बीजेपी ने आपातकाल की घटना पर कार्यकर्ताओं को किया रूबरू, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय प्रवक्ता रहे मौजूद

नोएडा : बीजेपी ने आपातकाल की घटना पर कार्यकर्ताओं को किया रूबरू, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय प्रवक्ता रहे मौजूद

बीजेपी ने आपातकाल की घटना पर कार्यकर्ताओं को किया रूबरू, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय प्रवक्ता रहे मौजूद

Tricity Today | कार्यक्रम का आयोजन

बीजेपी ने आपातकाल की घटना पर कार्यकर्ताओं को किया रूबरू, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय प्रवक्ता रहे मौजूद Noida : भारतीय जनता युवा मोर्चा नोएडा महानगर ने भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष एवं सदस्य विधान परिषद उत्तर प्रदेश प्रांशु दत्त द्विवेदी के मार्गदर्शन में और भाजयुमो नोएडा महानगर जिलाध्यक्ष रामनिवास यादव के नेतृत्व में भाजपा जिला कार्यालय सेक्टर-116 में आपातकाल के विषय पर गोष्ठी का आयोजन किया।

25 जून 1975 की मध्यरात्रि
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष डॉक्टर शिवबीर सिंह भदौरिया ने युवाओं को संबोधित करते हुए बताया कि किस प्रकार से 25 जून 1975 की मध्यरात्रि में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने भारतीय लोकतंत्र के इतिहास पर आपातकाल नामक काला धब्बा लगा दिया।

आपातकाल की घोषणा
उन्होंने बताया कि अनियमितताओं के कारण इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उनका चुनाव निरस्त करते हुए इंदिरा गांधी को 6 वर्ष तक चुनाव लड़ने से प्रतिबंधित कर दिया था, इस प्रकार अपने हाथ से सत्ता फिसलती देखकर इंदिरा गांधी ने देश में आपातकाल की घोषणा कर दी और सभी नागरिकों के लोकतांत्रिक अधिकारों को छीन लिया। साथ ही प्रेस पर भी सेंसर लगा दिया और सभी गैर कांग्रेसी नेताओं को एक-एक करके जेल में कैद कर दिया। जेल में कांग्रेस की तानाशाही सरकार द्वारा लोकतंत्र सेनानियों को दी गई

कन्या रत्न को जन्म
शिवबीर भदौरिया ने बताया कि कानपुर की जनसंघ की नेत्री प्रेमलता कटियार को जब वह 7 माह की गर्भवती थी तब भी उनको जेल में कैद कर दिया गया और जेल में ही उन्होंने कन्या रत्न को जन्म दिया। उन्होंने बताया लोकतंत्र सेनानियों को जेल में अनेकों यातनाएं दी गई और बहुत से सेनानियों के हाथों की उंगलियों के नाखून तक निकाल लिए गए। शिवबीर भदौरिया ने युवाओं से सभी लोकतंत्र सेनानियों से मिलकर उनके अनुभवों को सुन करके जन-जन तक साझा करने का आग्रह किया।

जेल में कैद
कार्यक्रम में युवाओं को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता, भाजपा राष्ट्रीय प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने बताया इंदिरा गांधी की सरकार ने आपातकाल की घोषणा करने के पश्चात उनके परिवार को अनेक यातनाएं दी और उनको, उनकी माता जी एवं पिता को भी अलग-अलग जेल में कैद कर दिया था।

रात दिन सहयोग अभियान
गोपाल कृष्ण ने बताया कि लोकतंत्र को जीवित रखने के लिए लोकतंत्र सेनानियों ने छोटी-छोटी टोलियां बनाकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों के नेतृत्व में सभी लोकतंत्र सेनानियों के परिवार वालों की दैनिक आवश्यकताएं एवं शिक्षा व्यवस्था सुचारू रूप से चले, इसकी चिंता करते हुए रात दिन सहयोग अभियान चलाकर सभी को यथासंभव सहायता उपलब्ध कराने का प्रयास किया। 

स्वयंसेवकों का महत्वपूर्ण योगदान
उन्होंने बताया कि आज भारत में लोकतंत्र जीवित है तो उसके पीछे लोकतंत्र सेनानियों और उनके परिवार वालों की चिंता करने वाले स्वयंसेवकों का महत्वपूर्ण योगदान है। 2 वर्ष पश्चात जब आपातकाल हटा तो किस प्रकार से 350 सीटें जीतने वाली कांग्रेस 150 सीटों पर सिमट कर रह गई और जनता पार्टी के नेतृत्व में मोरारजी देसाई भारत के प्रधानमंत्री बने।

कार्यक्रम का समापन भाषण
कार्यक्रम के समापन भाषण में भाजयुमो जिलाध्यक्ष रामनिवास यादव ने सभी लोकतंत्र सेनानियों को बारंबार प्रणाम किया और भारत में लोकतंत्र को जीवित रखने के लिए सभी को सहृदय धन्यवाद ज्ञापित किया।

यह लोग रहे उपस्थित
इस कार्यक्रम में भाजयुमो क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सुनील नागर, भाजपा नोएडा महानगर जिला मंत्री चमन अवाना, भाजयुमो गौतमबुद्ध नगर जिला अध्यक्ष राजनगर, मोहित शर्मा, अनुज प्रधान, विपुल शर्मा, राजू पंडित, नवीन मिश्रा, अर्पित मिश्रा, सत्यम सिंह, रितेश वर्मा, तुषार गोयल आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.