योगी आदित्यनाथ ने जेवर के किसानों की दिल खोलकर प्रशंसा की, पढ़िए क्या और क्यों बोले सीएम

योगी आदित्यनाथ ने जेवर के किसानों की दिल खोलकर प्रशंसा की, पढ़िए क्या और क्यों बोले सीएम

Tricity Today | Yogi Adityanath

बेहद गम्भीर और सधे अंदाज में बोलने वाले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जेवर के उन किसानों की मुक्तकंठ से प्रशंसा की, जिन्होंने जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए अपनी जमीन दी हैं। इतना ही नहीं किसानों के साथ-साथ जेवर के विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह की भी तारीफ की। लगे हाथ मुख्यमंत्री ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी को नसीहतें भी दे डालीं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी विधानसभा में कहा, जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के किसानों ने एक नजीर पेश की है। देश के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ होगा कि किसान खुद चलकर मुख्यमंत्री के घर आए और बोले कि ये लीजिए हमारी जमीन के कागजात और काम कीजिए। हमने भी किसानों का पूरा ख्याल रखा। उन्हें बिना किसी परेशानी के पारदर्शी ढंग से जमीन का मुआवजा दिया। किसानों ने बिना हिचक अपनी जमीन दी। निर्धारित समय में पूरी भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया पूरी हो गई है।

इसके आगे मुख्यमंत्री ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर निशाना साधते हुए सदन को याद दिलाया कि उस समय इसी जेवर क्षेत्र में भट्टा परसौल जैसी शर्मनाक और दर्दनाक घटना घटित हुई थी। जब किसानों से जमीन लेने के लिए गोलियां चलाई गई थीं। वह घटनाएं पूरी मानवता के लिए शर्मसार करने वाली थी। भट्टा परसौल के अलावा कई और घटनाएं उस वक्त हुई थीं। सीएम ने कहा, यहां हमारे जेवर क्षेत्र के विधायक बैठे हैं। वह बता सकते हैं। लेकिन हमारी सरकार ने किसानों को साफ कहा कि बिल्कुल चिंता नहीं करें, हम कोई परेशानी नहीं होने देंगे। इस हाथ जमीन लेंगे और दूसरे हाथ तुरन्त मुआवजा देंगे। आगे भी सरकार किसानों का ख्याल रखेगी।

सीएम ने कहा, हमारी सरकार ने विकास का एक मॉडल पेश किया है। मैं अभिनन्दन करूंगा जेवर क्षेत्र के उन सारे किसानों का, जिन्होंने विकास के लिए जमीन दी। मैं जेवर गया था और किसानों से मिला था। किसानों से और जनप्रतिनिधियों से सीधे संवाद किया था। मैंने उनसे कहा था, हम आपको उतना मुआवजा देंगे, जितना एकबार तय हो जाएगा। आप एक हाथ से मुआवजा लीजिए और दूसरे हाथ से जमीन की रजिस्ट्री कर दीजिए। पहली बार हुआ जब किसान अपनी जमीन के दस्तावेज लेकर सीएम आवास आते हैं और मुख्यमंत्री को दस्तावेज सौंपते हुए कहते हैं कि हम यह जमीन जेवर एयरपोर्ट को देना चाहते हैं। सरकार ने कम्पनशेसन दिया है और हमने अपनी जमीन दी है। हम चाहते हैं एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट हमारे यहां बने। करीब 5 मिनट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जेवर एयरपोर्ट पर बोलते रहे।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.