धर्म-कर्म : तमाम प्रयासों के बावजूद प्रोपर्टी नहीं खरीद पा रहे हैं तो आज से शुरू करें ये उपाय, 2 वर्ष के भीतर खूबसूरत प्रॉपर्टी के होंगे मालिक

तमाम प्रयासों के बावजूद प्रोपर्टी नहीं खरीद पा रहे हैं तो आज से शुरू करें ये उपाय, 2 वर्ष के भीतर खूबसूरत प्रॉपर्टी के होंगे मालिक

Google Image | प्रतीकात्मक फोटो

- महालक्ष्मी योग के 11 दिन होते हैं बेहद महत्वपूर्ण, प्रॉपर्टी संबंधी उपाय किए जाने को लेकर लोग करते हैं इंतजार


- ज्योतिषी उपाय के साथ तंत्र संबंधी उपाय किए जाने को लेकर शुरू कर दे तैयारी, छोटे-छोटे उपायों से होता है बड़ा लाभ

 

मकर संक्रांति के तुरंत बाद पड़े महालक्ष्मी योग का उपयोग आम लोग प्रॉपर्टी के संबंध में कर सकते हैं। विशेषज्ञों की मानें तो महालक्ष्मी योग के 11 दिन बेहद महत्वपूर्ण होते हैं। इन 11 दिन में यदि राहु काल को छोड़ दे तो शुरू किए जाने वाले उपाय 2 वर्ष के भीतर प्रॉपर्टी का मालिक बनाते हैं। ऐसे लोगों के लिए यह योग अत्यंत महत्वपूर्ण है जो तमाम प्रयासों के बावजूद किसी न किसी वजह से प्रॉपर्टी के मालिक नहीं बन पा रहे हैं।

ज्योतिषाचार्य कर्मकांड विशेषज्ञ पंडित उत्तम तिवारी ने जानकारी दी कि ग्रहों के विशेष संयोग के चलते महालक्ष्मी योग बनता है। यह योग दीपावली शिवरात्रि जन्माष्टमी और होलाष्टक के बाद मकर संक्रांति के आसपास पड़ने से बेहद महत्वपूर्ण हो जाता है। इस वर्ष मकर संक्रांति के ठीक बाद पड़े महालक्ष्मी योग में सूर्य मकर राशि में, चंद्रमा मेष राशि पर मंगल मेष राशि पर बुध मकर राशि पर बृहस्पति मकर राशि पर शुक्र धनु राशि पर शनि मकर राशि पर राहु मकर राशि पर केतु वृश्चिक राशि पर मौजूद है। ऐसी स्थिति में ज्योतिषी उपाय के साथ तंत्र शास्त्र संबंधी उपाय भी बेहद फलीभूत होते हैं। वे लोग जो प्रॉपर्टी संबंधी कार्य करते हैं या फिर वह लोग जो प्रॉपर्टी का लंबे समय से मालिक बनना चाहते हैं दोनों के लिए ही यह योग बेहद खास दिन बनकर आता है। ऐसे में यह जरूरी है की अपनी क्षमता के अनुसार तंत्र शास्त्र व ज्योतिष शास्त्र के उपाय इस योग के पड़ने के 11 दिन के भीतर जरूर करना चाहिए।

रात में होते हैं उपाय : महालक्ष्मी योग में होने वाले उपायों को रात में किया जाना उचित माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि महालक्ष्मी योग में चंद्रमा का योगदान बेहद महत्वपूर्ण होता है। ऐसे में चंद्रमा की मौजूदगी में किया जाने वाला उपाय विशेष लाभ लेकर आता है। रात में किए जाने वाले उपाय के बारे में यह भी जरूरी है कि इसकी जानकारी उपाय करने वाला व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को ना दें। तंत्र शास्त्र में मान्यता है कि यदि उपाय करने वाला व्यक्ति किसी वजह से दूसरे व्यक्ति को यह उपाय बताता है तो उसे मिलने वाला फल अत्यंत देरी से मिलता है।

यह करे उपाय : 

लोंग संबंधी उपाय : महालक्ष्मी योग 21 जनवरी को शुरू हो रहा है। इसके 11 दिन के भीतर रात में सोते समय एक धातु के जल में 5 लोंग डाल दें। लोंग और पानी वाले जल को 2 से 3 घंटे बाद घर के बाहर सफेद फूल मिलाकर किसी क्यारी में या फिर पेड़ों की जड़ों में डालने से प्रॉपर्टी संबंधी खरीदारी में आने वाली बाधा दूर होगी।

कपूर संबंधी उपाय : रात में सोने से पहले अपने सिरहाने एक कपूर रखना शुरू कर दें। यह कपूर हर रविवार की रात में घर की छत पर जला दें। कपूर को जलाते समय इस बात का खास ख्याल रखें की दूसरे दिन से नया कपूर सिरहाने तकिए के नीचे रखा जाएगा। यह प्रक्रिया दीपावली तक अपनाएंगे।

काले कपड़े संबंधी उपाय : अपने घर के प्रवेश द्वार पर एक काले कपड़े की पट्टी में दमक कपूर जो मिलाकर बांध कर रख दे। इस पोटली को अमावस्या के दिन दोपहर के समय किसी खाली मैदान के गड्ढे में दबा दें। खास ध्यान रखें कि यह प्रक्रिया महिलाओं की ओर से नहीं की जाएगी।

लोबान संबंधी उपाय : घर में मंगलवार के दिन पूजन से पहले लोबान की धूनी अनिवार्य रूप से देना चाहिए। इस धोनी के दिए जाने के बाद देसी घी का दिया जलाते हुए पूजन करें। इस प्रक्रिया को अपनाते हुए इस बात का खास ख्याल रखें की ऐसी अगरबत्ती जिसमें लकड़ी की सींक लगी हुई हो उसका इस्तेमाल बिल्कुल भी ना करें।

सरसों के दाने संबंधी उपाय : हर रविवार घर में गाय के गोबर का छोटा सा कंडा जलाएं। रात में किए जाने वाले इस उपाय में जब यह कंडा आधा जल जाए तो इस गड्ढे में 50 से 70 सरसों के दाने को डाल दें। कोशिश करें कि सरसों के दाने का यह धुआं घर के सभी कमरों में बराबर बराबर पहुंच जाए। याद रखें इस दौरान घर में धोए को घर के बाहर फेंकने वाले किसी भी संयंत्र का उपयोग ना करें।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.