प्राधिकरण ने 2900 करोड़ की जमीन से अवैध कब्जा हटाया, सीईओ ऋतु महेश्वरी ने कहा-‘जारी रहेगी कार्रवाई’

NOIDA BREAKING: प्राधिकरण ने 2900 करोड़ की जमीन से अवैध कब्जा हटाया, सीईओ ऋतु महेश्वरी ने कहा-‘जारी रहेगी कार्रवाई’

प्राधिकरण ने 2900 करोड़ की जमीन से अवैध कब्जा हटाया, सीईओ ऋतु महेश्वरी ने कहा-‘जारी रहेगी कार्रवाई’

Tricity Today | अवैध कब्जा हटाते प्राधिकरण के बुलडोजर

प्राधिकरण ने 2900 करोड़ की जमीन से अवैध कब्जा हटाया, सीईओ ऋतु महेश्वरी ने कहा-‘जारी रहेगी कार्रवाई’
  • पिछले 4 साल में कार्रवाई करते हुए करीब 5 लाख वर्ग मीटर जमीन से अवैध कब्जा हटाया है
  • इसकी कीमत करीब 2900 करोड़ रुपए है
  • अभियान के दौरान अथॉरिटी ने इस दौरान 100 से ज्यादा बहुमंजिला इमारतों को सील किया है
  • जनपद में 50 से ज्यादा भूमाफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है
नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु महेश्वरी (CEO Ritu Maheshwari IAS) की अगुवाई में अथॉरिटी अवैध कब्जे और अतिक्रमण के खिलाफ लगातार अभियान चला रही है। नोएडा को अतिक्रमण मुक्त बनाने का मिशन जारी है। इसके तहत नोएडा प्राधिकरण (Noida Development Authority) ने पिछले 4 साल में कार्रवाई करते हुए करीब 5 लाख वर्ग मीटर जमीन से अवैध कब्जा हटाया है। इसकी बाजारी कीमत करीब 2900 करोड़ रुपए है। अभियान के दौरान अथॉरिटी ने इस दौरान 100 से ज्यादा बहुमंजिला इमारतों को सील किया है। 

भू-माफिया चिन्हित कर हो रही कार्रवाई
प्राधिकरण ने जनपद में 50 से ज्यादा भूमाफियाओं को चिन्हित किया है। उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु महेश्वरी ने सख्त हिदायत देते हुए कहा है कि नोएडा प्राधिकरण की अधिसूचित जमीन पर अवैध निर्माण करने वाले स्वयं इसे खाली कर दें। अन्यथा अथॉरिटी उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई करेगी। जमीन खाली कराने के साथ-साथ उन पर मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।

गांवों और डूब क्षेत्र में अवैध कब्जा
दरअसल नोएडा प्राधिकरण के अधिसूचित क्षेत्र में लंबे वक्त से भू-माफिया अवैध अतिक्रमण कर कब्जा करते रहे हैं। खास तौर पर डूब क्षेत्र में भू-माफियाओं ने कॉलोनियां बना ली हैं। लोगों को प्लॉट काटे गए हैं। इसके अलावा प्राधिकरण के दायरे में आने वाले गांवों में भी अवैध अतिक्रमण किया गया है। ग्रामीणों ने परिस्थितियों का फायदा उठाते हुए अधिसूचित जमीन पर कब्जा जमा लिया। दीवारें चला लीं और अवैध निर्माण करा लिया। 


कोरोना का फायदा उठाया
करीब डेढ़ साल से देश में कोरोना वायरस महामारी की वजह से परिस्थितियां गंभीर हैं। इन माफियाओं ने इसका भी फायदा उठाया। नोएडा प्राधिकरण के मनाही के बावजूद जमीनों पर अवैध कब्जा किया। लेकिन अब दूसरी लहर का असर कम हो गया है। इसके बाद प्राधिकरण के अफसरों की टीमें लगातार अवैध कब्जे को खाली करा रही हैं। 

झांसे में न आएं निवासी
नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु महेश्वरी (CEO Ritu Maheshwari IAS) ने लोगों से बड़ी अपील की है। उन्होंने कहा है कि नोएडा के अधिसूचित क्षेत्र में किसी तरह का अवैध-अनधिकृत निर्माण न करें। इनमें काटी जा रही अवैध कालोनियों के कारोबार में संलिप्त भू-माफियाओं के चंगुल में न फंसे। उन्होंने ऐसे कारोबार में शामिल तत्वों को चेतावनी देते हुए कहा कि वह खुद सुधर जाएं और अपने अवैध निर्माण को खुद गिरा दें। अन्यथा नोएडा प्राधिकरण अपने मुताबिक उनके निर्माण को गिराएगा।

प्राधिकरण ने हाल में ये बड़ी कार्रवाई की - 
  1. जनपद के इलाबांस और कुलेसरा गांव में अवैध निर्माण पर प्राधिकरण का बुलडोजर चला। अथॉरिटी ने करीब 32 करोड़ रुपये की जमीन से अवैध कब्जा हटाया। भू-माफियाओं ने करीब 6500 वर्ग मीटर पर अतिक्रमण कर लिया था। करीब 60 कर्मचारी और 3 जेसीबी मशीनों से ध्वस्तिकरण की कार्रवाई की गई।
  2. सिंचाई विभाग, वर्क सर्किल-10, भूलेख विभाग तथा नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों की मौजूदगी में तीन जेसीबी मशीनों और तीन डंफरों की मदद से सेक्टर-143 में करीब 15 हजार वर्ग मीटर भूमि से अवैध कब्जा हटाया। 
  3. वर्क सर्किल-6, भूलेख विभाग (60-70 कर्मचारी) और पुलिस संयुक्त ने रूप से बरौला गांव में अभियान चलाया। दो जेसीबी मशीनों ने यहां अवैध रूप से संचालित हो रही नर्सरी को खाली करवाया। इसके बाद वाजिदपुर गांव में ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई। दोनों गांवों में प्राधिकरण ने 36 करोड़ रुपये की जमीन खाली करवाई।
  4. दो बुलडोजर और करीब 60 कर्मचारियों की टीम ने शहर के बरौला, सौरखा जाहिदाबाद और फिर सलारपुर खादर गांव में 51 करोड रुपए की जमीन अतिक्रमण मुक्त करवाई।
  5. एक बुलडोजर और करीब 50 कर्मचारियों की टीम ने शहर के सेक्टर-64 और मामूरा गांव में अवैध कब्जा हटाया। वर्क सर्किल-4, भूलेख विभाग और पुलिस संयुक्त रूप से पहले सेक्टर-64 पहुंची। 40-50 कर्मचारी और एक जेसीबी मशीन ने यहां अवैध रूप से संचालित हो रही नर्सरी को खाली करवाया। टीम ने करीब 8000 वर्ग मीटर भूमि पर अवैध निर्माण को ढहाया। मामूरा में टीम ने अवैध रूप से बने 8-10 कमरे, टीन शैड, टाल और दुकानों को जमींदोज किया। कार्रवाई कर 48 करोड रुपए की जमीन अतिक्रमण मुक्त करवाई गई।
  6. शहर के सेक्टर-49 के बरौला गांव में बनाए गए अवैध शॉपिंग कांप्लेक्स पर प्राधिकरण का बुलडोजर चला। अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर 15 करोड़ की 2409 वर्ग मीटर जमीन को अवैध कब्जा मुक्त करवाया। तीन दिन पहले भी करीब 15 करोड़ की सम्पति को प्राधिकरण ने अपने कब्जे में लिया था।
  7. जनपद के सलारपुर खादर में करीब 3 करोड़ रुपये की जमीन से अवैध कब्जा हटाया। भूलेख विभाग और वर्क सर्किल-8 की टीम ने 1000 वर्ग मीटर भूमि पर बने निर्माण को ध्वस्त कराया।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.