Quarantine ward

BIG BREAKING: गाजियाबाद के मसूरी गांव में 7 जमाती कोरोना से संक्रमित मिले
गाजियाबाद

BIG BREAKING: गाजियाबाद के मसूरी गांव में 7 जमाती कोरोना से संक्रमित मिले

गाजियाबाद से बड़ी खबर सामने आ रही है। गाजियाबाद के मसूरी गांव में 7 लोगों को कोरोनावायरस से संक्रमित घोषित किया...

More Stories

खुशखबरी: ग्रेटर नोएडा में भर्ती कोरोना वायरस के तीन मरीज ठीक हुए, पहली जांच निगेटिव आई
खुशखबरी: ग्रेटर नोएडा में भर्ती कोरोना वायरस के तीन मरीज ठीक हुए, पहली जांच निगेटिव आई
कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों के लिए एक राहत भरी खबर आई है। एक सप्ताह से ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान में इलाज करवा रहे तीन मरीजों की पहली जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई हैं। अब इनकी एक और जांच की जाएगी। उसमें भीबगर वायरस नहीं मिला तो उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी। तीनो मरीज नोएडा के अलग अलग...
नोएडा में अब तक 225 लोगों का हुआ कोरोना टेस्ट, ये आए हैं रिजल्ट
नोएडा में अब तक 225 लोगों का हुआ कोरोना टेस्ट, ये आए हैं रिजल्ट
नोएडा में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग से लेकर जिला प्रशासन तक हाई अलर्ट पर हैं। गुरुवार को नोएडा में स्थित देश की एक बड़ी आईटी कंपनी एचसीएल टेक्‍नोलॉजीज के एक कर्मचारी में भी कोरोना वायरस की...
कोरोना वायरस: ग्रेटर नोएडा वेस्ट का पूरा परिवार सस्पेक्ट, 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन वॉर्ड भेजा गया
कोरोना वायरस: ग्रेटर नोएडा वेस्ट का पूरा परिवार सस्पेक्ट, 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन वॉर्ड भेजा गया
नोएडा के बाद कोरोना वायरस ने ग्रेटर नोएडा वेस्ट में दस्तक दी है। बुधवार की देर रात ग्रेटर नोएडा वेस्ट की हाउसिंग सोसाइटी से पूरे परिवार को क्वॉरेंटाइन वार्ड में शिफ्ट किया गया है। जानकारी मिली है कि इस परिवार में दंपति और उनका एक छोटा बच्चा अफ्रीका से वापस लौटे हैं। जिसके बाद इस परिवार ने वॉलिंटियर बेस पर खुद को क्वॉरेंटाइन वार्ड में रखने के लिए स्वास्थ्य विभाग से निवेदन किया था।
Coronavirus: जीबीयू के सारे होस्टल खाली करवाए गए, 300 बेड का एक और क्वारंटाइन वार्ड बनाया गया
Coronavirus: जीबीयू के सारे होस्टल खाली करवाए गए, 300 बेड का एक और क्वारंटाइन वार्ड बनाया गया
दिल्ली से नजदीकी होने के कारण गौतमबुद्ध नगर को कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रति हाई अलर्ट पर रखा गया है। केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार ने जिला प्रशासन को हर संभव इंतजाम करने का आदेश दिया है। डीएम बीएन सिंह ने ग्रेटर नोएडा में गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय के सभी हॉस्टल खाली करवा दिए हैं...
थाईलैंड से नोएडा आए व्यक्ति को आरडब्ल्यूए ने सेक्टर में प्रवेश नहीं दिया, कोरेंटाइन वार्ड में भर्ती होना पड़ा
थाईलैंड से नोएडा आए व्यक्ति को आरडब्ल्यूए ने सेक्टर में प्रवेश नहीं दिया, कोरेंटाइन वार्ड में भर्ती होना पड़ा
नोएडा के एक सेक्टर की आरडब्ल्यूए ने थाइलैंड के एक शख्स को प्रवेश देने से इनकार कर दिया। उसे 14 दिनों के लिए कोरेंटाइन वार्ड में भर्ती होना पड़ा है। वह मंगलवार को ही थाइलैंड से नोएडा लौटा था। जब आरडब्ल्यूए ने इस व्यक्ति को सेक्टर में आने की इजाजत नहीं दी तो वह सेक्टर-39 में स्वास्थ्य विभाग पहुंचा...
Coronavirus: जीबीयू के सारे होस्टल खाली करवाए गए, 300 बेड का एक और क्वारंटाइन वार्ड बनाया गया
Coronavirus: जीबीयू के सारे होस्टल खाली करवाए गए, 300 बेड का एक और क्वारंटाइन वार्ड बनाया गया
दिल्ली से नजदीकी होने के कारण गौतमबुद्ध नगर को कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रति हाई अलर्ट पर रखा गया है। केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार ने जिला प्रशासन को हर संभव इंतजाम करने का आदेश दिया है। डीएम बीएन सिंह ने ग्रेटर नोएडा में गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय के सभी हॉस्टल खाली करवा दिए हैं...
थाईलैंड से नोएडा आए व्यक्ति को आरडब्ल्यूए ने सेक्टर में प्रवेश नहीं दिया, कोरेंटाइन वार्ड में भर्ती होना पड़ा
थाईलैंड से नोएडा आए व्यक्ति को आरडब्ल्यूए ने सेक्टर में प्रवेश नहीं दिया, कोरेंटाइन वार्ड में भर्ती होना पड़ा
नोएडा के एक सेक्टर की आरडब्ल्यूए ने थाइलैंड के एक शख्स को प्रवेश देने से इनकार कर दिया। उसे 14 दिनों के लिए कोरेंटाइन वार्ड में भर्ती होना पड़ा है। वह मंगलवार को ही थाइलैंड से नोएडा लौटा था। जब आरडब्ल्यूए ने इस व्यक्ति को सेक्टर में आने की इजाजत नहीं दी तो वह सेक्टर-39 में स्वास्थ्य विभाग पहुंचा...
Coronavirus: नोएडा में 400 बेड का कोरेंटाइन वार्ड तैयार, इन 7 देशों से आने वालों को यहां रखा जाएगा
Coronavirus: नोएडा में 400 बेड का कोरेंटाइन वार्ड तैयार, इन 7 देशों से आने वालों को यहां रखा जाएगा
कोरोना वायरस से निपटने के लिए नोएडा के सेक्टर-39 स्थित नए जिला अस्पताल में 400 बिस्तरों का कोरेंटाइन वार्ड सोमवार से शुरू कर दिया गया है। आज रात से यहां लोगों को शिफ्ट करना भी शुरू कर दिया जाएगा। यहां उन सात देशों से वापस लौटने वाले लोगों को रखा जाएगा, जिन्हें कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देश घोषित किया गया है। 30 अप्रैल तक यह अस्थायी वार्ड के रूप में काम करेगा।