सिविटेक स्टेडिया के निवासियों ने बिल्डर को बताया धोखेबाज, गिनाईं तमाम वजहें

नोएडा : सिविटेक स्टेडिया के निवासियों ने बिल्डर को बताया धोखेबाज, गिनाईं तमाम वजहें

सिविटेक स्टेडिया के निवासियों ने बिल्डर को बताया धोखेबाज, गिनाईं तमाम वजहें

Tricity Today | सिविटेक स्टेडिया के निवासियों ने बिल्डर को बताया धोखेबाज

सिविटेक स्टेडिया के निवासियों ने बिल्डर को बताया धोखेबाज, गिनाईं तमाम वजहें Noida News : सेक्टर-79 में स्थित सिविटेक स्टेडिया (Civitech Stadia) के निवासियों ने आज, 17 अक्टूबर को बिल्डर सिविटेक (गोल्फ ग्रीन सुपर स्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड) की मनमानी, दुर्व्यवहार और तमाम समस्याएं हल नहीं करने के खिलाफ दोपहर 12-01 बजे तक शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया। सोसाइटी के मार्केटिंग ऑफिस के सामने सैकड़ों की संख्या में निवासियों ने हाथों में बैनर-पोस्टर लेकर विरोध जताया। निवासियों का कहना है कि बिल्डर समस्याओं को हल करना नहीं चाहता। इसीलिए जानबूझकर हमारी मांगों की अनदेखी कर रहा है। 

सोसाइटी के निवासियों ने कहा, अपनी समस्याओं को बिल्डर गोल्फ ग्रीन सुपर स्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड को कई बार विभिन्न माध्यमों (मेल, मीटिंग) से बता चुके हैं। बीते 26 सितंबर को भी निवासियों ने प्रदर्शन कर विरोध जताया था। पर बिल्डर कंपनी लगातार उनकी समस्याओं के प्रति उदासीन बना हुआ है। बार-बार समस्याएं बताने के बावजूद बिल्डर कोई काम नहीं कराता है। वह अपनी मनमानी कर रहा है। 2 साल से ज्यादा बीत गए, पर आज तक फ्लैटों की रजिस्ट्री नहीं हुई है। लोगों का कहना है कि बिल्डर ने पार्किंग, बिजली कनेक्शन के नाम पर वसूले गए 52,000 रुपये अब तक नहीं लौटाया है। 

घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया गया
एग्जिट गेट अब तक नहीं खोला गया है। कॉमर्शियल एरिया की एसी आवासीय इलाके में लगाने से हालात बिगड़ गए हैं। आये दिन लिफ्ट ख़राब हो जाती है। जगह-जगह छत और दीवारों से प्लास्टर गिरने की घटनाएं सामने आती हैं। निर्माण में घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया गया है। मेंटेनेंस भी बेहद खराब है। इन समस्यांओं पर ध्यान न देकर बिल्डर अपने बचे हुए फ्लैट को बेचने की फिराक में रहता है। निवासियों की परेशानियों की अनदेखी की जा रही है। खरीदारों का कहना है कि बिल्डर ने मनमाने ढंग से पार्किंग बनायीं हैं। असुविधाजनक पार्किंग जबरदस्ती एलॉट की जा रही है। 

डिपॉजिट अब तक नहीं वापस की
स्टिल्ट पार्किंग महंगे दामों में बेचने के चक्कर में अब तक निवासियों को यह सुविधा नहीं दी गई है। पार्किंग में फायर सेफ्टी के नियमों का उल्लंघन किया गया है। आने-जाने के रास्तों को भी पार्किंग प्लेस बना दिया गया है। इससे यहां एक्सीडेंट होने का खतरा बढ़ गया है। प्रोजेक्ट में ओपन पार्किंग स्वीकृत नहीं है। फिर भी लोगों को ओपन पार्किंग बेच दी गयी है। घर लेते वक़्त सभी खरीदारों से बिजली कनेक्शन के नाम पर 52,000 रुपये लिए गए थे। अब सोसाइटी में मल्टीप्वाइंट कनेक्शन लग गया है। 

आगे भी जारी रहेगा
लेकिन बिल्डर लोगों के डिपॉडिट नहीं लौटा रहा है। कॉमर्शियल मार्केट के एयर कंडीशनर्स रेसिडेंट्स एरिया में लगा दिए गए हैं। निकास का रास्ता इतना संकरा है कि कभी भी दुर्घटना हो सकती है। पूरी सोसाइटी में जगह-जगह प्लास्टर झड़ रहा है। बेसमेंट में पानी टपकता रहता है। जब भी रेसिडेंट्स अपनी समस्या रखते हैं, तो उन्हें दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ता है। बिल्डर के आदमी उन्हें डराते-धमकाते हैं। इससे दुखी निवासियों ने आज धरना-प्रदर्शन किया। उनका कहना है कि अगर मसले हल नहीं हुए, तो यह प्रदर्शन आगे भी जारी रहेगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.