नोएडा BREAKING: डॉ.महेश शर्मा को घर से बाहर निकालने के लिए बुधवार को घर का घेराव करेंगे किसान

डॉ.महेश शर्मा को घर से बाहर निकालने के लिए बुधवार को घर का घेराव करेंगे किसान

Tricity Today | डॉ.महेश शर्मा

भारतीय किसान यूनियन (Bhartiya Kisan Union) ने गौतमबुद्ध नगर के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ.महेश शर्मा (Dr Mahesh Sharma MP) के घर का घेराव करने का ऐलान किया है। किसानों का कहना है कि इस महामारी के दौर में किसान, मजदूर और आम आदमी तड़प तड़पकर मर रहा है। दूसरी ओर सांसद कोठी में आराम से बैठे हुए हैं। आम आदमी के लिए कोई कदम नहीं उठा रहे हैं। ऑक्सीजन, दवाओं, अस्पतालों और दूसरी सुविधाओं का भारी संकट है। मेरठ मंडल के अध्यक्ष और भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता पवन खटाना ने कहा कि बुधवार की सुबह 10:00 बजे बड़ी संख्या में किसान नोएडा कूच करेंगे। जब तक डॉक्टर महेश शर्मा घर से निकलकर जनता की सेवा करने नहीं आएंगे, तब तक उनके घर का घेराव जारी रहेगा।

मेरठ मंडल के अध्यक्ष पवन खटाना, एनसीआर के अध्यक्ष सुभाष चौधरी, गौतमबुद्ध नगर के जिला अध्यक्ष अमित कसाना, नोएडा महानगर अध्यक्ष परविंदर अवाना, एनसीआर के उपाध्यक्ष मटरू नागर और मीडिया प्रभारी सुनील प्रधान ने संयुक्त रूप से प्रेस बयान जारी किया है। पवन खटाना का कहना है कि कोरोनावायरस की वजह से हाहाकार मचा हुआ है। किसान, मजदूर और गरीब बगैर ऑक्सीजन के तड़प रहे हैं। जान गवा रहे हैं। अस्पताल, दवाएं, ऑक्सीजन और वेंटिलेटर उपलब्ध नहीं हैं। इस व्यवस्था के विरोध में बुधवार को किसान नोएडा में सेक्टर-15ए जाकर सांसद डॉ.महेश शर्मा के घर का घेराव करेंगे। इस बारे में करीब 10 दिन पहले नोटिस भेज दिया गया था। पिछले 10 दिनों में व्यवस्था सुधारने के लिए सांसद ने कोई कदम नहीं उठाया है। लिहाजा, अब आम आदमी को सड़क पर उतरना पड़ेगा। 

पवन खटाना ने किसानों से अपील की है कि सुबह 10:00 बजे मास्क लगाकर और हाथ में सैनिटाइजर लेकर महामाया फ्लाईओवर के नीचे एकत्र हों। यहां से किसानों का जुलूस सेक्टर-15ए रवाना होगा। जब तक डॉक्टर महेश शर्मा घर से बाहर निकलकर जनता की सेवा करने नहीं आते हैं, तब तक घेराव जारी रहेगा। पवन खटाना ने कहा कि हम लोग किस लिए जनप्रतिनिधि चुनते हैं। जनप्रतिनिधि चुनने का मकसद यह है कि जब विपदा का समय आए तो हमारे प्रतिनिधि हमारे बीच नजर आएं। पिछले एक महीने से डॉक्टर महेश शर्मा का कोई अता पता नहीं है। हम रोड पर तड़प तड़पकर मर रहे हैं और वे ऐशोआराम की जिंदगी अपनी कोठियों में काट रहे हैं। हमें मरीजों के लिए ऑक्सीजन, वेंटिलेटर और हॉस्पिटलों में सुविधा चाहिए।

 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.