स्कूलों के सामने और बाजारों में नहीं लगेगा ट्रैफिक जाम, जानिए क्या करने जा रहा प्राधिकरण

नोएडा से अच्छी खबर : स्कूलों के सामने और बाजारों में नहीं लगेगा ट्रैफिक जाम, जानिए क्या करने जा रहा प्राधिकरण

स्कूलों के सामने और बाजारों में नहीं लगेगा ट्रैफिक जाम, जानिए क्या करने जा रहा प्राधिकरण

Google Image | प्रतीकात्मक फोटो

स्कूलों के सामने और बाजारों में नहीं लगेगा ट्रैफिक जाम, जानिए क्या करने जा रहा प्राधिकरण Noida : नोएडा में जाम लगने की समस्याओं से लोगों को हर दिन कहीं ना कहीं जूझना पड़ता है। शहर के लोगों को अधिक समस्याओं से जूझना ना पड़े, इसको लेकर नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु महेश्वरी ने नोएडा ट्रैफिक को निर्देश जारी कर दिए हैं। प्रमुख सड़कों पर लगने वाले जाम के अलावा शहर में स्कूल, कॉलेज, बाजार, अस्पताल आदि के पास लगने वाले जाम की समस्या को देखते हुए इनके आसपास पार्किंग व्यवस्था देने के लिए सर्वे कराया जाएगा। जहां पार्किंग की जरूरत होगी, वहां पर व्यवस्था कराई जाएगी।

अवैध पार्किंग और वाहनों के खिलाफ अभियान
सीईओ रितु माहेश्वरी ने बताया कि जिन स्थानों पर पार्किंग की जरूरत होगी, वहां पर सरफेस पार्किंग की सुविधा दी जाएगी। इसके लिए क्लस्टर तैयार कर पार्किंग के टेंडर निकाले जाएंगे। उन्होंने नोएडा ट्रैफिक सेल को निर्देश दिया कि सभी वर्क सर्किल से समन्वय कर अवैध पार्किंग और वाहनों के खिलाफ अभियान शुरू किया जाए। इसमें पुलिस का भी सहयोग लिया जाए।

पार्किंग में हो गाड़ी खड़ी : सीईओ
सीईओ ने कहा कि वर्क सर्किल-1 और 2 के अंतर्गत सभी बहुमंजिला पार्किंग से प्राप्त होने वाली आय को बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। आय से ज्यादा खर्चा न किया जाए। पार्किंग में अधिक से अधिक गाड़ियां खड़ी कराने के लिए कहा गया। पार्किंग से गंतव्य तक पहुंचाने के लिए बेहतर रूप से ई-रिक्शा की सुविधा देने के निर्देश दिए गए हैं।

प्रधान महाप्रबंधक जल्द करेंगे गाइडलाइंस जारी
इसके अलावा रितु माहेश्वरी ने संबंधित अधिकारियों, वरिष्ठ प्रबंधक और उनकी टीम के सदस्यों को अपने क्षेत्र में चल रहीं परियोजनाओं का रोजाना स्थल निरीक्षण कर गुणवत्ता और सुरक्षा की मॉनीटीरिग करने का निर्देश दिया है। निरीक्षण संबंधी विवरण रोजाना डेली मॉनीटीरिंग एप पर अपडेट करना होगा। वरिष्ठ प्रबंधक और उनकी टीम के निरीक्षण को लेकर जल्द प्रधान महाप्रबंधक गाइडलाइंस जारी करेंगे। समीक्षा बैठक नए आवासीय और औद्योगिक सेक्टरों के विकास कार्य, वेंडर्स, अतिक्रमण, स्कूलों के ऑपरेशन कायाकल्प को लेकर की गई। शहर में बढ़ रही अवैध रेहड़ी-पटरी दुकानों की संख्या पर भी सीईओ ने नाराजगी जताई।

कोई अवैध अतिक्रमण न हो पाए : सीईओ
सीईओ ऋतु महेश्वरी ने निर्देश दिए कि सामान्य प्रशासन और वर्क सर्कल यह तय करें कि कोई अवैध अतिक्रमण न होने पाए। इसका सर्टिफिकेट 30 सितंबर तक दें। सीईओ ने प्राधिकरण एरिया के सभी सरकारी स्कूलों के निरीक्षण करने का निर्देश अधिकारियों को दिया है। ऑपरेशन कायाकल्प के तहत 100 स्कूलों का चयन प्राधिकरण करेगा। इनमें 50 स्कूलों को मार्च 2023 और 50 को दिसंबर-2023 तक मॉडल स्कूल के रूप में संवारा जाएगा। इसके लिए दोनों एसीईओ कार्ययोजना तैयार करेंगे।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.