दुखदः नोएडा प्राधिकरण के आधा दर्जन कर्मचारियों की कोरोना से मौत, महामारी से संक्रमितों की संख्या बढ़ी

नोएडा प्राधिकरण के आधा दर्जन कर्मचारियों की कोरोना से मौत, महामारी से संक्रमितों की संख्या बढ़ी

Tricity Today | प्राधिकरण के आधा दर्जन कर्मचारियों की कोरोना से मौत

कोरोना महामारी की वजह से पूरा देश असीम पीड़ा में है। यूपी भी संक्रमितों की सूची में चौथे पायदान पर है। रोजाना 30 हजार के करीब मरीज मिल रहे हैं। यूपी की आर्थिक राजधानी गौतमबुद्ध नगर में भी कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। इससे शहर में कुछ अछूता नहीं है। इस बीच महामारी से नोएडा प्राधिकरण के अफसरों-कर्मचारियों की मौत का सिलसिला भी लगातार जारी है। एक दिन पहले मंगलवार को जल विभाग में तैनात एक जेई की मौत हो गई।

पिछले हफ्ते के दौरान अथॉरिटी के करीब आधा दर्जन कर्मचारियों की जान गई। बीते सोमवार को ही जल विभाग के वरिष्ठ प्रबंधक योगेंद्र कुमार कोरोना का शिकार हो गए थे। उसके एक हफ्ते पहले ही उनकी माता स्वर्गवासी हुई थीं। नोएडा प्राधिकरण के जल विभाग में तैनात संदीप गर्ग (40 वर्ष) कोरोना से संक्रमित थे। बीते मंगलवार को उनकी मौत हो गई। करीब एक हफ्ते पहले उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रात में इनकी तबियत अचानक बिगड़ गई। हालांकि मंगलवार तड़के कुछ सुधार आया था। लेकिन कुछ घंटे बाद ही वह इस दुनिया को अलविदा कह गए। 

इनके अलावा उद्यानकर्मी जगन सिंह (37 साल) की भी कोरोना से जान चली गई। उद्यान विभाग में ही कार्यरत स्नेहलता कोरोना का शिकार हो गईं। दो दिन पहले उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। लेकिन उन्हें अचानक दिल का दौरा पड़ा और उनकी मौत हो गई। प्राधिकरण के अफसरों ने बताया कि बिजली विभाग में तैनात बाबूराम, वर्क सर्किल-8 के मैनेजर नबाव सिंह, सीईओ ऋतु महेश्वरी के पीए अरविंद यादव के पिता, सीईओ के निजी सचिव के पिता और जल विभाग में कार्यरत मैनेजर एपी वार्ष्णेय की पत्नी की कोरोना के कारण जान गई है।
sp;

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.