इन 34 मंदिरों के सड़े फूलों से बनेंगी अगरबत्ती, नोएडा सीईओ ने योजना को दिखाई हरी झंडी

अच्छी खबर : इन 34 मंदिरों के सड़े फूलों से बनेंगी अगरबत्ती, नोएडा सीईओ ने योजना को दिखाई हरी झंडी

इन 34 मंदिरों के सड़े फूलों से बनेंगी अगरबत्ती, नोएडा सीईओ ने योजना को दिखाई हरी झंडी

Tricity Today | 34 मंदिरों के सड़े फूलों से बनेंगी अगरबत्ती

इन 34 मंदिरों के सड़े फूलों से बनेंगी अगरबत्ती, नोएडा सीईओ ने योजना को दिखाई हरी झंडी
  • - मंदिरों के फूलों से बनेंगी अगरबत्ती और कूड़े से कम्पोस्ट खाद
  • - फूलों को उठाने वाले फ्लोवीर वेस्ट वाहनों को दिखई हरी झंडी 
  • - शहर के 34 मंदिरों की बनाई गई लिस्ट
     
Noida News : नोएडा प्राधिकरण ने शहर के मंदिरों से निकने वाले फूल, फल, पत्ते और दूसरी सामग्री को कूड़े में नहीं फेंका का फैसला लिया है। प्राधिकरण का कहना है कि अब इन फूलों से अब खाद और अगरबत्ती बनाई जाएगी। जिसके के चलते प्राधिकरण की सीईओ ऋतु माहेश्वरी शुक्रवार ने मंदिरों के फूलों को उठाने वाले फ्लोवीर वेस्ट वाहनों को हरी झड़ी दिखाई। ये गाड़िया आज से ही शहर के 34 मंदिरों में रोजाना फूल इकठ्ठा कर के लाया करेंगी। जिनको नारी निकेतन भेज जाएगा, वहां पर इन से खाद और अगरबत्ती बनाई जाएगी। 

अलग से उठाया जाएगा मंदिरों का कूड़ा
शहर के मंदिरों में रोजाना भारी मात्रा में फूल, फल, पत्ते और दूसरी सामग्री चढ़ाई जाती हैं। मंदिरों में चढ़ाए जाने वाले फूलों को अगले दिन कहां रखा जाए, अब तक यह बड़ी समस्या थी। अब प्राधिकरण ने इस का इंतजाम भी कर लिया है। इनको निकेतन भेज जाएगा। मंदिर परिसरों की सफाई से निकलने वाला कूड़ा 'डोर टू डोर' कूड़ा कलेक्शन करने जाने वाली गाड़ियों को नहीं दिया जाता है। जिस वजह से प्राधिकरण ने इन फ्लोवीर वेस्ट वाहनों को चलने का फैसला किया है। अधिकारियों ने बताया कि प्राधिकरण ने शहर के 34 मंदिरों की सूची तैयार की है। जहां से रोजाना फ्लोवीर वेस्ट को इकठ्ठा किया जाएगा।

सेक्टर-34 के पास अलग केंद्र बनाया गया
यह गाड़ी चढ़ाए गए फूल और अन्य सामग्री लेकर सेक्टर-34 में पहुंचेगी। यहां पर प्राधिकरण ने नारी निकेतन के पास अलग से जगह चिन्हित कर ली है। इस जगह पर फूलों से खाद और अगरबत्ती बनाई जाएंगी। इसके साथ ही सफाई से निकलने वाले कचरे का निस्तारण करवाया जाएगा।

इन 34 मंदिरों से उठाया जाएगा फ्लोवीर वेस्ट
  1. श्री लाल मंदिर
  2. शिव मंदिर
  3. दुर्गा श्री हनुमान मंदिर
  4. श्री साईं बाबा मंदिर
  5. शिव शक्ति मंदिर सेक्टर 15
  6. सीता राम मंदिर
  7. ओम शिव मंदिर
  8. श्री सनातन धर्म मंदिर
  9. हनुमान मंदिर
  10. शिव मंदिर
  11. शिव शक्ति मंदिर
  12. श्री हनुमान मंदिर
  13. श्री शिव नारायण सनातन धर्म
  14. श्री राधा कृष्ण मंदिर
  15. श्री हुनमन मंदिर
  16. शिव शक्ति मंदिर
  17. श्री सनातन शिव मंदिर
  18. श्री हनुमान मंदिर
  19. श्री राम मंदिर
  20. प्राचीन शनि धाम मंदिर
  21. श्री सनातन धर्म मंदिर
  22. प्राचीन शिव काली मंदिर
  23. प्राचीन शक्ति मंदिर
  24. भूमिया माता मंदिर
  25. शिव मंदिर छलेरा
  26. श्री प्राचीन शनि मंदिर
  27. श्री सनातन धर्म मंदिर
  28. प्राचीन शिव मंदिर
  29. माता रानी मंदिर
  30. प्राचीन मां मंदिर
  31. महा शक्ति धाम मंदिर
  32. शिव शक्ति दुर्गा मंदिर
  33. माँ भगवती दुर्गा मंदिर
  34. संस्कृति सेवा समिति मंदिर

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.