अपर्णा यादव सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर पहली बार पहुंची भाजपा कार्यालय, बोली- राष्ट्रवाद के लिए चुनी बीजेपी

बड़ी खबर : अपर्णा यादव सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर पहली बार पहुंची भाजपा कार्यालय, बोली- राष्ट्रवाद के लिए चुनी बीजेपी

अपर्णा यादव सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर पहली बार पहुंची भाजपा कार्यालय, बोली- राष्ट्रवाद के लिए चुनी बीजेपी

Tricity Today | Aparna Yadav

अपर्णा यादव सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर पहली बार पहुंची भाजपा कार्यालय, बोली- राष्ट्रवाद के लिए चुनी बीजेपी Lucknow News : अपर्णा यादव भाजपा में शामिल होने के बाद रविवार को पहली बार लखनऊ स्थित बीजेपी कार्यालय पहुंची। वहां पहुंचकर उन्होंने अनुराग ठाकुर और अन्य भाजपा नेताओं के साथ नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान भाजपा कार्यालय पर लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया ने मुलायाम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव, रायबरेली सदर विधायक अदिति सिंह, कांग्रेस की पोस्टर गर्ल रही प्रियंका मौर्य का स्वागत और अभिनंदन किया। इस दौरान अपर्णा ने कहा कि हमें अगर राष्ट्र को बचाना है तो 2022 में एक बार पुनः पूरे दमखम के साथ भाजपा की सरकार बनानी पड़ेगी। साथ ही उन्होंने सीएम योगी की जमकर तारीफ भी की हैं। 

राष्ट्रवाद के लिए भाजपा में शामिल हुई
अपर्णा यादव ने कहा कि मैंने बीजेपी को राष्ट्रवाद की वजह से चुना है। विचार आगे चलता है और उसके पीछे मनुष्य चलता है। मेरा मानना है कि मनुष्य नश्वर है लेकिन विचार कभी मरता नहीं है। शंकराचार्य जी से पूछा गया कि जब मन में बहुत द्वंद हो, ऐसा समय आ जाए मन स्थिर ना हो तो समाज को क्या दिशा दे सकता है? तब उन्होंने कहा कि विचार औषधि है। बीजेपी वो पार्टी है जिसने देश को बचाया है। मैं एक नए भारत के निर्माण के लिए पीएम मोदी के साथ बढ़ना चाहती हूं। मुझे इस नए भारत में सीएम योगी के साथ रंग भरने का अवसर मिले।

बुधवार को बीजेपी में शामिल हुई थी अपर्णा
वहीं 2017 में योगी सरकार बनने के बाद भी अपर्णा ने कई बार सीएम योगी से मुलाकात की। बता दें कि बीते बुधवार को सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव भाजपा में शामिल हुई। इनके शामिल होने के बाद से ही लखनऊ की सदर सीट की चर्चा तेज हो गयी है। माना जा रहा है अपर्णा कैंट सीट से चुनाव लड़ेंगी। बता दें कि 2017 में इन्होंने सपा के टिकट पर यहां से चुनाव लड़ी थी। हालांकि, तब इनको हार का सामना करना पड़ा था।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.