नोएडा पुलिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मुस्लिम बुजुर्ग, मांगा मुआवजा, पढ़िए पूरा मामला

बड़ी खबर : नोएडा पुलिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मुस्लिम बुजुर्ग, मांगा मुआवजा, पढ़िए पूरा मामला

नोएडा पुलिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मुस्लिम बुजुर्ग, मांगा मुआवजा, पढ़िए पूरा मामला

Google Image | पीड़ित मुस्लिम बुजुर्ग ने नोएडा पुलिस ने खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की

नोएडा पुलिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मुस्लिम बुजुर्ग, मांगा मुआवजा, पढ़िए पूरा मामला Noida News : नोएडा में रहने वाले एक मुस्लिम बुजुर्ग व्यक्ति ने पुलिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है। इस मामले में बुजुर्ग व्यक्ति ने नोएडा पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए न्याय की मांग की है और इसके अलावा मुआवजा भी मांगा है। दरअसल, मामला यह है कि बीते 4 जुलाई 2021 की सुबह कजीम अहमद नोएडा सेक्टर 37 पर बस का इंतजार कर रहा था। कजीम को नोएडा से अलीगढ़ जाना था। इसी दौरान वहां पर एक सफेद रंग की वैन गाड़ी आकर रुकी और उसने (कार चालक) कहा कि वह अलीगढ़ जाएगा लेकिन जब व्यक्ति ने कार के पास जाकर देखा तो उसमें पहले से 3 लोग सवार थे। 

क्या है पूरा मामला
कजीम अहमद ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए कहा, "कार में बैठे लोगों ने उसको जबरदस्ती वैन में डाल लिया और उसके साथ मारपीट की। करीब 15 मिनट तक उसको प्रताड़ित किया गया। उन पर हमला किया गया और बार-बार उनकी धार्मिक पहचान से संबंधित कई अन्य अपमानजनक शब्द कहे।"

शरीर पर हमला और पैसे छीने
याचिका में आगे कहा, "कार में बैठे लोगों ने उससे कहा कि उसको इस देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है। उन्हें अपमानित किया गया था। उनकी दाढ़ी अपराधियों द्वारा खींची गई। उन पर शरीर पर हमला किया गया। धमकी दी गई कि उन्हें एक पेचकस से अंधा कर दिया जाएगा। मारपीट के साथ गाली-गलौज करके उसको कार से बाहर फेंक कर फरार हो गए। इस दौरान उनसे पैसे भी छीन लिए गए।"

नोएडा पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग
पीड़ित ने आगे कहा, "जब उसको बाहर फेंक दिया गया तो एक सज्जन व्यक्ति ने उसकी मदद की। उसको एक रिक्शा में बिठाकर भेज दिया। जिसके बाद वह नोएडा सेक्टर-37 कोतवाली पहुंचे लेकिन नोएडा पुलिस ने ना तो कोई शिकायत दर्ज की और ना ही कोई कार्रवाई की है। जिसके बाद पीड़ित ने सुप्रीम कोर्ट में नोएडा पुलिस ने खिलाफ याचिका दाखिल करते हुए न्याय की मांग और मुआवजा भी मांगा है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.