ज्योतिषः खुशखबरी लेकर आ रहा है नया साल, 4 ग्रह बदलेंगे इन राशियों की किस्मत

खुशखबरी लेकर आ रहा है नया साल,  4 ग्रह बदलेंगे इन राशियों की किस्मत

Google Image | प्रतीकात्मक तस्वीर

नया साल आम लोगों के जीवन में तमाम खुशखबरी वाला साल बनकर आ रहा है। 2021 में पूरे वर्ष 4 ग्रह लगातार कई राशियों के जातकों किस्मत बदलने वाले हैं। ज्योतिषाचार्य मानते हैं कि नया वर्ष सूर्य मंगल शनि और गुरु ग्रह की वजह से लोगों को लगातार खुशियां देते रहेंगे उन्होंने वर्ष 2021 को संकट से उबारने वाला वर्ष बताया है। हिंदी पंचांग के अनुसार नव संवत्सर से पूरे वर्ष की अगवानी चंद्रमा करेगा। मार्च और अप्रैल से लोगों को जीवन में सकारात्मक बदलाव मिलने शुरू हो जाएंगे।

ज्योतिषाचार्य और कर्मकांड विशेषज्ञ पंडित उत्तम तिवारी ने जानकारी दी कि नए वर्ष में बारी बारी से चार महत्वपूर्ण ग्रह अपना प्रभाव दिखाएंगे। यह ग्रह आम लोगों के जीवन में चल रहे संकट से भी उबारने में सहायता करेंगे। मार्च महीने से सूर्य मंगल के साथ लग्न भाव में आएगा। ग्रहों की युति के चलते अक्टूबर तक लोगों को पद पिता और प्रतिष्ठा से संबंधित लाभ हासिल होगा। इसी तरह ज्योतिषाचार्य पंडित संतोष पाधा ने जानकारी दी कि नए वर्ष में ऐसे ग्रहों का सकारात्मक प्रभाव लोगों को हासिल होगा जो अभी तक उन्हें नकारात्मक रूप से प्रभावित कर रहे थे।

इस वर्ष नववर्ष की शुरुआत ही बेहतर सकारात्मक योग से हो रही है। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार 1 जनवरी को ही सूर्य और बुद्ध ग्रह धनु राशि में, मंगल ग्रह मेष में और शनि मकर राशि में स्थापित होंगे। इसी तरह राहु और केतु वृष और वृश्चिक राशि में भ्रमण कर रहे होंगे। ग्रहों का यह सहयोग किसी भी कार्य की शुरुआत के लिए बेहतर माना जाता है। मकर संक्रांति के बाद सूर्य की बदली हुई स्थिति अक्टूबर-नवंबर तक आम लोगों को सबसे अधिक लाभ देगी।

ग्रह ऐसे देंगे लाभ : 
ज्योतिष आचार्यों का मानना है कि इस बार महत्वपूर्ण रूप से 4 ग्रह पूरे वर्ष बेहतर परिणाम देंगे। जातकों को इन चार ग्रहों से और बेहतर परिणाम लेने के लिए उपाय करने चाहिए। उपाय किए जाने से यदि ग्रहों की चाल बदलने से किसी तरह का असर पड़ता है तो उसे भी आसानी से टाला जा सकेगा।

सूर्य ग्रह का असर : 
इस वर्ष सूर्य ग्रह को मंगल ग्रह 6 महीने प्रभावित करेगा। इस दौरान कुंडली में सूर्य ग्रह से प्रभावित हो रहे जातकों को उतार-चढ़ाव देखने को मिलेंगे। बावजूद इसके सूर्य के प्रबल होने की वजह से पूरे वर्ष शुभ समाचार मिलते रहेंगे। जातक को को नौकरी या व्यापार क्षेत्र में आने वाली समस्याएं सूर्य के प्रभाव से यह वर्ष दूर करेगा। जातकों को बीते वर्ष धन संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ा है। यह वर्ष धन संचय का वर्ष इन राशियों के जातकों के लिए बनकर आ रहा है।

इन्हें मिलेगा लाभ : 
मेष राशि, मिथुन राशि, वृश्चिक राशि, सिंह राशि, मीन राशि के जातकों को सूर्य सबसे अधिक लाभ देगा। 

उपाय : 
1- बेहतर लाभ हासिल करने के लिए लाभ हासिल करने वाले राशियों के जातकों को गुड़ का सेवन करना चाहिए।
2- मकर संक्रांति के बाद पढ़ने वाले रविवार से 21 दिन तक घर के ईशान कोण में धी का दीपक जलाने से पूरा वर्ष बेहतर होगा।
3- रविवार के दिन लाल वस्तु का दान किए जाने से सूर्य प्रबल होगा और वर्षभर खुशियां लेकर आएगा।

शनि ग्रह का असर : 
शनि ग्रह इस वर्ष अपने शत्रु भाव में विराजमान है। यह स्थिति बेहतर नहीं मानी जाती है, लेकिन गुरु और मंगल ग्रह के मित्र भाव की युति बनने की वजह से जातकों को सकारात्मक परिणाम देगी। 

इन्हें मिलेगा लाभ : 
मेष, कर्क, धनु, मीन, कन्या राशि वाले जातकों को इस युति का सबसे अधिक लाभ हासिल होगा।

उपाय : 
1- मकर संक्रांति के बाद शनिवार के दिन काली वस्तु का दान करने से पूरा वर्ष बेहतर होगा।
2- शनिवार के दिन मंदिर में या घर के दक्षिणी कोने में तेल का दीपक जलाने से लाभ हासिल होगा।
3- यदि रविवार के दिन घर में नमक का पोछा लगाया जाए तो नकारात्मक ऊर्जा घर के बाहर रहेगी।

गुरु ग्रह का असर : 
गुरु ग्रह इस वर्ष आय भाव में विराजमान है। पूरे वर्ष गुरु ग्रह मंगल और राहु के साथ युति बनाकर लोगों को शुभ फल प्रदान करेंगे। लग्नेश मंगल और शुक्र के साथ विराजमान होकर जातकों को पूरे वर्ष बेहतर परिणाम देंगे।

इन राशियों को होगा लाभ : 
सिंह, मेष, धनु, मीन, कर्क राशि के जातकों को गुरु पूरे वर्ष शुभ संकेत देंगे। रुके हुए कार्य सफल होंगे और व्यापार संबंधी लाभ होगा।

उपाय : 
1- गुरुवार के दिन बेसन के लड्डू दान किए जाने से लाभ हासिल होगा।
2- गुरुवार के दिन केले के पेड़ में हल्दी की गांठ चढ़ाने से रुके हुए कार्य सफल होंगे।
3-  महत्वपूर्ण कार्य के लिए निकलने पर पीले रंग का रुमाल साथ में रखें।

 मंगल ग्रह : 
 मंगल ग्रह इस बार धन भाव के शत्रु भाव में विराजमान रहेगा। बावजूद इसके सूर्य, गुरु और शनि के प्रभाव से बेहतर परिणाम प्रदान करने वाले योग बन रहे हैं।

इन राशियों को मिलेगा लाभ : 
मेष, वृश्चिक, सिंह, कन्या, मीन राशि के जातकों को मंगल इस बार संकट हरने वाले ग्रह के रूप में साबित होगा।

उपाय : 
1- मंगलवार के दिन लाल वस्तु का दान करें।
2- घर पर हनुमान चालीसा पढ़े।
3- लाल मसूर की दाल का दान करने से संकट दूर होंगे।

राशिवार पूरे वर्ष यह होगा फायदा :
  1. मेष : मेष राशि वाले जातकों का मंगल इस वर्ष उनका हित करेगा। परिवार में खुशहाली आएगी, आय के स्रोत बढ़ेंगे। 
  2. वृष : वृष राशि के जातकों को इस बार भाई और पिता की ओर से शुभ समाचार मिलेगा। नवंबर तक पूरा वर्ष खुशहाली लाएगा।
  3. मिथुन : मिथुन राशि के जातक यदि नया काम शुरू करना चाह रहे हैं तो यह वर्ष उनके लिए सर्वोत्तम होगा सफलता मिलेगी।
  4. कर्क : कार्यक्षेत्र में सम्मान के साथ पद भी बढ़ेगा। रुपए पैसों के संकट से मुक्ति मिलेगी।
  5. सिंह : मकर संक्रांत से सूर्य की स्थिति बदलने से सिंह राशि के जातकों को खुशियां मिलनी शुरु होंगी। पूरे वर्ष प्रसन्नता रहेगी।
  6. कन्या : कन्या राशि के जातकों को नौकरी और व्यापार में इस वर्ष चमत्कारिक परिणाम हासिल होंगे।
  7. तुला : तुला राशि के जातकों को परिवार की ओर से शुभ समाचार हासिल होगा पूरे वर्ष पारिवारिक सहयोग मिलता रहेगा।
  8. वृश्चिक : वृश्चिक राशि के जातकों को धन-संपत्ति लाभ हासिल होगा। मार्च महीने के बाद चमत्कारिक परिणाम हासिल होंगे।
  9. धनु : धनु राशि के जातक अपने प्रयासों से इस वर्ष संपत्ति या वाहन खरीद सकेंगे। लोन से भी छुटकारा हासिल होगा।
  10. मकर : मकर राशि के जातक इस वर्ष संतान सुख हासिल करेंगे। संपत्ति के भी मालिक बन सकते हैं।
  11. कुंभ : कुंभ राशि के जातक लंबे समय से योजनाओं से गिरे हुए हैं। यह वर्ष कुंभ राशि के जातक की योजनाएं सफल होने का वर्ष है।
  12. मीन: मीन राशि के जातकों को जीवन साथी का साथ मिलेगा। अप्रैल महीने के बाद मनोकामनाएं पूरा होने का समय है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.