Noida News: अवैध अतिक्रमण हटाने पहुंची टीम पर पथराव करने वाला एक युवक गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी

अवैध अतिक्रमण हटाने पहुंची टीम पर पथराव करने वाला एक युवक गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी

Social Media | पथराव के आरोप में गिरफ्तार युवक

नोएडा की थाना एक्सप्रेसवे पुलिस ने शुक्रवार को अतिक्रमण हटाने पहुंचे प्राधिकरण की टीम और पुलिसकर्मियों पर हमला करने वाले एक अभियुक्त की पहचान कर गिरफ्तार कर लिया है। अभियुक्त मदन सिंह पुत्र चंद्रपाल सिंह जिले के बख्तावरपुर गांव का ही रहने वाला है। उसे शनिवार को नोएडा के सेक्टर-135 के बख्तावरपुर गांव के सामने हाईवे की सिंगल सर्विस रोड से अरेस्ट किया गया। पुलिस उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर रही है। संबंधित धाराओं में मामला पंजीकृत किया गया है। 

यह है पूरा मामला
नोएडा प्राधिकरण की टीम भारी पुलिस बल के साथ शुक्रवार की सुबह बख्तावरपुर गांव में अवैध निर्माण को ध्वस्त करने पहुंची थी। कार्यवाही के दौरान विरोध कर रहे ग्रामीणों ने प्राधिकरण कर्मचारियों पर पथराव कर दिया। इसमें वरिष्ठ प्रबंधक सर्किल-9 विजय रावल समेत कुछ पुलिसकर्मी चोटिल हो गए। सूचना पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और आरोपियों को खदेड़ कर अवैध निर्माण को ध्वस्त कराया गया।

पुलिस में दी शिकायत
पथराव में घायल हुए लोगों को नजदीक के अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। इस मामले में प्राधिकरण के अवर अभियंता ने थाना एक्सप्रेसवे में चार नामजद समेत कई अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज कर ली। पुलिस का कहना है कि आरोपियों की तलाश की जा रही है। जल्दी ही उनकी पहचान कर गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

भारी पुलिस बल देख पीछे हटे ग्रामीण
वर्क सर्किल-9 के वरिष्ठ प्रबंधक विजय रावल और तहसीलदार राजीव मोहन सक्सेना के नेतृत्व में बख्तावरपुर गांव पहुंचे। यहां अवैध अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही शुरू की। ग्रामीणों के हिंसक विरोध को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल वहां पहुंचा। दोबारा से अतिक्रमण हटाने का काम शुरू किया गया। इस बार पुलिस बल की संख्या देखकर ग्रामीण वहां से पीछे हट गए। पुलिस ने घायल प्राधिकरण कर्मचारियों और पुलिसकर्मियों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई। 

650 वर्ग मीटर जमीन कराई मुक्त
प्राधिकरण ने यहां पर खसरा संख्या 606 पर स्थित 650 वर्ग मीटर जमीन पर अवैध अतिक्रमण करके बनाई गई दुकानें ध्वस्त कर दी हैं। प्राधिकरण के भू-प्रयोग में यह भूखंड संस्थागत की श्रेणी में है। प्राधिकरण ने यहां पर अवैध निर्माण ध्वस्त कर चुका था इसके बावजूद फिर लोगों ने वहां पर दुकानों का अवैध निर्माण कर लिया था।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.