NOIDA BREAKING : कंपनी ने कर्मचारियों से की 30 लाख रुपये की ठगी, हुआ हंगामा

कंपनी ने कर्मचारियों से की 30 लाख रुपये की ठगी, हुआ हंगामा

Tricity Today | कंपनी ने कर्मचारियों से की 30 लाख रुपये की ठगी

नोएडा के थाना सेक्टर-20 क्षेत्र के सेक्टर-16 में स्थित अर्बन कंपनी के कर्मचारियों ने सोमवार, 22 फरवरी को जमकर हंगामा किया है। आज सुबह करीब 200 कर्मचारी कंपनी के गेट के सामने इकट्ठा हुए और प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की। सभी कर्मचारियों ने कंपनी मैनेजमेंट पर उन्हें झांसा देकर ठगी करने का आरोप लगाया है। कंपनी ने अपने कर्मचारियों को हर महीने मोटी रकम कमाने का झांसा देकर 30 लाख रुपए की ठगी की है। 

लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मामले की गंभीरता को समझते हुए सेक्टर-20 थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। कर्मचारियों को समझा-बुझाकर वहां से हटा दिया गया है और कंपनी प्रबंधन से इस बारे में बात की जा रही है। इसके बाद कंपनी ने एक नई स्कीम शुरू की। इसमें कर्मचारियों को महीने में एक लाख रुपये  तक कमाने का झांसा दिया। बदले में प्रत्येक कर्मचारी से 15 हजार रुपये जमा करवाए गए। साथ ही शुल्क के नाम पर मोटी रकम मांगी गई। 

इसके बाद कर्मचारियों को ठगी का एहसास हुआ। उन्होंने कंपनी प्रबंधन से इस बारे में बात करने की कोशिश की। पर उन्हें कोई स्पष्ट जवाब नहीं मिला। इससे गुस्साए करीब 200 कर्मचारी कंपनी के गेट पर पहुंच गए। उन्होंने मैनेजमेंट के खिलाफ नारेबाजी की और पैसे वापस मांगे। कर्मचारियों की भारी संख्या को देखते हुए नोएडा सेक्टर-20 थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने कर्मचारियों को समझा-बुझाकर वापस भेज दिया है। मैनेजमेंट से इस बारे में जानकारी हासिल की जा रही है। 

पुलिस पता लगा रही है कि आखिर प्रबंधन इस तरह स्टॉफ को एक लाख रुपये महीना कमाने का झांसा कैसे दे रही थी। अगर कुछ गड़बड़ी पाई गई, तो कंपनी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। बताते चलें कि अर्बन कंपनी रोजमर्रा की सेवाएं मुहैया कराती है। इसमें इंस्टॉलेशन, रिपेयर और मेंटिनेंस जैसी जरूरी सुविधाएं शामिल हैं। इसके बदले कंपनी कर्मचारियों को कॉन्ट्रैक्ट पर रोजगार देती है। बदले में 20 फीसदी कमीशन चार्ज करती है। कुछ वक्त पहले ही मैनेजमेंट ने इसे बढ़ाकर 25 प्रतिशत कर दिया था। इससे भी कर्मचारी काफी आक्रोशित हैं। उनका कहना था कि उनकी कमाई का एक बड़ा हिस्सा कंपनी ले रही है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.