विश्व हिंदू परिषद गौरक्षा समिति की महत्वपूर्ण बैठक हुई, अध्यक्ष बोले- 'गाय-गंगा और गांव से बचेगा भारत'

प्रयागराज: विश्व हिंदू परिषद गौरक्षा समिति की महत्वपूर्ण बैठक हुई, अध्यक्ष बोले- 'गाय-गंगा और गांव से बचेगा भारत'

विश्व हिंदू परिषद गौरक्षा समिति की महत्वपूर्ण बैठक हुई, अध्यक्ष बोले- 'गाय-गंगा और गांव से बचेगा भारत'

Tricity Today | विश्व हिंदू परिषद गौरक्षा समिति की महत्वपूर्ण बैठक हुई

विश्व हिंदू परिषद गौरक्षा समिति की महत्वपूर्ण बैठक हुई, अध्यक्ष बोले- 'गाय-गंगा और गांव से बचेगा भारत' Prayagraj News: विश्व हिंदू परिषद गौरक्षा विभाग काशी प्रांत के प्रमुख पदाधिकारियों की बैठक शंकराचार्य आश्रम एलोपीबाग में हुई। विहिप के केंद्रीय मंत्री व गौरक्षा विभाग के राष्ट्रीय संगठन मंत्री खेमचंद शर्मा ने कहा कि हिंदुओं की आस्था के केंद्र बिंदु में गौमाता है। गाय गंगा और गांव की रक्षा से ही भारतीय संस्कृति की रक्षा संभव है। संगठन द्वारा गांव-गांव में गौरक्षा समितियों का निर्माण व कार्यकर्ताओं तथा किसानों का प्रशिक्षण कर हर दरवाजे पर गौमाता को पहुंचाने का लक्ष्य लिया है। इसके लिए गौरक्षकों की भर्ती की जाएगी।

भारतीय गौवंश रक्षण एवं संवर्धन परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुरु प्रसाद सिंह ने कहा कि भारत को बचाना है तो गाय गंगा और गांव को बचाना होगा। आज कीटनाशक के माध्यम से जहां खेतों की उर्वराशक्ति समाप्त हो रही है और देश का नागरिक कैंसर जैसी बीमारी से जूझ रहा है। हमारा उद्देश्य कृषि के माध्यम से किसानों को आत्मनिर्भर बनाकर गांव में उद्योग विकसित करना है। विहिप गौरक्षा के केंद्रीय मंत्री वासुदेव पटेल ने कहा कि गाय और गांव न बचा तो गीता व गंगा भी नहीं बचेगी। गौरक्षा विभाग के माध्यम से गांव गांव किसानों का सम्मेलन कर उन्हें प्रशिक्षित कर जैविक कृषि के माध्यम से स्वावलंबी बनाने का कार्य किया जाएगा।


विश्व हिंदू परिषद गौरक्षा विभाग के प्रांत अध्यक्ष भोलानाथ मिश्र ने कहा कि गो आधारित खेती से ही देश खुशहाल बनाया जा सकता है। जिसके लिए गोकृपा अमृतम का निर्माण गौरक्षा विभाग द्वारा किया गया है और उसका लाभ भी किसानों को मिल रहा है। गो कृपा अमृतम से किसान का मित्र केंचुआ खेतों में आता है जिससे खेत की उर्वरा शक्ति बढ़ती है।

विहिप के गौरक्षा प्रांतमंत्री लालमन तिवारी ने कहा कि आज प्रत्येक नागरिक को गौमाता की रक्षा का संकल्प लेकर आगे आना होगा। संगठन के कार्यकर्ताओं को ऐसे गो आश्रय केंद्रों पर भी नजर रखनी होगी जिससे गौ माता की रक्षा हो सके। बैठक में मुख्य रूप से महेश तिवारी, शिव कुमार झा, विजय शंकर चतुर्वेदी, विष्णु श्रीवास्तव, अवधेश राय, नागेश्वर तिवारी, वीरेंद्र जायसवाल, जितेंद्र और सुधीर केसरवानी आदि ने संबोधित किया।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.