जयंत चौधरी ने पूछा, 'बाबा बता दें कब और कहां गिरफ्तारी देनी है', 5000 लोगों पर दर्ज हुई एफआईआर

Kisan Mahapanchayat: जयंत चौधरी ने पूछा, 'बाबा बता दें कब और कहां गिरफ्तारी देनी है', 5000 लोगों पर दर्ज हुई एफआईआर

जयंत चौधरी ने पूछा, 'बाबा बता दें कब और कहां गिरफ्तारी देनी है', 5000 लोगों पर दर्ज हुई एफआईआर

Google Image | जयंत चौधरी सहित 5 हजार लोगों पर मामला दर्ज

जयंत चौधरी ने पूछा, 'बाबा बता दें कब और कहां गिरफ्तारी देनी है', 5000 लोगों पर दर्ज हुई एफआईआर उत्तर प्रदेश की अलीगढ़ पुलिस ने महामारी रोग अधिनियम के तहत कोविड-19 दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने के आरोप में आरएलडी नेता जयंत चौधरी और 5 हजार से ज्यादा अन्य लोगों पर मामला दर्ज किया है। ये सभी दो दिन पहले अलीगढ़ जिले में आयोजित एक किसान महापंचायत में शामिल हुए थे। प्राथमिकी मंगलवार को रात करीब 9:30 बजे दर्ज की गई। इसमें चौधरी और अन्य 22 व्यक्तियों का नाम दर्ज है। बाकी सभी लोग अज्ञात हैं। 

दरअसल राष्ट्रीय लोकदल जयंत चौधरी की अगुवाई में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसानों को एकजुट करने की लगातार कोशिशें कर रही है। इस सिलसिले में अलग-अलग जिलों में किसान महासम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इनमें हजारों की संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। गत मंगलवार को चौधरी का एक कार्यक्रम अलीगढ़ में आयोजित हुआ था। 

प्राथमिकी में कहा गया है, "तीन नए केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में आयोजित किसानों के महापंचायत में 5-6 हजार लोग शामिल हुए थे। चौधरी राजवीर सिंह की अध्यक्षता में हुए इस आयोजन में आरएलडी नेता जयंत चौधरी भी शामिल हुए। उन्होंने बीकेयू नेता राकेश टिकैत का समर्थन किया।"  इस कार्यक्रम का आयोजन कोविड-19 महामारी के दौरान किया गया। इसमें लोग फेस मॉस्क नहीं पहने हुए थे। न ही सामाजिक दूरी के नियमों का पालन किया गया। इस आयोजन से सीआरपीसी की धारा-144 के तहत निषेधाज्ञा का उल्लंघन हुआ है।"
    
जयंत ने दी प्रतिक्रिया
गुरुवार की सुबह चौधरी ने करीब 5 हजार लोगों पर दर्ज हुई प्राथमिकी के बारे में प्रतिक्रिया दी। उन्होंने एक समाचार रिपोर्ट को साझा करते हुए ट्विटर पर लिखा, "बाबा बता दें कब और कहां गिरफ़्तारी देनी है!” इन सभी के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा-188, 269, 270 और महामारी रोग अधिनियम की धारा-3 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.