूरी लिस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट
ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा, ऊपर से मेट्रो और नीचे से गुजरेंगी
ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गौड़ चौक को पूरी तरह बदला जाएगा, ऊपर से मेट्रो और नीचे से गुजरेंगी