भारत को इलेक्ट्रो गैल्वनाइज्ड स्टील प्रोड्यूसर हब बनाने की योजना बना रही यह कंपनी, डॉ.शुभ गौतम ने दी जानकारी

नोएडा : भारत को इलेक्ट्रो गैल्वनाइज्ड स्टील प्रोड्यूसर हब बनाने की योजना बना रही यह कंपनी, डॉ.शुभ गौतम ने दी जानकारी

भारत को इलेक्ट्रो गैल्वनाइज्ड स्टील प्रोड्यूसर हब बनाने की योजना बना रही यह कंपनी, डॉ.शुभ गौतम ने दी जानकारी

Tricity Today | डॉ.शुभ गौतम

भारत को इलेक्ट्रो गैल्वनाइज्ड स्टील प्रोड्यूसर हब बनाने की योजना बना रही यह कंपनी, डॉ.शुभ गौतम ने दी जानकारी Noida News : नोएडा की अमेरिकन प्रीकॉट इलेक्ट्रो गैल्वेनाइज्ड स्टील कम्पनी के प्रमोटर एवं मुख्य तकनीकी आर्किटेक्ट डॉ.शुभ गौतम भारत को इलेक्ट्रो गैल्वनाइज्ड स्टील प्रोड्यूसर हब बनाने की योजना बना रहे हैं। उनका कहना है कि अमेरिकन प्रीकॉट देश के खजाने से स्टील आयात पर हर साल होने वाले लाखों डॉलर बचाने में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने इस मामले में जानकारी दी है।

डॉ.शुभ गौतम न्र बताया कि समय के साथ हम सभी ने सीखा है कि बाजार में किस तरह के प्रोडक्ट की कमी है, यह देखना हमेशा बेहतर होता है। इसके बाद वापस उस कमी के हिसाब से एक उपयुक्त उत्पाद और समाधान तैयार करना समझदारी है। पहले उत्पाद बनाना और फिर बाजार में उसकी कमी का कहां और कितनी है, यह तलाशने से अच्छे परिणाम नहीं मिलते। हमने देखा कि भारत में करीबन 10,000 टन इलेक्ट्रो गैल्वेनाइज्ड इलेक्ट्रिक प्लेटेड स्टील आ रहा है। लेकिन यह ईंधन टैंक, इंजन गास्केट, ऑडियो-वीडियो असेंबली, एलईडी टीवी की बैक प्लेट आदि जैसे अत्यंत महत्वपूर्ण चीजों के उत्पादन में चला जाता है। इसलिए, हमने गैल्वेनाइज्ड स्टील का उत्पादन करने के बारे में सोचा अनुमान है कि दुनिया में लगभत 33 मिलियन टन इलेक्ट्रो गैल्वनाइज्ड स्टील  का उत्पादन होता है। यह एक विशिष्ठ प्रकार का स्टील है जिसके लिए विशेष तकनीक और अनुभव की जरुरत है।

उन्होंने बताया की यही कारण था कि हमने सोचा कि क्यों न उन स्थानों को देखें और कुछ विशिष्ट इलेक्ट्रोप्लेटेड इलेक्ट्रो गैल्वेनाइज्ड स्टील का उत्पादन करके उस कमी को पूरा  करने का  प्रयास करें, जो हमने करना भी शुरू कर दिया है। हम भारत सरकार और माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'आत्मनिर्भर' अभियान के लिए शुक्रगुजार हैं| इसके चलते हम ऑटो कंपोनेंट उद्योग (दो पहिया, चार पहिया वाहनों में), चिकित्सा उद्योग, खाद्य और पेय उद्योग, घरेलू उपकरण सेगमेंट में लगभग 36 परियोजनाओं को स्थानीय बनाने में सक्षम हो गए हैं, और ये उत्पाद ईसीयू एयरबैग असेंबली हाउसिंग सिस्टम से लेकर इंजन गास्केट से लेकर ऑडियो वीडियो असेंबलियों से लेकर बैक प्लेट्स, एलईडी टीवी से लेकर क्रिटिकल कंपोनेंट्स तक बहुत महत्वपूर्ण हैं। 

शुभ गौतम ने बताया की हम ईसीयू एयरबैग असेंबली हाउसिंग सिस्टम से लेकर इंजन गास्केट, ऑडियो-वीडियो असेम्बलियां. बैक प्लेट्स, एलईडी टीवी से लेकर क्रिटिकल कंपोनेंट्स तक बहुत महत्वपूर्ण उत्पाद पोर्टफोलियो को पूरा करते हैं| हमें लगता है दुनिया के अन्य देशो को भारत से गैल्वेनाइज़्ड स्टील के निर्यात की बहुत संभावना है, दुनिया में अभी लगभग ३३ मिलियन टन इलेक्ट्रो गैल्वेनाइज़्ड स्टील का उत्पादन होता है लेकिन ऐसी कंपनियां अधिक नहीं हैं जो इलेक्ट्रो गैल्वेनाइज़्ड स्टील का उत्पादन करती हों। 

उन्होंने बताया की यदि आप जापान, कोरिया से इटली तक देखें तो आपको इलेक्ट्रो गैल्वेनिसद लाइन जो दिखाई देगी वह शायद गुजरात के वलसाड में अमेरिकन प्रीकॉट ही है। यदि आप वलसाड लाइन को हटा देते हैं, तो हम देखेंगे कि जापान से इटली तक कोई भी इलेक्ट्रो गैल्वेनाइज़्ड स्टील प्लांट नहीं है। इसी से यह पता चलता है कि इसका उत्पाद और इसकी पूरी तकनीक कितनी विशिष्ट है। हमे इसमें सभी (राज्य सरकार, केंद्र सरकार) का सहयोग मिल रहा है और इसके लिए हम सबके शुक्रगुजार हैं। 

शुभ गौतम ने बताया की हमने भारत में निवेश माननीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत परियोजना के तहत किया है। सरकार की आत्मनिर्भर पहल का समर्थन करने और राज्यों के लोगो को रोजगार का अवसर देना, ये २ बातें थी जिसने हमे भारत में निवेश करने के लिए प्रेरित किया। इसके अलावा राजस्वा में वृद्धि और विदेशी मुद्रा की बचत भी हो रही है। हम इस बदलाव को आगे भी जारी रखेंगे ताकि एक आत्मनिर्भर राष्ट्र का निर्माण हो सके। 

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.