प्रयागराज : कोरोना की गति पड़ी सुस्त, 12 की मौत और 863 नए मामले, उपचार के बाद 1597 मरीज हुए ठीक

कोरोना की गति पड़ी सुस्त, 12 की मौत और 863 नए मामले, उपचार के बाद 1597 मरीज हुए ठीक

Google Image | Covid-19

प्रयागराज कोरोना महामारी की दूसरी लहर के फैलाव की गति अब धीमी पड़ रही है। वहीं कई दिनों से मौत का तांडव कर रही महामारी सोमवार को सुस्त पड़ गई। इससे एक दिन में और 12 लोगों ने जान गंवाई है। कोरोना संक्रमण से 863 नए लोग पॉजिटिव मिले हैं। डॉक्टरों ने लोगों से पूरी सतर्कता और सावधानी बरतने की अपील की है। कोविड के अलग-अलग अस्पतालों और होम आइसोलेशन में रहने वाले लोगों में 1597 को उपचार के बाद स्वस्थ्य होने पर छुट्टी दी गई।

कोरोना वायरस के नये संक्रमित लोगों में शिक्षक, बैंक कर्मी, रेलवेकर्मी, अधिवक्ता, पुलिस और स्वास्थ्य कर्मी शामिल है। कोरोना संक्रमण से लोग तेजी से स्वस्थ भी हो रहे हैं सोमवार को कोविड के हॉस्पिटलों और होम आइसोलेशन से 1597 लोगों को  डिस्चार्ज किया गया। इसमें सभी कोविड-19 हॉस्पिटलों से 61 लोगों को और होम आइसोलेशन रह रहे लोगों में 1536 को स्वस्थ होने पर छुट्टी दी गई। जिले में निर्धारित केंद्रों और सचल दस्तों द्वारा एकत्र 11770 लोगों के नमूने जांच के लिए गए हैं। शहर में स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल और तेज बहादुर सप्रू बेली हॉस्पिटल में कुछ राहत है यहां अब जरूरतमंद लोगों को बेड मिलना आसान हो रहा है।

कोविड-19 नोडल अधिकारी डॉ ऋषि सहाय ने कहा कि कोरोना के नए मामले कम आने या मृत्यु की दर कम होने का मतलब यह नहीं है कि लोग सतर्कता और सावधानी बरतना छोड़ दें, बल्कि कोरोना से वचाव के लिए अब और भी बड़ी चुनौती है कि लोगों को गाइडलाइन का पालन शत प्रतिशत करना होगा। जिससे वायरस के बढ़ते कदम को रोकने में मदद मिलेगी। कोरोना वायरस से अब तक 52701 लोग घर में रहकर संक्रमण से पूरी तरह ठीक होकर बाहर आये हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.