High Alert : गौतमबुद्ध नगर और कानपुर सहित इन शहरों में बम होने की अफवाहें, शरारत करने वालों को दबोचने की तैयारी में पुलिस

गौतमबुद्ध नगर और कानपुर सहित इन शहरों में बम होने की अफवाहें, शरारत करने वालों को दबोचने की तैयारी में पुलिस

Tricity Today | नोएडा में बम जैसा पैकेट (File Photo)

उत्तर प्रदेश के अलग-अलग शहरों में इस सप्ताह बम होने की कम से कम 6 अफवाहें दर्ज की गई हैं। नोएडा, गाजियाबाद कानपुर और प्रयागराज जैसे शहरों में बम होने की अफवाहों के बाद राज्य में पुलिस-प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। गौतमबुद्ध नगर जिले में पिछले 2 दिन में 2 जगहों पर बम होने की अफवाह सामने आई थी। गुरुवार को नोएडा के बड़े अस्पताल कैलाश हॉस्पिटल में किसी ने बम होने की गलत सूचना दी थी। इसके बाद शुक्रवार को शहर के फेस-3 थाना क्षेत्र में सुबह करीब 9:00 बजे पुलिस को छिजारसी रोड पर बीच सड़क में एक बम रखे होने की सूचना मिली थी। हालांकि यह भी सिर्फ अफवाह थी। 

शुक्रवार को ही कानपुर और प्रयागराज के मॉल तथा थियेटर्स में बम होने की अफवाह फैलाई गई थी। इसके बाद से गौतमबुद्ध नगर पुलिस पूरी तरह सतर्क हो गई है। साथ ही पूरे राज्य में पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है। राज्य सरकार ने किसी भी तरह की ढिलाई नहीं बरतने का निर्देश दिया है। प्रदेश की आर्थिक राजधानी होने की वजह से गौतमबुद्ध नगर जिले में पुलिस-प्रशासन पूरी तरह सतर्क हो गया है। पुलिस ने उत्तर प्रदेश के सभी बॉर्डर पर सघन जांच शुरू कर दी है। जिले के सभी मॉल, बाजार, होटल तथा सामरिक महत्व के प्रतिष्ठानों पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। साथ ही जिले में 31 जनवरी तक निषेधाज्ञा यानी धारा 144 लागू कर दी गई है। 

पुलिस उपायुक्त (जोन प्रथम) राजेश एस ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर जिले में पिछले दो दिनों में दो जगहों पर बम होने की सूचना मिली थी। साथ ही गणतंत्र दिवस में सिर्फ तीन दिन बचे हैं। इसलिए सुरक्षा-व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए गौतमबुद्ध नगर में हाई अलर्ट घोषित कर धारा 144 लगा दी गई है। नोएडा और ग्रेटर नोएडा के सभी मॉल, मेट्रो स्टेशन और बाजारों में पुलिस सघन जांच अभियान चला रही है। संदिग्ध नजर आने वाले हर शख्स से पूछताछ की रही है। पुलिस चप्पे-चप्पे पर निगाह रखे हुए है। पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को पूरी तरह सतर्क रहने का आदेश दिया गया है।

गौतमबुद्ध नगर जिले में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। जिसके तहत अब 4 से अधिक लोग एक साथ सार्वजनिक स्थानों पर एकत्र नहीं हो सकेंगे। बिना अनुमति के धरना प्रदर्शन और दूसरे भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया जा सकेगा। लोग आग्नेय अस्त्र, लाठी-डंडा और कोई दूसरा शस्त्र लेकर नहीं चल सकते हैं। निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस कमिश्नरेट के मुताबिक गणतंत्र दिवस और किसान आंदोलन को ध्यान में रखते हुए निषेधाज्ञा का विस्तार 31 जनवरी तक किया गया है। दूसरी ओर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने सभी थाना क्षेत्रों को अलर्ट जारी किया है। जिसके तहत नोएडा और ग्रेटर नोएडा में शुक्रवार की शाम से पुलिस विशेष तलाशी अभियान चला रही है। शहर की सड़कों और चौराहों पर वाहनों की तलाशी ली जा रही है। भीड़ भरे बाजारों में भी पुलिस तलाशी ले रही है। गणतंत्र दिवस को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार की ओर से राष्ट्रीय राजधानी के चारों ओर के जिलों में हाई अलर्ट जारी किया है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.