रसोइए CBI के रडार पर, महंत की मौत के बाद दो दिन तक मठ से था लापता

महंत नरेंद्र गिरि मर्डर मिस्ट्री : रसोइए CBI के रडार पर, महंत की मौत के बाद दो दिन तक मठ से था लापता

रसोइए CBI के रडार पर, महंत की मौत के बाद दो दिन तक मठ से था लापता

Google Image | करीबियों में शिष्यों के अलावा एक संत भी शामिल

रसोइए CBI के रडार पर, महंत की मौत के बाद दो दिन तक मठ से था लापता Prayagraj : अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्‍यक्ष और श्री मठ बाघम्बरी गद्दी के महंत नरेंद्र गिरि की मृत्यु के मामले में उनके कुछ करीबियों से एक बार फिर पूछताछ की गई। इन करीबियों में शिष्यों के अलावा एक संत भी शामिल थे। लगभग दो घंटे तक सीबीआई अफसरों ने इनसे उस जानकारी के संबंध में पूछताछ की जो उनकी ओर से घटना के बाद पुलिस को दी गई थी। महंत की मौत के बाद दो दिन मठ से गायब रहे रसोइए भी सीबीआइ के रडार पर आ गए हैं। बताया जा रहा है कि शिष्यों सेवादारों और विद्यार्थियों से पूछताछ के दौरान सीबीआइ टीम को इसकी जानकारी हुई है।

महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में श्री मठ बाघम्बरी गद्दी के कुछ सेवादारों ने दोनों रसोइयों के बारे में यह कहा कि महंत की मृत्यु से दुःखी होकर वह मठ से अलग एकांत में चले गए थे। जबकि कुछ ने बताया है कि काफी खोजबीन के बाद भी उनका पता नहीं चल रहा था। ऐसे में अब उनकी लोकेशन ट्रेस करने के साथ ही मठ से जाने और फिर वापस लौटने के कारण की खोज करेगी। उनके मठ से दूरी बनाने के संबंध में अब पूछताछ की जा सकती है। 

हालांकि मठ से जुड़े कुछ लोगों का कहना है कि सीबीआइ टीम जब मठ में छानबीन कर रही थी, तो उनसे भी सवाल हुआ था। मगर अब उनके बारे में कुछ नई जानकारी मिली है। जिसके आधार पर फिर पूछताछ होगी। महंत नरेंद्र गिरि की मृत्यु से जुड़े सभी तथ्यों की पुष्टि सीबीआइ करने का प्रयास कर रही है। टीम ने एक बार फिर मुकदमा वादी अमर गिरि और सेवादार धनंजय बबलू और सुमित को बुलाया है। सभी चारों लोग पुलिस लाइन स्थित गेस्ट हाउस पहुंचे जहां उनसे काफी देर तक पूंछताछ हुई। 

सूत्रों का कहना है कि टीम ने पहले सेवादारों से सवाल किया उसके बाद अमर गिरि से पूंछताछ की। उनके बयानों को दर्ज करते यह पूछा गया कि किसने पुलिस को यह बताया था कि महंत का दरवाजा तोड़ा गया और किसने यह कहा था कि दरवाजा धकेला गया था। उनके जवाब के आधार पर अमर गिरि से यह पूछा गया कि उन्हें किसने बताया और क्या जानकारी दी थी। बताया जा रहा है कि सीबीआइ टीम इनकी पूरी पृष्ठभूमि के साथ घटना के वक्त उनकी मौजूदगी समेत अन्य जानकारी ली।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.