देश में महिलाओं की संख्या पुरुष से ज्यादा, गौतमबुद्ध नगर में भी हुआ अच्छा असर, पढ़िए खास खबर

बड़ी खबर : देश में महिलाओं की संख्या पुरुष से ज्यादा, गौतमबुद्ध नगर में भी हुआ अच्छा असर, पढ़िए खास खबर

देश में महिलाओं की संख्या पुरुष से ज्यादा, गौतमबुद्ध नगर में भी हुआ अच्छा असर, पढ़िए खास खबर

Google Image | Symbolic Photo

देश में महिलाओं की संख्या पुरुष से ज्यादा, गौतमबुद्ध नगर में भी हुआ अच्छा असर, पढ़िए खास खबर Noida News : देश-प्रदेश में "बेटी बचाओ" अभियान चलाया जा रहा है। जिसकी मदद से लोगों के अंदर काफी जागरूकता आई है। नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे-5 (NFHS) की रिपोर्ट के अनुसार इस बार महिला-पुरुष के अनुपात यानी कि सेक्स रेशियो में काफी सुधार आया है। बुधवार को सर्वे-5 की रिपोर्ट जारी की गई है। इस सर्वे के अनुसार महिलाओं की संख्या पुरुषों के मुताबिक अधिक पाई गई है। रिपोर्ट के मुताबिक प्रति 1000 पुरुषों पर 1017 महिलाएं हो गई हैं। नोएडा और ग्रेटर नोएडा के अंदर भी प्रति 1000 पुरुषों पर 929 महिलाएं हैं। 

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में अच्छा
सर्वे की रिपोर्ट को देखते हुए बहुत जल्दी नोएडा और ग्रेटर नोएडा में भी महिला और पुरुषों का सेक्स रेशियो समान हो सकती है। नोएडा और ग्रेटर नोएडा में बीते 5 वर्षों में महिला और पुरुष के सेक्स रेशियो में काफी ज्यादा बदलाव देखा गया है। इस वर्ष आई रिपोर्ट के अंदर नोएडा और ग्रेटर नोएडा में प्रति 1000 पुरुषों पर 929 महिलाएं है। पिछले आंकड़ों को देखते हुए महिलाओं की संख्या 93 प्रतिशत हो गई है, जो 10 साल पहले 83 प्रतिशत थी। 

बेहतर हुआ अनुपात
महिला कल्याण विभाग से मिले आंकड़ों के मुताबिक 2011 में हजार पुरुषों 843 महिलाएं थी। यानी कि महिलाओं की संख्या 84 प्रतिशत थी। 2011 के बाद अब 2021 में हुए सर्वे के मुताबिक महिलाओं की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। इस साल सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार महिलाओं की संख्या 93 प्रतिशत हो चुकी है। 

गर्भपात की संख्या में आई कमी
जिला प्रोबिजन अधिकारी (डीपीओ) अतुल सोनी ने बताया कि कोरोना काल की वजह से 2019 से 2020 में सेक्स रेशियो में ज्यादा बदलाव नहीं आया है। गौतमबुद्ध नगर सीएमओ डॉ. सुनील कुमार ने बताया कि सरकार के साथ स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगातार "बेटी बचाओ" अभियान पर काम कर रहा है। बेटियों के गर्भपात ना हो और सभी जगह भ्रूण जांच पर रोक लगाई गई है। सरकार बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए बहुत सारी योजनाएं चला रही है। गर्भपात की संख्या में भी काफी हद तक कमी आई है। 2018 से 2019 के अंदर 3,234 गर्भपात हुए थे। जबकि 2019 में गर्भपात की संख्या कम होकर 2,595 हो गई है। एनिमिक गर्भवतियों में आयरन कैल्शियम लेने के मामलों में भी बड़ोद तीन देखने को मिली है।

ऐसे बढ़ा अनुपात 
2017-18 में 1000 पुरुषों पर 911 महिलाएं 
2018-19 में 1000 पुरुषों पर 922 महिलाएं
2019-20 में 1000 पुरुषों पर 928 महिलाएं
2020-21 में 1000 पुरुषों पर 929 महिलाएं

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.