मायानगरी में योगी : मुख्यमंत्री ने शिव सेना और महाराष्ट्र सरकार को दिया जवाब, कहा- फिल्म उद्योग को मुंबई से बाहर ले जाने का कोई इरादा नहीं

मायानगरी में योगी : मुख्यमंत्री ने शिव सेना और महाराष्ट्र सरकार को दिया जवाब, कहा- फिल्म उद्योग को मुंबई से बाहर ले जाने का कोई इरादा नहीं

Tricity Today | Yogi Adityanath

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP Chief Minister Yogi Adityanath) ने बुधवार को कहा कि उनके राज्य की फिल्म उद्योग को मुंबई से बाहर ले जाने की इच्छा नहीं है। उन्होंने मुंबई में संवाददाताओं से कहा, हालांकि यह खुली प्रतिस्पर्धा है और जो प्रतिभा को उभरने के लिए सही माहौल और सुरक्षा दे सकेगा, उसे निवेश मिलेगा। दरअसल, योगी की मुंबई यात्रा को लेकर शिव सेना के नेता संजय राउत ने बयान दिया था कि कोई बॉलीवुड को मुंबई से नहीं ले जा पाएगा।

योगी की मुंबई यात्रा से पहले महाराष्ट्र के सत्तारूढ़ गठबंधन के घटक कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि फिल्म सिटी को मुंबई से छीन कर उत्तर प्रदेश ले जाने की साजिश रची जा रही है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी कहा था कि किसी को फिल्मोद्योग को “जबरन” यहां से ले जाने नहीं दिया जाएगा। आदित्यनाथ ने कहा, “हम किसी का निवेश नहीं छीन रहे हैं।” उन्होंने कहा, “कोई अपने साथ कुछ नहीं ले जा सकता। यह कोई पर्स नहीं है जिसे ले जाया सकता है। यह खुली प्रतिस्पर्धा है। जो सुरक्षित माहौल, बेहतर सुविधाएं और विशेष रूप से सामाजिक सुरक्षा दे सकेगा, उसे निवेश प्राप्त होगा।” 

महाराष्ट्र की गठबंधन सरकार के अगुवा दल शिवसेना के सांसद संजय राउत के बयान का जवाब देते हुए आदित्यनाथ ने कहा, “हम यहां से कुछ लेकर जाने के लिए नहीं आए हैं। हम कुछ नया निर्माण कर रहे हैं। आप क्यों चिंतित हो रहे हैं? हम सभी को विश्व स्तरीय अवसंरचना दे रहे हैं। इसलिए सभी को ऊपर उठकर सोचना चाहिए, सोच का दायरा बढ़ाना चाहिए और बेहतर सुविधाएं देनी चाहिए। जो यह कर सकेगा उसे लोग मिलेंगे।” राउत ने कहा था कि किसी भी अन्य शहर में फिल्मसिटी जैसी सिटी खड़ी करना एक मुश्किल कार्य है। 

इन सारे बयानों पर आदित्यनाथ ने कहा कि उन्होंने निर्देशकों, निर्माताओं और अभिनेताओं समेत बॉलीवुड के विशेषज्ञों से मुलाकात की। उनसे ग्रेटर नोएडा में 1000 एकड़ क्षेत्र में बनने वाली फिल्म सिटी पर चर्चा की। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रेटर नोएडा फिल्म सिटी जेवर हवाई अड्डे से छह किलोमीटर दूर स्थित होगी। दिल्ली, आगरा और मथुरा से भी जुड़ी होगी। उन्होंने यहां नरीमन प्वाइंट इलाके के ट्राइडेंट होटल में एक घंटे तक बॉलीवुड के प्रतिनिधिमंडल के साथ चर्चा की।

इस बैठक में राहुल मित्रा भी थे। उनके अनुसार बैठक में फिल्मकार बोनी कपूर, मनमोहन शेट्टी, जयंतीलाल गडा, तिग्मांशु धूलिया, अनिल शर्मा, हनी त्रेहान और उमेश शुक्ला भी पहुंचे थे। अर्जुन रामपाल, सतीश कौशिक और रवि किशन जैसे कलाकारों ने भी इस बैठक में हिस्सा लिया। मित्रा ने कहा, ''योगीजी ने हमसे कहा कि यह बस सरकार की योजना न हो, सरकार और फिल्म उद्योग हाथ मिलाएं और विश्वस्तरीय फिल्मसिटी बनाएं। उन्होंने इस संबंध में अपनी दिशादृष्टि पेश की कि वह कैसे इसे विकसित करना चाहते है और इलाके एवं वहां विकसित होने वाली सुविधाओं की एक रूपरेखा भी उन्होंने पेश की। 

उन्होंने कहा, ''योगी जी स्पष्ट थे कि इसका निर्माण हमारे सुझावों और तालमेल से किया जाएगा। आज की बैठक संवाद की शुरुआत है। हमतक पहुंचने और अपनी दिशादृष्टि के प्रति हमारा समर्थन मांगने के लिए मैं उनकी प्रशंसा करता हूं।" बैठक में शामिल हुए एक फिल्म निर्माता ने कहा कि उत्तर प्रदेश में फिल्म निर्माण के बारे में उनके सामने एक प्रस्तुति पेश की गयी लेकिन कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया है।"

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.