एनएमआरसी की बोर्ड बैठक में उठा सेक्टर 51-52 एफओबी निर्माण का मुद्दा, 7 साल बाद फिर टूटेगा

NOIDA NEWS : एनएमआरसी की बोर्ड बैठक में उठा सेक्टर 51-52 एफओबी निर्माण का मुद्दा, 7 साल बाद फिर टूटेगा

एनएमआरसी की बोर्ड बैठक में उठा सेक्टर 51-52 एफओबी निर्माण का मुद्दा, 7 साल बाद फिर टूटेगा

Tricity Today | एनएमआरसी की बोर्ड बैठक

एनएमआरसी की बोर्ड बैठक में उठा सेक्टर 51-52 एफओबी निर्माण का मुद्दा, 7 साल बाद फिर टूटेगा Noida News : शुक्रवार को नोएडा मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की बोर्ड बैठक हुई है यह बोर्ड बैठक नोएडा के सेक्टर-29 में स्थित एनएमआरसी के कार्यालय में हुई है। इस बैठक की अध्यक्षता एनएमआरसी के चेयरमैन कामरान रिजवी ने की है। यह नोएडा मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की 32वीं बोर्ड बैठक हुई है। इस दौरान नोएडा सेक्टर-51 और सेक्टर-52 के बीच बनने वाले एफओबी को लेकर लंबी चर्चा हुई। इस बैठक में एनएमआरसी को एमडी ऋतु महेश्वरी समेत काफी अधिकारी मौजूद रहे।

दोनों मेट्रो स्टेशन के बीच 850 मीटर की दूरी
आपको बता दें कि दोनों मेट्रो स्टेशन के बीच 850 मीटर लंबा एफओबी बनाया जाएगा। फिलहाल दोनों स्टेशन के बीच सवारी रिक्शों या पैदल जाती है। दोनों स्टेशन के लिए बार-बार उतरना और चढ़ना पड़ता है। इससे समय की बर्बादी के साथ लोगों को परेशानी भी होती है। दोनों स्टेशन के बीच नोएडा प्राधिकरण के आइकिया कंपनी को भूखंड आवंटित कर रखा है। 

7 साल बाद बनेगा स्काईवॉक
आइकिया कंपनी को यहां पर 7 साल में स्काईवॉक बनाना है। ऐसे में तब तक एफओबी बनाया जाएगा। इसमें चढ़ने-उतरने के लिए एस्कीलेटर के अलावा सीधे चलने के लिए ट्रेवलेटर भी बनाया जाएगा। इससे लोग एक साथ पर ही खड़े होकर गंतव्य तक पहुंच सकेंगे। इन सुविधाओं के जरिए एफओबी तैयार करने पर अधिक खर्चा आएगा। इसको देखते हुए कंसल्टेंट के जरिए कम से कम कीमत पर इसको बनाने का निर्णय हुआ।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.