छुट्टी के बावजूद सड़कों पर क्यों दौड़ रहे हैं नोएडा अथॉरिटी के पीजीएम राजीव त्यागी, जानिए वजह

Noida News : छुट्टी के बावजूद सड़कों पर क्यों दौड़ रहे हैं नोएडा अथॉरिटी के पीजीएम राजीव त्यागी, जानिए वजह

छुट्टी के बावजूद सड़कों पर क्यों दौड़ रहे हैं नोएडा अथॉरिटी के पीजीएम राजीव त्यागी, जानिए वजह

Tricity Today | रविवार की सुबह निर्माणाधीन कोंडली अंडरपास का जायजा लेते राजीव त्यागी।

छुट्टी के बावजूद सड़कों पर क्यों दौड़ रहे हैं नोएडा अथॉरिटी के पीजीएम राजीव त्यागी, जानिए वजह Noida News : पिछले सप्ताहों की तरह इस रविवार को भी अवकाश के बावजूद नोएडा प्राधिकरण के प्रिंसिपल जनरल मैनेजर राजीव त्यागी सड़कों पर दौड़ते नजर आए। नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर निर्माणाधीन दो अण्डरपास का दौरा किया है। कोण्डली अण्डरपास और एडवान्ट अण्डरपास के स्थल का भ्रमण किया है। मौके पर जाकर चल रहे कार्यों का निरीक्षण किया गया। नोएडा क्षेत्र में विकास कार्यों को गति देने के लिए यह एक्सरसाइज की जा रही है। दरअसल, उत्तर प्रदेश सरकार के 100 दिनों और छह माह में पूर्ण होने वाले प्रोजेक्ट पर राजीव त्यागी का जोर है। दूसरी ओर अंडरपास निर्माण से एक्सप्रेसवे पर ट्रैफिक जाम लग रहा है। जिससे शहर के लोग परेशान हैं। राजीव त्यागी ने कहा, "निर्धारित वक्त से पहले परियोजनाओं को पूरा कर लेंगे। नोएडा अथॉरिटी की ट्रैफिक सेल नोएडा ट्रैफिक पुलिस से समन्वय स्थापित कर रही है। एक्सप्रेसवे पर लगने वाले ट्रैफिक जाम से निजात दिलाई जाएगी।"

राजीव त्यागी रविवार की सुबह फिर कार्य स्थलों पर पहुंचे। पहले एक्सप्रेस-वे के एडवान्ट और फिर कोण्डली अण्डरपास का भ्रमण किया। राजीव त्यागी ने बताया कि निरीक्षण के दौरान वर्क सर्किल के वरिष्ठ प्रबन्धक केवी सिंह अपने अधीनस्थ स्टाफ प्रबन्धकों और सहायक प्रबन्धकों के साथ उपस्थित रहे। साथ ही परियोजना के संविदाकार और परामर्षदाता भी कार्य स्थल पर उपस्थित थे। एक्सप्रेस-वे के चैनेज 10.30 किमी पर एडवान्ट टावर के समीप निर्माणाधीन अण्डर के निरीक्षण में पता चला कि कुल कार्य का 82 प्रतिषत पूर्ण हो चुका है। जिसको 31 जुलाई 2022 तक पूर्ण करने का लक्ष्य है। 

राजीव त्यागी ने बताया कि बैरल नबंर-1 का बॉक्स पुशिंग कार्य    दो मीटर बाकी है। बैरल नम्बर दो का बॉक्स पुशिंग का कार्य    44 मीटर अवषेष है। रैम्प वाले भाग में मिट्टी को हटाने का कार्य प्रगतिरत है। मिट्टी हटने के उपरान्त पुनः बॉक्स पुशिंग का कार्य प्रारम्भ किया जायेगा। जिसके लिए मशीन लगाईजा रही है। दोनों ओर एप्रोचरोड और रैम्प का 85 प्रतिशत कार्य पूर्ण कर लिया गया है। राजीव त्यागी ने कहा कि संविदाकार को आदेश दिया गया है कि शीघ्र मिट्टी को हटवाकर बॉक्स पुशिंग प्रारम्भ कराया जाए। कार्य स्थल पर पर्याप्त संख्या  में मैनपावर लगाया जाए।
 
राजीव त्यागी ने कहा कि यह अंडरपास बन जाएगा तो सेक्टर-135, 136, 137, 141, 142, 167 और 168 के निवासियों के साथ-साथ इस क्षेत्र के गांवों गढी शहदरा, वाजीदपुर, मंगरौली, छपरौली के ग्राम वासियों को भी आवागमन में काफी सुविधा होगी। एक्सप्रेस-वे के दोनों तरफ स्थित सेक्टरों को बेहतर कनेक्टिविटी मिलेगी। अण्डरपास की लम्बाई 630 मीटर है। यह 4 लेन का होगा। जिसे बनाने पर 4.87 करोड़ रुपये अथॉरिटी खर्च कर रही है।

इसके बाद राजीव त्यागी ने ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे के चैनेज 19.40 पर ग्राम कोण्डली के समीप निर्माणाधीन अण्डरपास के बारे में जानकारी हासिल की। राजीव त्यागी ने बताया कि परियोजना का 90 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। बैरल नम्बर एक में  बॉक्स पुशिंग का कार्य    पूर्ण कर लिया गया है। दोनों ओर एप्रोच रोड और रैम्प 90 प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है। परियोजना के संविदाकार को आदेश दिया गया है मैन पावर तैनात करके अच्छी प्लानिंग के साथ कार्य गुणवत्तापूर्ण करें। यह अंडरपास 30 जून तक पूरा बनाना है। यह 44.90 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जा रहा है। यह 785 मीटर और 4 लेन का है।

आपको बता दें कि कोण्डली अण्डरपास के निर्माण से सेक्टर-150, 149, 148, 153, 151 और 152 के निवासियों के साथ-साथ इस क्षेत्र ग्रामों कोण्डली, गढी समस्तीपुर, मोमनाथल और शफीपुर के ग्राम वासियों को लाभ मिलेगा। यहां प्रस्तावित 75 मीटर चौड़ी सड़क पर आवागमन में काफी सुविधा प्राप्त होगी। वर्क सर्किल-10 के वरिष्ठ प्रबन्धक को आदेश दिया गया है कि नोएडा अथॉरिटी के ट्रैफिक सेल से समन्वय किया जाए, ताकि वे यातायात पुलिस से सम्पर्क करके एक्सप्रेस-वे पर ट्रैफिक का सुचारू रूप से डायवर्जन और संचालन कर सकें। जिससे निर्माणाधीन परियोजनाओं के कारण एक्सप्रेस-वे पर यातायात बाधित न हो और जनमानस को असुविधा का सामना न करना पड़े।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.