विद्युत निगम ने सभी केबल ऑपरेटर और सर्विस प्रोवाइडर को दिया नोटिस, 30 दिन में नहीं मानी यह बात तो होगा बड़ा एक्शन

गौतमबुद्ध नगर : विद्युत निगम ने सभी केबल ऑपरेटर और सर्विस प्रोवाइडर को दिया नोटिस, 30 दिन में नहीं मानी यह बात तो होगा बड़ा एक्शन

विद्युत निगम ने सभी केबल ऑपरेटर और सर्विस प्रोवाइडर को दिया नोटिस, 30 दिन में नहीं मानी यह बात तो होगा बड़ा एक्शन

Google Image | Symbolic Photo

विद्युत निगम ने सभी केबल ऑपरेटर और सर्विस प्रोवाइडर को दिया नोटिस, 30 दिन में नहीं मानी यह बात तो होगा बड़ा एक्शन Noida News : बिजली की आपूर्ति को और बेहतर बनाने के लिए विद्युत निगम ने सभी केबल ऑपरेटर और सर्विस प्रोवाइडर्स को एक सर्कुलर जारी किया है। इस सर्कुलर में निगम द्वारा बिजली के खंभों से बिना अनुमति लगे हुए केवल तारों को हटाने के दिशा निर्देश दिए गए हैं। यह कार्य केबल ऑपरेटर और सर्विस प्रोवाइडर्स को 30 दिन के अंदर करना होगा। अगर इसका पालन नहीं किया जाता है तो निगम द्वारा सभी तारों को खंभों से हटा दिया जाएगा। 

निगम केवल हटाने का खर्चा भी ऑपरेटर से वसूले गा 
बिजली आपूर्ति को सुधारने के लिए मेरठ मुख्यालय की ओर से एक सर्कुलर जारी किया गया है कि विद्युत निगम की बिना अनुमति के खंभों पर लगे हुए सर्विस केबल को हटा दिया जाए। खंभों पर केवल लगाने से भार बढ़ जाता है। जिसके बाद इन केबलों के ऊपर बंदर झूलने से खंभों पर दबाव और ज्यादा अधिक पड़ जाता है। जिस से खंभा टूट भी सकता है और दुर्घटना के होने का खतरा बना रहता है। वहीं, खंभे पर तारों की मरम्मत के समय यह केवल बाधा पैदा करते हैं और बिजली की सप्लाई में भी रुकावट पैदा करने की संभावना बनी रहती है। ऐसे में अब विद्युत निगम ने केबल ऑपरेटरों और सर्विस प्रोवाइडर को एक सर्कुलर जारी कर तारों को हटाने के निर्देश दिए हैं। अगर किसी केबल ऑपरेटर ने निगम से अनुमति दे रखी है तो वह तुरंत संबंधित क्षेत्र के विद्युत निगम में जाकर इसकी सूचना दें, नहीं तो निगम द्वारा सभी केबलों को हटा दिया जाएगा। इसी के साथ केवल हटाने में आने वाला खर्चा भी केबल ऑपरेटर से ही वसूला जाएगा। 

निगम ने जारी किए गए सर्कुलर में यह कहा 
विद्युत निगम द्वारा जारी किए गए सर्कुलर में कहा गया है कि अगर लगाए हुए केबलों से विद्युत निगम की बिजली के ढांचे को नुकसान पहुंचता है  कोई दुर्घटना होती है और किसी उपभोक्ताओं को कोई नुकसान पहुंचता है तो इसके जिम्मेदार केवल ऑपरेटर की होगी। 

इन इन जगहों पर तारों का ज्यादा जंजाल 
केबल ऑपरेटर द्वारा लगाए गए तारों का जंजाल सबसे ज्यादा सेक्टर 1, 2, 3, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12, 15, 19, 20, 22, हरौला, बरौला, चौड़ा सदातपुर, भंगेल, सलारपुर, मामूरा, गढ़ी चौखंडी, सोरखा, होशियारपुर, रायपुर और सफार्बाद आदि मैं है। जिसके कारण बिजली के तारों की मरम्मत के समय यह केवल काफी समस्या पैदा करते हैं। इन केबलों की वजह से खंभों पर भी ज्यादा भार बना हुआ है। जिससे दुर्घटना होने का खतरा भी बना रहता है। 

विद्युत निगम के मुख्य अभियंता वीएन सिंह ने बताया कि सभी केबल ऑपरेटर को सर्कुलर जारी कर खंबे से केवल हटाने के निर्देश दिए गए हैं। अगर 30 दिन के अंदर यह केवल नहीं हटाए गए तो निगम द्वारा इन तारों को हटा दिया जाएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.